दलिया ( Broken wheat, dalia )

दलीया क्या है ? ग्लॉसरी, इसका उपयोग,स्वास्थ्य के लिए लाभ, रेसिपी, Broken Wheat, Dalia in Hindi Viewed 8456 times

अन्य नाम
फाड़ा, लापसी

दलीया,फाड़ा, लापसी क्या है?


कच्चे गेहूँ को टुकड़ो मे काटकर दलीया बनाया जाता है। गेहूँ को साफ कर, छिलका निकालकर ज़रुरत अनुसार आकार मे काटा जाता है। यज बेहद पौष्टिक होता है क्योंकि इसे छाना नही जाता है। दलीया बहुउपयोगी खाद्य पदार्थ है। दलीया को पकाने पर इसका स्वाद मिट्टी जैसा और सौम्य होता है और सौम्य सुगंध और इसमे दरदरापन होता है। यह हल्का मेवेदार और चबाने योग्य होता है।

गेहूँ को टोड़कर बी दलीया बनाया जा सकता है। गेहूँ को टोड़ने से पहले स्टीम किया जाता है, जिससे इसका स्वाद मेवेदार और स्वादिष्ट बन जाता है। दलीया पकने मे कम समय लेता है, कयोंकि यह आधा पका हुआ गेहूँ होता है।

दलीया के दरदरा, मध्य या बारीक विकल्प होते है।

मोटा दलीया (Large-sized broken wheat)
मोटा दलीया ठोस होता है। इसका प्रयोग अनज के रुप में या कैसेरोल, सलाद और भरबां मिश्रण के रुप मे किया जाता है। इसका स्वाद बढ़ाने के लिये और पकाने का समय कम करने के लिये इसे भून कर रखें।

मध्य दलीया (Medium-sized variety)
इसका प्रयोग अक्सर उपमा या मनकीन दलीया बनाने के लिये किया जाता है।

बारीक दलीया (Fine-sized broken wheat
दलीया बारीक दलीया ठोस और करारा होता है। इसका प्रयोग अक्सर दलीये कि खीर या दूध के साथ मीठा लापसी बनाने के लोये किया जाता है।

पका हुआ दलीया (cooked broken wheat (dalia))
दलीया पकाने के लिये, सबसे पहले सलीया को साफ कर पानी से अच्छी तरह धो लें। सारा पानी छानकर 20-30 मिनट के लिये पानी मे भिगो दें। एक गहरे पॅन में, पानी और नमक से साथ भिगोया हुआ दलीया डालें। दलीया पुरी तरह पानी से ढ़क जाये, उतना पानी मिलायें। मध्यम आँच पर उबालकर, धिमी आँच पर पकयें और बीच-बीच मे चम्मच से हिलाते रहें। दलीया नरम और पक जाने तक पकायें। बचा हुआ पानी छानकर (अगर पानी बच हया हो) ज़रुरत अनुसार प्रयोग करें।

दलिया चुनने का सुझाव (suggestions to choose dalia)
• खरीदने से पहले लेबल अच्छी तरह पढ़ लें और समापन कि दिनाँक जाँच कर लें।
• दलीया साफ, समान आकार का और किसी भी प्रकार के पत्थर, कंकड़ या धुल से मुक्त होना चाहिए।

दलिया के उपयोग रसोई में (uses of broken wheat in cooking )


नाश्ते के लिए दलीया रेसिपी | broken wheat recipes for breakfast |

1. ब्रोकन व्हीट उपमा, जैसा इसका नाम है, यह एक गेहूं आधारित एक पौषण भरपुर व्यंजन है। जहाँ दलिया भरपुर मात्रा में रेशांक और ऊर्जा प्रदान करता है, गाजर और हरे मटर भरपुर मात्रा में आहार तत्व प्रदान करते हैं, खासतौर पर विटामीन ए। साथ ही सब्ज़ीया इस नरम उपमा को करारापन प्रदान करते हैं। इसे और भी रंग-बिरंगा और स्वादिष्ट बनाने के लिए, आप इसमें अपनी पसंद की अन्य सब्ज़ीयाँ भी मिला सकते हैं।

2. बनाना एप्पल पॉरिज : लिया और ओटस् जैसे अनाज और केले और सेब जैसे फल का पौष्टिक मेल इस पॉरिज को स्वादिष्ट और बेहतरीन बनाता है। पकाने से पहले दलिया और ओटस् को भुनने से इसके कच्ची खुशबु को कम करने में मदद करता है, वहीं दालचीनी पाउडर और फल इसकी खुशबु और इसके स्वाद को और भी निहारते हैं। 

दलीया का उपयोग करके खिचड़ी और पुलाव बनाया गया | khichdi and pulav made using dalia |

1. फाड़ा नी खिचड़ी एक संपूर्ण व्यंजन है जिसे सुबह के नाश्ते, दोपहर के खाने या दिना में किसी भी समय परोसा जा सकता है। पौष्टिक दलिया और पीली मूंग दाल से बना और सब्ज़ीयों और मसालों के साथ पकाया हुआ, यह व्यंजन संपूर्ण है और इसके साथ परोसने के लिए और कुछ नहीं चाहिए।

2. दलिया  पुलाव : यह पुलाव इतना स्वादिष्ट है कि अपको चावल की अनुपस्थिति महसूस ही नहीं होगी। दलिया और पौष्टिक सब्जि़यों से तैयार होता यह पुलाव सचमुच बहुत ही स्वादिष्ट है। 

बच्चों के लिए डालिया रेसिपी | dalia recipes for kids |

1. दलिया पॉरिज : यह आरोग्यगम्य और उपचार दलीया का पारिज 8-9 महीनों के विश्लेषकों के लिए एक सर्वोत्तम भोजन है, जब वे फुरतीले होने के साथ-साथ उछाल से बढ़ते भी हैं।

डालिया का उपयोग कर भारतीय मिठाई | Indian sweets using dalia |

1. लापसी : एक बेहद स्वादिष्ट गुजराती व्यंजन जो दलिये की पौष्टिक्ता और इलायची की मज़ेदार खुशबु को दर्शाता है। यह विश्व भर में सबका पसंदिदा व्यंजन है!


इसका प्रयोग अक्सर सूप बनाने मे और सब्ज़ीयों के भरवां मिश्रण के रुप मे किया जाता है।
• इसे अक्सर सब्ज़ी या माँस के साथ मुख्य भोजन के रुप मे परोसा जाता है।
• इसका प्रयोग पुलाव, मल्टी ग्रैन ब्रैड और पॅनकेक बनाने मे किया जा सकता है।
• मध्य पूर्वी पाकशैली मे, मशहुर ताबुलेह सलाद दलीया से बनाया जाता है।
• भारत मे दलीया का प्रयोग कर विभिन्न प्रकार के खीर और लापसी जैसे मीठो व्यंजन बनाये जाते है।
• दक्षिण भारत में, त्यौहारों मे दलीये कि खीर नारियल के दूध और गुढ़ से बनायी जाती है।
• दलीये का उपमा भारत का एक और मशहुर नाश्ता है। इस नमकीन व्यंजन को सूजी के उपमा कि तरह, सब्ज़ीयों के साथ बनाया जाता है।
• इसे नरम चावल कि तरह भी बनाया जा सकता है, जहाँ इसे दाल, सब्ज़ी, मूँगफली और इमली के गुदे या नींबू के रस के साथ मिलाकर बनाया जाता है।

संग्रह करने के तरीके
• दलीया को हवा बंद डब्बे मे रखकर साफ, ठंडी और सूखी जगह पर रखना चाहिए।

दलिया के फायदे, स्वास्थ्य विषयक (benefits of dalia
दलिया (Benefits of Dalia, Broken Wheat, Bulgar Wheat in Hindi): दलिया में  मौजूद उच्च फाइबर डायबिटीज को काबू करने में मदद करता है । यह उच्च फाइबर कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित करने में भी सहायता करता है और साथ ही स्ट्रोक के जोखिम को कम करता है। मजबूत हड्डियाँ हमारे शरीर की रीढ़ हैं। हम जानते हैं कि उम्र के साथ हमारी बोन मिनरल डेन्सिटी (bone mineral density) कम हो जाती है और हमें अपनी हड्डियों के स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए कैल्शियम, फास्फोरस और मैग्नीशियम से समृद्ध खुराक की आवश्यकता होती है, दलिया बस यही देता है। दलिया के विस्तृत 8 आश्चर्यजनक लाभों के लिए यहाँ पढें।


क्योंकि दलीया गेहूँ से बनता है, इसमे रेशांक के साथ-साथ भरपूर पौषण तत्व होते है, क्योंकि इसमे गेहूँ कि उपरी परत और अंकुर भी होते है।
• इस वजह से यह अक्सर पौष्टिक आहार का भाग बनता है।
• यह लौह, मैग्निशियम् और फोसफोरस का भी अच्छा स्तोत्र है।
• दलीया चावल कि तुलना मे ज़्यादा पौष्टिक होता है, क्योंकि इसमे अधिक मात्रा मे रेशांक, विटामीन और मिनरल होते है और इसका ग्लाईसमिक इंडेक्स भी सफेद चावल या मैदा कि तुलना मे ज़्यादा होता है।

Try Recipes using दलिया ( Broken Wheat, Dalia )


More recipes with this ingredient....

दलिया (14 recipes), पका हुआ दलीया (1 recipes)

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन