मूंग दाल की खिचड़ी | गुजराती मूंग दाल की खिचड़ी | पीले मूंग दाल की खिचड़ी | मूंग दाल और चावल की खिचड़ी | - Moong Dal Khichdi, Gujarati Recipe
द्वारा

Moong Dal Khichdi, Gujarati Recipe In hindi

This recipe has been viewed 21318 times
5/5 stars  100% LIKED IT   
1 REVIEW ALL GOOD




मूंग दाल की खिचड़ी | गुजराती मूंग दाल की खिचड़ी | पीले मूंग दाल की खिचड़ी | मूंग दाल और चावल की खिचड़ी | moong dal khichdi recipe in hindi language | with 8 amazing images.

पीली मूंग दाल और चावल को पिपरकॉर्न के साथ पकाया जाता है और घी के साथ पकाया जाता है | मूंग दाल की खिचड़ी एक हल्की और सेहतमंद भोजन है, जो कि समृद्ध बनावट के बावजूद घी और दाल इसे प्रदान करती है।

आराम प्रदान करने वाला, मूंग दाल खिचड़ी एक बेहद मशहुर व्यंजन है। यह आपको ज़रुर आराम प्रदान करेगा और आपका मुड़ अच्छा ना होने पर भी आपको अच्छा महसुस करने में मदद करेगा, खासतौर पर जब आपको बुखार हो या आपको पेट में दर्द हो!

कुछ महत्वपूर्ण बाते जो मैं आपके साथ गुजराती मूंग दाल की खिचड़ी पर साझा करना चाहता हूँ। 1. प्रेशर कुकर लें और उसमें दाल डालें। हमने मूंग दाल का इस्तेमाल किया है, लेकिन बहुत से लोग तोर दाल, हरी मूंग दाल या मसूर दाल का एक संयोजन का उपयोग करते हैं | 2. पौष्टिक मूल्य बढ़ाने के लिए, आप खिचड़ी में मटर, गाजर, बीन्स, प्याज जैसी सब्जियों को शामिल कर सकते हैं। 3. प्रेशर कुकिंग के दौरान थोड़ा अतिरिक्त पानी डालकर मूंग दाल और चावल की खिचड़ी को थोड़ा नरम बनाना सबसे अच्छा है। 4. जब पीले मूंग दाल की खिचड़ी पक रही है तो तेज आंच पर न पकाएं क्योंकि खिचड़ी प्रेशर कुकर के तल में अटक जाएगी और एक जले हुए स्वाद को दे देगी। इसलिए मध्यम आंच पर पकाएं। 5. आप पीले मूंग दाल की खिचड़ी स्वस्थ बनाने के लिए चावल को इस रेसिपी में टूटे हुए गेहूं (लापसी या डालिया) से बदल सकते हैं।

कालीमिर्च और घी के स्वाद से भरपुर, पका हुआ दाल और चावल एक हल्का और पौष्टिक आहार बनाता है, बजाय इसके की घी और दाल इसे गाढ़ा बनाते हैं। बहुत से गुनजराती घरों में, शुक्रवार को खिचडी़ बनाई जाती है।

Moong Dal Khichdi, Gujarati Recipe recipe - How to make Moong Dal Khichdi, Gujarati Recipe in hindi

तैयारी का समय:    पकाने का समय:    कुल समय :     ४ मात्रा के लिये
मुझे दिखाओ मात्रा

सामग्री

मूंग दाल खिचड़ी के लिए सामग्री
१ कप पीली मूंग दाल
१ कप चावल
१/२ टी-स्पून हल्दी पाउडर
१० कालीमिर्च
नमक स्वादअनुसार
२ १/२ टेबल-स्पून घी

