कमल के बीज ( Lotus seeds )

कमल के बीज क्या है, इसका उपयोग,स्वास्थ्य के लिए लाभ, रेसिपी, in Hindi Viewed 13566 times

कमल के बीज क्या है?


मखाना, जिसे कमल के बीज या फॉक्स नट्स भी कहा जाता है, भारत में इन दिनों सबसे ज्यादा बिकने वाले ड्राई स्नैक में से एक है। वे पॉपकॉर्न के लिए एक स्वस्थ विकल्प के रूप में काम करते हैं, न केवल उनकी कुरकुरे बनावट के कारण, बल्कि उनके द्वारा प्रदान किए जाने वाले स्वास्थ्य लाभों के कारण भी। जैतून के तेल के 1-2 चम्मच में भुना हुआ ये बीज एक और सभी से प्यार करते हैं। कमल सीधे बीज फली विकसित करता है और प्रत्येक फली में लगभग 20 बीज होते हैं जो 40 दिनों के भीतर परिपक्वता तक पहुंचते हैं।

कमल के बीज चुनने का सुझाव (suggestions to choose lotus seeds, Makhana)
भारतीय बाजारों में कमल के बीज बहुत अधिक देखे जाते हैं। वे कमल वृक्षारोपण वाले क्षेत्रों में अधिक उपलब्ध हैं। सूखे को भारी मात्रा में पैकेज में बेचा जाता है और इसके कठोर बनावट वाले खोल के कारण खपत से पहले रात भर भिगोने की आवश्यकता होती है।

कमल के बीज के उपयोग रसोई में (uses of Makhana in cooking )

भारतीय स्नैक्स में इस्तेमाल किया जाने वाला कमल का बीज | lotus seeds used in Indian snacks in hindi |

1. मसाला मखाना रेसिपी : 


भारतीय मिठाई में कमल के बीज का उपयोग किया जाता है | lotus seeds used in Indian desserts in hindi |


1.  मखाने की खीर रेसिपी

कमल के बीज के फायदे, स्वास्थ्य विषयक (benefits of Makhana in hindi 

एक कप भुने मखाना में लगभग 3.9 ग्राम प्रोटीन (उच्च प्रोटीन स्नैक, स्टार्टर) होता है, जो मांसपेशियों के निर्माण में मदद करने के लिए और कोशिकाओं के विकास के लिए काफी अच्छा होता है। मखाना लस मुक्त होते हैं। एक कप मखाना फोलेट की दिन की लगभग 50% आवश्यकता को पूरा कर सकता है। फोलेट गर्भवती महिलाओं के पहली तिमाही (first trimester) के लिए भी आवश्यक होता है। छोटे हिस्से में भुने हुए मखाना मधुमेह के आहार में और वजन घटाने के आहार में शामिल कियए जा सकते हैं। मखाना के विस्तृत लाभ पढें।

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन