पानी-पुरी की रेसिपी - Pani Puri, Paani Puri, Golgappa Recipe
द्वारा


Pani Puri, Paani Puri, Golgappa Recipe In hindi

This recipe has been viewed 7884 times
5/5 stars  100% LIKED IT   
1 REVIEW ALL GOOD




कुकरी सूजी की पुरी और साथ ही मिले जुले अंकुरित दानें और पुदिनेवाला पानी सभी मिलकर गर्मियों के मौसम के लिए एक उपयुक्त नाश्ता बनता है। इन्हें उत्तर भारत में 'गोलगप्पा' और पश्चिम बंगाल में 'पुचका' के नाम से जाना जाता है। आप मिले जुले दानों के बदले में रगड़े का भी उपयोग कर सकते हैं।

यूँ तो आप यह पुरी बाज़ार से भी ला सकते हैं, पर समय हो तो इन्हें घर पर बनाना जरूर आज़माएँ। बस, याद रखें कि इन्हें हवा बंध डिब्बे में भरकर रखें। आप इन्हें ओवन में धीमी आँच पर 4 से 5 मिनट के लिए पका कर तैयार कर सकते हैं।

आप इसे पार्टी में भी परोस सकते हैं। खाइए, खिलाइए और नाश्ते का आनंद लीजिए।

Pani Puri, Paani Puri, Golgappa Recipe recipe - How to make Pani Puri, Paani Puri, Golgappa Recipe in hindi

तैयारी का समय:    पकाने का समय:    कुल समय :     ४ मात्रा के लिये
मुझे दिखाओ मात्रा

सामग्री

पुरी के लिए (40 पूरी तैयार होती हैं)
१/२ कप सूजी
१/२ टेबल-स्पून मैदा
नमक , स्वादानुसार
१/४ कप ठंडी सोडा
तेल , तलने के लिए

पानी के लिए (4 कप तैयार होता है)
३ कप कटी हुई पुदिना की पत्तियाँ
२ टेबल-स्पून कटा हुआ हरा धनिया
१/२ कप इमली
१ टेबल-स्पून मोटा कटा हुआ अदरक
१ टेबल-स्पून मोटी कटी हुई हरी मिर्च
१ टी-स्पून भूना हुआ ज़ीरा पाउडर
२ टी-स्पून काला नमक
नमक , स्वादानुसार
४ टेबल-स्पून बारीक कटा हुआ गुड़ (एच्छिक)

अन्य सामग्री
१ कप खजूर इमली की चटनी
१ कप हल्के उबाले हुए मिले-जुले अंकुरित दानें
१ कप बूंदी , 10 मिनट भिगोकर छानी हुई
विधि
पुरी बनाने के लिए

    पुरी बनाने के लिए
  1. पानी पुरी की पुरी बनाने के लिए, एक गहरे बाउल में सूजी, मैदा और नमक और ठंडी सोडा का उपयोग करके थोडा सख्त आटा गूँथ लीजिए। एक मलमल के कपड़े से आटे को ढ़ककर 10 मिनट के लिए एक तरफ रख दीजिए।
  2. आटे को 4 बराबर भागों में विभाजित कर दीजिए।
  3. आटे के एक भाग को 175 मि. मी. (7") व्यास के गोल आकार में बेल लीजिए।
  4. कुकी कटर की सहायता से आटे को 7 बराबर भागों में लगभग 37 मि. मी (1 1/2") से 50 मि. मी (2") व्यास के गोल आकार में काट लीजिए।
  5. विधि क्रमांक 3 और 4 को दोहराकर कुल मिलाकर 40 पुरियाँ तैयार कर लीजिए।
  6. एक नॉन-स्टिक पॅन में तेल गरम कीजिए और उसमें कुछ पुरी डालकर झारे से दबाकर पुरी फूलकर दोनों तरफ से सूनहरे भूरे रंग की हो जाए तब तक तल लीजिए।
  7. तेल सोखने वाले कागज़ पर निकाल लीजिए और हवा बंद डिब्बें में रखिए और आवश्कता अनुसार प्रयोग कीजिए।

पानी के लिए

    पानी के लिए
  1. पानी पुरी का पानी बनाने के लिए इमली को 3/4 कप गर्म पानी में लगभग आधे घंटे के लिए भिगो दीजिए। छलनी से छानकर सारा पल्प निकाल दीजिए।
  2. इस पल्प के साथ केवल काला नमक छोडकर अन्य सभी सामग्री एक मिक्सर में डालकर लगभग 1/4 कप पानी का उपयोग करते हुए बारीक पेस्ट बना लीजिए।
  3. एक बडे बाउल में पेस्ट को पलटकर, उसमें 3 कप पानी, काला नमक और नमक डालकर अच्छी तरह से मिला लीजिए।
  4. यदि आपको पानी बहुत तीखा लगता है, तो गुड़ डालकर अच्छी तरह मिला लीजिए। गु़ड़ तेज़ और मसालेदार पानी को तीखा-मिठा बना देगा।
  5. कम से कम 2 से 3 घंटे तक ठंडा करें, ताकि सभी स्वाद बहुत अच्छी तरह से मिल जाएँ।

आगे बढाने की विधि

    आगे बढाने की विधि
  1. एक प्लेट में 10 पूरी के साथ एक बाउल में 1 कप पानी, साथ ही 1/4 कप खजूर इमली की चटनी, 1/4 कप मिले जुले अंकुरित दानें और 1/4 कप बूंदी रखकर परोसिए।

महत्वपूर्ण सुझाव

    महत्वपूर्ण सुझाव
  1. जब भी आप पुरी बना रहे हों, तब याद से आप उन्हें मलमल के कपड़े से ढ़ककर रखिए।
  2. आप मिले जुले अंकुरित दानें या बूंदी की जगह रगड़े का भी उपयोग कर सकते हैं।


Reviews