परोसने के लिए
कढ़ी
पापड़
विधि
मूंग दाल खिचड़ी के लिए विधि

    मूंग दाल खिचड़ी के लिए विधि
  1. दाल और चावल को मिलाकर अच्छी तरह धोकर, पर्याप्त मात्रा के पानी में कम से कम 30 मिनट के लिए भिगो दें। छानकर एक तरफ रख दें।
  2. दाल और चावल को हल्दी पाउडर, कालीमिर्च, नमक और 41/2 कप पानी के साथ एक प्रैशर कुकर में मिला लें और 4 सिटी तक प्रैशर कुक कर लें।
  3. ढ़क्कन खोलने से पुर्व सारी भाप निकलने दें।
  4. परोसने के तुरंत पहले, घी डालकर अच्छी तरह मिला लें।
  5. कढ़ी और पापड़ के साथ गरमा गरम परोसें।

विकल्पः हरी मूँग दाल की खिचड़ी

    विकल्पः हरी मूँग दाल की खिचड़ी
  1. पीली मूंग दाल की जगह छिल्के वाली हरी मूँग दाल का प्रयोग करें और कालीमिर्च की जगह 2 लौंग और एक छोटा दालचीनी का टुकड़ा डालकर बनाऐं।
विस्तृत फोटो के साथ मूंग दाल की खिचड़ी | गुजराती मूंग दाल की खिचड़ी | पीले मूंग दाल की खिचड़ी | मूंग दाल और चावल की खिचड़ी | की रेसिपी

पीली मूंग दाल की खिचड़ी बनाने के लिए

  1. पीली मूंग दाल की खिचड़ी बनाने के लिए, दाल और चावल को एक साथ पर्याप्त पानी में धों कर कम से कम ३० मिनट के लिए भिगोएं। फिर उसे छान लें और अलग रख दें। हमने इस रेसिपी में पीली मूंग दाल और सफेद चावल का उपयोग किया है, लेकिन आप इसकी जगह हरी मूंग दाल या ब्राउन राइस का उपयोग भी कर सकते हैं।
  2. प्रेशर कुकर में दाल और चावल को डालें। वैकल्पिक रूप से, आप एक हंडि में भी खिचड़ी बना सकते हैं।
  3. हल्दी पाउडर डालें। हल्दी के कई पौष्टिक लाभ हैं। हल्दी की थोड़ी सी मात्रा भी पित्त (बाइल) के उत्पादन में मदद करती है, जो भोजन को पचाने में मदद करता है।
  4. कालीमिर्च डालें। पीली मूंग दाल खिचड़ी को अधिक सुगंधित और स्वादिष्ट बनाने के लिए आप कालीमिर्च बदले में २ लौंग और दालचीनी का एक छोटा सा टुकड़ा डाल सकते हैं।
  5. अंत में, प्रेशर कुकर में स्वादअनुसार नमक और ४ १/२ कप पानी डालें। खिचड़ी के  गाढ़ापन को  ठीक किया जा सकता है। आप को खिचड़ी अधिक पतली चाहीए तो पानी की मात्रा बढ़ा सकते हैं या यदि आप को मूंग दाल खिचड़ी पुलाव जैसी चाहीए तो आप केवल २ - २ १/२ कप पानी का उपयोग करें।
  6. ४ सीटी के लिए प्रेशर कुक। ढक्कन खोलने से पहले भाप को निकलने दें।
  7. परोसने से ठीक पहले, घी डालें और अच्छी तरह मिलाएं। घी मूंग दाल की खिचड़ी | गुजराती मूंग दाल की खिचड़ी | पीले मूंग दाल की खिचड़ी | मूंग दाल और चावल की खिचड़ी | moong dal khichdi recipe in hindi। का स्वाद बढ़ाता है | 
  8. मूंग दाल की खिचड़ी को कड़ी और खिचिया पापड़ के साथ परोसें। मुझे मूंग दाल खिचड़ी प्याज़, ताज़े आम का अचार और दही के साथ गरमा गरम खाना बहुत पसंद है। इसके अलावा, गुजराती लोग खिचड़ी के साथ एक बडा ग्लास मसाला छाछ का भी आनंद लेते हैं। खिचड़ी गरम होने पर सबसे अच्छी लगती है, ठंडी होने पर वह गाढ़ी बन जाती हैं।


Reviews