धनिया पाउडर ( Coriander powder )

धनिया पाउडर ( Coriander Powder ) Glossary |स्वास्थ्य के लिए लाभ, पोषण संबंधी जानकारी + धनिया पाउडर रेसिपी ( Coriander Powder ) | Tarladalal.com Viewed 6404 times

अन्य नाम
कोठामल्ली वेरई पोड़ी, मल्ली ठूल

वर्णन
धनिया पाउडर हरे धनिया के पौधे के बीज से उत्तपन्न होता है। यह नमकीन खाने को सौम्य स्वाद और खुशबु प्रदान करता है।
अकसर, खड़ा धनिया खरीदकर ज़रुरत अनुसार पीसा जाता है, लेकिन बना हुआ पाउडर बाज़ार में भी मिलता है। घर पर धनिया पाउडर बनाते समय, खड़ा धनिया को बिना तेल के प्रयोग किये भुन और मिक्सर या खलबत्ते में पीस लें।
पीसे हुए धनिया को सग्रह करने से यह अपना स्वाद जल्दी खो देता है; इसलिए, इसे ज़रुरत अनुसार पीसना बेहतर होता है। आप धनिया को व्यंजन अनुसार बारीक या दरदरा पीस सकते हैं।

चुनने का सुझाव
• धनिया पाउडर की जगह खड़ा धनिया खरीदना बेहतर होता है, क्योंकि पाउडर अपना स्वाद जल्दी खो देती है।
• हमेशा सौम्य स्वाद वाले करारे और ताज़े बीज चुनें, जो टुटे हुए या फीके ना दिखे। पाउडर बनाने के लिए, हल्का भुन कर खलबत्ते या मिक्सर में पीस लें।
• बाज़ार से पाउडर खरीदते समय, मिलावट से बचने के लिए, भरोसेमंद दुकान से खरीदें। पैकेट के सील और समापन के दिनांक की जांच कर लें।

रसोई में उपयोग
• धनिया और जीरा को मिलाकर बने हुए पाउडर का प्रयोग भारतीय व्यंजन में अकसर किया जाता है।
• धनिया पाउडर का प्रयोग दक्षिण भारतीय व्यंजन में अकसर किया जाता है, खासतौर पर रसम, कारा कुज़ाम्बू, सब्ज़ी से बने व्यंजन आदि में।
• बहुत से करी और ग्रेवी का यह मुखसय सामग्री होता है कयोंकि यह सौम्य सवाद प्रदान करता है और भुख बढ़ाता है।
• पीसे हुए धनिया को पॅनकेक और वॉफल के घोल में डालने से यह एक सौम्य सवाद प्रदान करता है।
• सूखे भुने हुए खड़ा धनिया को मिल में डालकर खाने के टेबल में रखें जिससे आप और आपका परीवार इसे कभी भी सलाद, सूप और ग्रेवी में भी डाल सकते हैं।

संग्रह करने के तरीके
• धनिया पाउडर को अपारदर्शी, हवा बंद काँच के डब्बे में रखकर ठंडी और सूखी जगह पर रखें।
• धनिया पाउडर को खराब होने से बचाने के लिए, बर्तन में हींग का एक छोटा टुकड़ा रखें।
• आप इसे लगभग 4-6 महीनो तक रख सकते हैं।

स्वास्थ्य विषयक
• खुशबुसार मसाला होने के अलावा, खड़ा धनिया में बहुत से उपचारिक और ठंडक प्रदान करने वाले गुण होते हैं।
• धनिया पाउडर को चुटकी भर हींग और काला नमक के साथ खाने से यह पाचन सवस्थ रखता है। यह भूख बढ़ाता है और गैस्ट्रिक रस के स्त्रावण में मदद करता है।
• धनिया में दर्द से आराम प्रदान कराने वाले गुण होते हैं और इसका प्रयोग सर दर्द, माँसपेशियों मे दर्द, जमाव और आर्थराईटीस् से आराम प्रदान करने के लिए किया जाता है।
• धनिया पाउडर चाय के रुप में उपयोगी होता है, क्योंकि इसमें पाचन स्वास्थ रखने के गुण होते हैं और यह भूख बढ़ाने में मदद करता है और उल्टी, दस्त, गैस और अपच से आराम प्रदान करता है।
• यह रक्त बहाव बढ़ाता है और सूजन कम करने में मदद करता है।

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन