श्रीखंड रेसिपी | केसर इलायची श्रीखंड | केसर श्रीखंड | श्रीखंड बनाने की विधि | - Shrikhand, Kesar Elaichi Shrikhand
द्वारा

श्रीखंड रेसिपी | केसर इलायची श्रीखंड | केसर श्रीखंड | श्रीखंड बनाने की विधि | in Hindi

This recipe has been viewed 2286 times




श्रीखंड रेसिपी | केसर इलायची श्रीखंड | केसर श्रीखंड | श्रीखंड बनाने की विधि | Kesar Elaichi shrikhand in hindi | with 20 amazing images.

यह केवल आश्चर्यजनक है कि कैसे विनम्र दही बस कुछ सरल चरणों में एक मुंह में पानी लाने वाले श्रीखंड मिठाई में बदल जाती है। यहाँ हर रोज दही से स्वादिष्ट श्रीखंड बनाने का सबसे आसान और सबसे अच्छा तरीका है। इसके लिए किसी पाक कला की आवश्यकता भी नहीं है।

श्रीखंड रेसिपी , दही, पाउडर चीनी, केसर, इलाईची और थोड़ा सा दूध से बनाई जाती है।

केसर इलायची श्रीखंड रेसिपी पर नोट्स। 1. गाढ़े दही का उपयोग करने से एक क्रीमियर श्रीखंड मिलता है। यहा ताजे दही का उपयोग करना बेहतर है नाकी खट्टे दही का, वरना श्रीखंड खट्टा होगा। 2. अच्छा होगा कि, इस दही को एक ठंडी जगह पर एक कटोरे के उपर लटका दें, और इसे कम से कम २ से ३ घंटे तक ऐसे ही रहने दें। इससे दही में से छांछ निकाल जाती है। यह छांछ पतली होती है जो दही को पानीदार बनाती है। एक बार छांछ निकल जाने के बाद, दही सुपर गाढ़ा और मलाईदार होगा। 3. यदि आपका दही गाढ़ा नहीं है, तो आपको इसे अधिक समय तक लटकाए रखना पड़ सकता है। कुछ लोग इसे रात भर लटका देते हैं। लगभग ३ १/२ कप गाढ़ा दही में से लगभग २ चक्का दही मिलेगा। एक तरफ रख दें। 4. दूध में केसर घुलने तक घोलें। यह वही है जो इस केसर एलियाची श्रीखंड को रंग और स्वाद देगा। रंग आने के लिए ५ से १० मिनट के लिए अलग रख दें। 5. केसर इलायची श्रीखंड को अच्छी तरह मिलाएं, जब तक कि सभी सामग्री अच्छी तरह से मिक्स न हो जाए और किसी भी तरह की गांठ न बची हों।

नीचे दिया गया है श्रीखंड रेसिपी | केसर इलायची श्रीखंड | केसर श्रीखंड | श्रीखंड बनाने की विधि | shrikhand in hindi | स्टेप बाय स्टेप फोटो और वीडियो के साथ।

श्रीखंड रेसिपी | केसर इलायची श्रीखंड | केसर श्रीखंड | श्रीखंड बनाने की विधि | - Shrikhand, Kesar Elaichi Shrikhand recipe in Hindi

तैयारी का समय:    पकाने का समय :    कुल समय :     ३ मात्रा के लिये
मुझे दिखाओ मात्रा

सामग्री

केसर इलायची श्रीखंड के लिए सामग्री
१ किलो गाढ़ा दही
१/२ कप पीसी हुई चीनी
कुछ केसर के रेसे
१ टेबल-स्पून गुनगुना दूध
१/२ टी-स्पून इलायची पाउडर

श्रीखंड गार्निश के लिए सामग्री
१ टेबल-स्पून पिस्ता के कतरन
१ टेबल-स्पून बादाम के कतरन
विधि
केसर इलायची श्रीखंड बनाने की विधि

    केसर इलायची श्रीखंड बनाने की विधि
  1. श्रीखंड बनाने के लिए, एक मलमल के कपड़े में दही को डालकर लगभग 3 घंटे के लिए ठंडे स्थान पर लटका दें, जब तक कि सारा पानी बाहर निकल जाए।
  2. केसर को गुनगुने दूध में अच्छी तरह घोलें।
  3. एक कटोरे में चक्का दही, चीनी, केसर का मिश्रण और इलायची पाउडर डालें और अच्छी तरह मिलाएं।
  4. पिस्ता और बादाम के कतरन से गार्निश करके श्रीखंड को परोसें।

विविधता: स्ट्रॉबेरी श्रीखंड

    विविधता: स्ट्रॉबेरी श्रीखंड
  1. विधि क्रमांक 3 पर केसर और इलायची पाउडर के बजाय 1 कप स्लाइस्ड स्ट्रॉबेरी डालें।
  2. स्ट्रॉबेरी की मिठास के अनुसर चीनी को समायोजित करें।
पोषक मूल्य प्रति serving
ऊर्जा407 कैलरी
प्रोटीन10.9 ग्राम
कार्बोहाइड्रेट40 ग्राम
फाइबर0 ग्राम
वसा16.5 ग्राम
कोलेस्ट्रॉल40.6 मिलीग्राम
सोडियम48.2 मिलीग्राम
विस्तृत फोटो के साथ श्रीखंड रेसिपी | केसर इलायची श्रीखंड | केसर श्रीखंड | श्रीखंड बनाने की विधि |

श्रीखंड बनाने के लिए

  1. श्रीखंड बनाने के लिए | केसर इलायची श्रीखंड | केसर श्रीखंड | श्रीखंड बनाने की विधि | shrikhand in hindi | पहले हम सभी सामग्री को तैयार रखेंगे। यहां हमारे पास दही, पीसी हुई शक्कर, केसर, गरम दूध और इलाइची पाउडर है। गार्निश के लिए पिस्ता और बादाम की कतरन हैं।
  2. पहला कदम यह है कि एक गहरी कटोरी या पतिला लें और उसके ऊपर एक छलनी रखें।
  3. उसके ऊपर एक साफ मलमल का कपड़ा रखें। आप इस उद्देश्य के लिए मलमल का कपड़ा या पतले चीज़क्लोथ का उपयोग कर सकते हैं।
  4. मलमल के कपड़े पर दही डालें। हमने गाढ़े दही का उपयोग किया है जो फुल फैट दूध से बनाया जाता है। आप स्टोर किए गए दही का उपयोग कर सकते हैं या आप सीख सकते हैं कि दही को फूल फैट दूध के साथ कैसे बनाया जाए। गाढ़े दही का उपयोग करने से एक क्रीमियर श्रीखंड मिलता है। यहा ताजे दही का उपयोग करना  बेहतर है नाकी खट्टे दही का, वरना श्रीखंड खट्टा होगा।
  5. मलमल के कपड़े के किनारों को एक साथ लाएं।
  6. कपड़े के किनारों के साथ एक टाइट गाँठ बाँधें।
  7. अच्छा होगा कि, इस दही को एक ठंडी जगह पर एक कटोरे के उपर लटका दें, और इसे कम से कम २ से ३ घंटे तक ऐसे ही रहने दें। इससे दही में से छांछ निकाल जाती है। यह छांछ पतली होती है जो दही को पानीदार बनाती है। एक बार छांछ निकल जाने के बाद, दही सुपर गाढ़ा और मलाईदार होगा।
  8. वैकल्पिक रूप से, यदि आप इसे लटकाना नहीं चाहते हैं, तो एक कटोरी के ऊपर छलनी में मलमल का कपड़ा रखकर दही डालें और मट्ठा (छांछ) छोड़ने के लिए उस पर थोड़ा भार डालें। यदि आप इस विधि का उपयोग कर रहे हैं, तो सुनिश्चित करें कि छलनी और कटोरी के बीच पर्याप्त दूरी हो ताकि एकत्रित मट्ठा (छांछ) दही के संपर्क में न आए।
  9. ३ घंटे के बाद दही इस तरह दिखेगा। इसे हंग दही या चक्का दही कहा जाता है। यदि आपका दही गाढ़ा नहीं है, तो आपको इसे अधिक समय तक लटकाए रखना पड़ सकता है। कुछ लोग इसे रात भर लटका देते हैं। लगभग ३ १/२ कप गाढ़ा दही में से लगभग २ चक्का दही मिलेगा। एक तरफ रख दें।
  10. मट्ठा (छांछ) को फेंकना नहीं है, इसमें अधिक मात्रा में प्रोटीन है और इसलिए इसका उपयोग स्मूदी या सूप जैसे की व्हे सूप बनाने के लिए किया जा सकता है। आप इसका इस्तेमाल रोटियां बनाने के लिए भी कर सकते हैं।
  11. एक छोटे कटोरे में गरम दूध डालें। 
  12. इसमें केसर के रेशे डालें।
  13. दूध में केसर घुलने तक घोलें। यह वही है जो इस केसर इलायची श्रीखंड को रंग और स्वाद देगा। रंग आने के लिए ५ से १० मिनट के लिए अलग रख दें।
  14. एक गहरे बाउल में चक्का हुआ दही डालें।
  15. अब इसमें शक्कर डालें। हमने यहां पीसी हुई शक्कर का उपयोग किया है क्योंकि इससे उसे घुलना और मिक्स करना आसान होता है। हम इसमें केवल १/२ कप शक्कर जोड़ रहे है, लेकिन यदि आप चाहें, तो आप थोड़ी और शक्कर जोड़ सकते हैं।
  16. इसमें केसर-दूध का मिश्रण डालें। आप देख सकते हैं कि दूध सुंदर पीले रंग का हो गया है।
  17. हम अंत में इसमें इलायची डालेंगे। केसर और इलाईची एक साथ भारतीय मिठाइयों के लिए एक सबसे अच्छा संयोजन है। ये मसाले चक्का दही और शक्कर के साथ मिलकर एक अनोखा केसर इलायची श्रीखंड बनाता हैं।
  18. केसर इलायची श्रीखंड को अच्छी तरह मिलाएं, जब तक कि सभी सामग्री अच्छी तरह से मिक्स न हो जाए और किसी भी तरह की गांठ न बची हों।
  19. बादाम और पिस्ता की कतरन से श्रीखंड रेसिपी | केसर इलायची श्रीखंड | केसर श्रीखंड | श्रीखंड बनाने की विधि | shrikhand in hindi | गार्निश करें।
  20. श्रीखंड को | केसर इलायची श्रीखंड | केसर श्रीखंड | श्रीखंड बनाने की विधि | shrikhand in hindi गरम पूरियों या सादे पराठों के साथ ठंडा परोसें।


Reviews