मल्टीग्रेन ब्रेड ( Multigrain bread )

मल्टीग्रेन ब्रेड ( Multigrain Bread ) Glossary | स्वास्थ्य के लिए लाभ + मल्टीग्रेन ब्रेड रेसिपी ( Multigrain Bread ) | Tarladalal.com Viewed 4151 times

वर्णन
मल्टीग्रन ब्रेड एक ऐसी ब्रेड है जिसमें बहुत से प्रकार के अनाज का प्रयोग किया जाता है जैसे ओट्स्, राई, जौ, मकई और गेहूं। सफेद ब्रेड की तुलना में मल्टीग्रन ब्रेड ज़्यादा नरम नहीं होती कयोंकि विबिन्न प्रकार के अनाज इसे ज़्यादा रुप और स्वाद प्रदान करते हैं। ब्रेड में प्रयोग किया गया विभिन्न अनाज का संतुलित मेल इसे ईच्छित स्वाद और स्वाद प्रदान करता है।

मल्टीग्रन ब्रेड में इसमें डाले गए सभी अनाज की पौष्टिक्ता होती है, खसतौर पर उच्च मात्रा में प्रोटीन और रेशांक।मल्टीग्रन ब्रेड के अलग-अलग ब्रेड में अलग प्रकार के अनाज होते हैं इसलिए इनके पौषण तत्व भी अलग होते हैं। जब मल्टीग्रन ब्रेड को साबूत धान के से बनाया जाता है, जिससे यह आपका पेट सफेद ब्रेड की तुलना में लंबे समय तक भरा रखता है, क्योंकि रक्त में कार्बोहाइड्रेट धीरे-धीरे घुलता है। हालांकि मल्टीग्रन ब्रेड के कुछ ब्रेन्ड में सफेद ब्रेड से ज़्यादा कॅलरी की मात्रा हो सकती है, जहाँ इस ब्रेड से सफेद ब्रेड का प्रयोग करना ज़्यादा फायदेमंद होता है।

स्वास्थ्य के प्रति बढ़ती सचकता को धन्यवाद, आजकल मल्टीग्रन ब्रेड बेहद मशहुर होती जा रही है।

चुनने का सुझाव
• मल्टीग्रन ब्रेड के ऐसे ब्रेन्ड को चुने जिसमें साबूत अनाज का प्रयोग किया गया हो।
• ऐसे ब्रेन्ड को चुनें जिसमें मैदा की जगह गेहूं के आटे के साथ बहुत से अनाज का प्रयोग किया गया हो।
• खरीदने से पहले उत्पादन और समापन के दिनांक की जांच कर लें।

रसोई में उपयोग
• मल्टीग्रन ब्रेड का प्रयोग सेन्डविच बनाने के लिए किया जा सकता है, जो सफेद ब्रेड से बने सेन्डविच से पौष्टिक होते हैं।
• इसका प्रयोग कर सूप के लिए क्रूटोन्स् बी बनाये जा सकते हैं।
• मल्टीग्रन ब्रेड से विभिन्न व्यंजन जैसे क्रौकरट्स्, कटलेट आदि के लिए, ब्रेड क्रम्ब्स् बनाये जा सकते हैं।
• इसे बहुत से व्यंजन में सफेद ब्रेड की जगह प्रयोग किया जा सकता है, जैसे स्टार्टर जैसे चिली चीज़ टोस्ट, ओट्स् मूंग टोस्ट, ब्रेड कप्स् आदि।

संग्रह करने के तरीके
• खोलने के बाद, ब्रेड को सामान्य तापमान पर रखें।
• खोलने के बाद उसी के पेकेट में या ब्रेड बॉक्स् में रखकर फ्रिज में रखें।
• भले ही फ्रिज में रखा हो, लेकिन इसे समपान के दिनांक पहले इस्तेमाल कर लें।
• कचरा बचाने के लिए, आप पुराने ब्रेड से क्रम्ब्स् या क्रुटोन्स् बना सकते हैं।

स्वास्थ्य विषयक
• सफेद ब्रेड की तुलना में, मल्टीग्रन ब्रेड का ग्लाईसमिक इन्डेक्स् कम होता हैऔर इसलिए यह मधुमेह पीड़ीत के लिए बेहतर विकल्प है।
• मल्टीग्रन ब्रेड के रेशांक की मात्रा ज़्यादा होती है, इसलिए यह वजन के प्रति सचक के लिए, सफेद ब्रेड से ज़्यादा पौष्टिक होती है। साथ ही लंबे समय तक पेट भरा रखने में मदद करती है।
• ब्रेड में प्रयोग किये गए विभिन्न अनाज का पौषण तत्व सफेद ब्रेड में प्रयोग किये गए मैदा से ज़्यादा होता है।
• मल्टीग्रन ब्रेड कार्बोहाईड्रेट का अच्छा स्रोत है।

Try Recipes using मल्टीग्रेन ब्रेड ( Multigrain Bread )


More recipes with this ingredient....

मल्टीग्रेन ब्रेड (2 recipes)

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन