हर्बल टी रेसिपी | घर का बना हर्बल चाय | हर्बल चाय के फायदे | घर पर काढ़ा बनाने की विधि - Fresh Herbal Tea, Tulsi, Mint and Ginger Drink for The Common Cold
द्वारा

हर्बल टी रेसिपी | घर का बना हर्बल चाय | हर्बल चाय के फायदे | घर पर काढ़ा बनाने की विधि in Hindi

This recipe has been viewed 6380 times




हर्बल टी रेसिपी | घर का बना हर्बल चाय | हर्बल चाय के फायदे | घर पर काढ़ा बनाने की विधि | अदरक तुलसी की चाय -सर्दी के लिए | homemade herbal tea in hindi.

भारतीय हर्बल चाय अनेकों स्वास्थ्य लाभ के साथ एक प्राकृतिक पेय है। साथ में, बुखार, सर्दी और खांसी से तंग शरीर को फिर से जीवंत करने के लिए आदर्श सामग्री का एक संग्रह है। जानिए घर पर काढ़ा बनाने की विधि

यह ताजा हर्बल चाय हर्ब से भरपुर और शहद के स्वाद से भरा गरमा गरम पेय बूखार आने पर आपको तरो-ताज़ा महसुस करवाने के लिए पर्याप्त है। जड़ी-बूटियों की रानी तुलसी, चबाने पर सबसे अच्छी होती है। हालाँकि, आप इसका सेवन पानी में उबाल कर भी कर सकते हैं जैसा कि इस चाय में किया जाता है। फाइटोन्यूट्रिएंट्स यूजेनॉल और सिनेोल एंटी-इंफ्लेमेटरी एजेंट के रूप में काम करके अपना जादू चलाते हैं।

अदरक तुलसी की चाय -सर्दी के लिए गले के लिए काफी सुखदायक है। जहाँ तुलसी और अदरक के गुण खाँसी और संस्वीकरण को आराम प्रदान करने के लिए माने जाते हैं, बहुत कम लोगो को यह ज्ञात है कि पुदिना में प्रस्तुत विटामीन सी भी सर्दी-ज़ूखाम से आराम प्रदान करने के लिए जाना जाता है।

घर का बना हर्बल चाय बनाने के लिए, तुलसी, पुदिना और अदरक को मिक्सर में मिलाकर, बहुत ही कम पानी का, मिक्सर मे डालकर प्रयोग कर दरदरा पीस लें। इस पेस्ट को एक नॉन-स्टिक सॉस-पॅन में निकालें, ११/२ कप पानी डालकर अच्छी तरह मिला लें और ५ से ७ मिनट तक, बीच-बीच में हिलाते हुए उबाल लें। मिश्रण को छन्नी से छान लें और शहद डालकर अच्छी तरह मिला लें। तुरंत परोसें।

इसके अलावा, गिंजरोल अदरक में मुख्य जैव सक्रिय यौगिक पदार्थ है जो प्रतिरक्षा बढ़ाने वाली चाय में उपयोग किया जाता है जो इसके औषधीय गुणों के लिए जिम्मेदार है। इस में पावरफुल प्रज्वलनरोधी और एंटीऑक्सिडेंट प्रभाव होते हैं। यह स्वस्थ भारतीय गर्म पेय विभिन्न बीमारियों के खिलाफ आपकी प्रतिरक्षा बनाने के लिए सबसे अच्छा घरेलू उपचार में से एक है।

आप दिन में २ से ३ बार इस घर पर बने काढ़ा पर घूंट ले सकते हैं। हमने इसमें शहद मिलाया है क्योंकि शहद में एंटी-माइक्रोबियल लाभ भी होते हैं जो बैक्टीरिया को दूर करने में मदद करता है। आप चाहें तो अपनी पसंद के अनुसार शहद की मात्रा को समायोजित कर सकते हैं।

होममेड हर्बल चाय के लिए टिप्स। 1. सामग्री को एक दरदरा पेस्ट में मिलाएं ताकि वे पानी में अच्छी तरह से उबल सकें और उनके लाभकारी यौगिकों को मुक्त कर सकें। 2. कढ़ा गर्म या उष्ण परोसें, लेकिन ठंडा नहीं।

आनंद लें हर्बल टी रेसिपी | घर का बना हर्बल चाय | हर्बल चाय के फायदे | घर पर काढ़ा बनाने की विधि | अदरक तुलसी की चाय -सर्दी के लिए | homemade herbal tea in hindi | नीचे दिए गए स्टेप बाय स्टेप फ़ोटो और वीडियो के साथ।

हर्बल टी रेसिपी | घर का बना हर्बल चाय | हर्बल चाय के फायदे | घर पर काढ़ा बनाने की विधि - Fresh Herbal Tea, Tulsi, Mint and Ginger Drink for The Common Cold recipe in Hindi

तैयारी का समय:    पकाने का समय:    कुल समय :     २ कप के लिये
मुझे दिखाओ कप

सामग्री

ताजा हर्बल चाय के लिए सामग्री
१/२ कप तुलसी के पत्ते
१/४ कप पुदिना के पत्ते
१ टेबल-स्पून कटा हुआ अदरक
२ टेबल-स्पून शहद
विधि
    Method
  1. तुलसी, पुदिना और अदरक को मिक्सर में मिलाकर, बहुत ही कम पानी का, मिक्सर मे डालकर प्रयोग कर दरदरा पीस लें।
  2. इस पेस्ट को एक नॉन-स्टिक सॉस-पॅन में निकालें, 11/2 कप पानी डालकर अच्छी तरह मिला लें और 5-7 मिनट तक, बीच-बीच में हिलाते हुए उबाल लें।
  3. मिश्रण को छन्नी से छान लें और शहद डालकर अच्छी तरह मिला लें।
  4. तुरंत परोसें।
पोषक मूल्य प्रति cup
ऊर्जा61 कैलरी
प्रोटीन0.1 ग्राम
कार्बोहाइड्रेट16.5 ग्राम
फाइबर0.1 ग्राम
वसा0 ग्राम
कोलेस्ट्रॉल0 मिलीग्राम
सोडियम0.8 मिलीग्राम


Reviews