लहसुन का अचार - Garlic Pickle ( Achaar Recipe )
द्वारा


Garlic Pickle ( Achaar Recipe ) In hindi

This recipe has been viewed 11528 times
5/5 stars  100% LIKED IT   
2 REVIEWS ALL GOOD




लहसुन को अक्सर चटनी और अचार में छोटी मात्रा में ज़ोडा जाता है, पर इस तीखे-मीठे अचार में यह एक मुख्य सामग्री के रूप में नज़र आता है। इस अचार को मिठापन गुड़ से मिलता है। लहसुन की कलियों को इस नुस्खे में बताए अनुसार पकाया जा सकता है या फिर उन्हें धूप में पकने तक सूखाया जा सकता है।

अपनी उगंलियों को फिका पड़ने से रोकने के लिए और लहसुन की गंध हाथों में न रह जाए उसके लिए लहसुन छिलने से पहले अपने हाथों पर तेल लगा लें। दूसरी बात यह है कि लहसुन की कलियों को गर्म पानी में भिगोकर रखने से छिलने में आसानी होती है। यह अचार बनाने के 1 सप्ताह बाद परोसने के लिए तैयार होता है और लगभग 3 महिनों के लिए ताज़ा रहता है।

मैने इस अचार की छोटी मात्रा बनाई है, पर आप चाहें तो अधिक मात्रा बनाकर इसका संग्रह कर सकते हैं। बस, ध्यान रहे कि कमरे के तापमान पर एक सूखी और ठंडी जगह पर इसका संग्रह करें।

Garlic Pickle ( Achaar Recipe ) recipe - How to make Garlic Pickle ( Achaar Recipe ) in hindi

तैयारी का समय:    पकाने का समय:    परिपक्व का समय:  १ सप्ताह   कुल समय :     ०.५ कप के लिये
मुझे दिखाओ कप

सामग्री
१/२ कप लहसुन की कलिय़ाँ , छीली हुई
३ टेबल-स्पून सरसों का तेल
१/४ टी-स्पून हल्दी पाउडर
२ टेबल-स्पून नींबू का रस
१ टेबल-स्पून लाल मिर्च का पाउडर
१ टी-स्पून बारीक कटा हुआ गुड़
१/२ टी-स्पून नमक

पीसकर मसाला बनाने के लिए
१ टी-स्पून सरसों के बीज
१/४ टी-स्पून मेथी के दानें
१/४ टी-स्पून ज़ीरा
१/४ टी-स्पून क्रश्ड खड़ा धनिया
१/४ टी-स्पून हींग
विधि
    Method
  1. एक नॉन-स्टिक कढ़ाई में तेल गरम कीजिए और उसमें लहसुन की कलियाँ और हल्दी पाउडर डालकर उसे धीमी आँच पर 3 से 4 मिनट के लिए नरम होने तक लगातार हिलाते हुए भून लीजिए।
  2. उसमें नींबू का रस डालकर धीमी आँच पर 2 से 3 मिनट के लिए बीच-बीच में हिलाते हुए पका लीजिए।
  3. उसमें लाल मिर्च का पाउडर, गुड़ और नमक डालकर धीमी आँच पर 2 से 3 मिनट तक या गुड़ के पिघल जाने तक बीच-बीच में हिलाते हुए पका लीजिए।
  4. उसमें मसाला पाउडर डालकर अच्छी तरह से मिला लीजिए और 1 मिनट के लिए पका लीजिए।
  5. आँच से उतार कर ठंडा करके काँच के ग्लास जार में भरकर रख दीजिए।
  6. इसका संग्रह कमरे के तापमान पर एक सूखी और ठंडी जगह पर करें। यह अचार 1 सप्ताह के बाद परोसने के लिए तैयार होगा।


Reviews