ओटस् ( Quick cooking rolled oats )

ओटस् क्या है ? ग्लॉसरी, इसका उपयोग, स्वास्थ्य के लिए लाभ, रेसिपी  Viewed 81393 times

अन्य नाम
क्विक कुकिंग रोल्ड ओटस्


ओटस्, क्विक कुकिंग रोल्ड ओटस् क्या है?


ओट्स, जिसे वैज्ञानिक रूप से एवेना सैटिवा के रूप में जाना जाता है, एक ऐसा अनाज है जो खराब मिट्टी में बढ़ने में सक्षम होता है जिसमें अन्य फसलें पनपने में असमर्थ होते हैं। हालांकि पतझड़ में इसकी फसल काटी जाती है, ओट्स पूरे वर्ष उपलब्ध होता है। सुबह के नाश्ते मे सबसे ज़्यादा प्रयोग होने वाला, इसका प्रयोग चिभिन्न प्रकार के व्यंजन जैसे सलाद और डेज़र्ट मे भी किया जाता है जिससे व्यंजन मे पौष्टिक्ता बढ़ती है।

ओट्स को काटने और साफ करने के बाद भूनने की प्रक्रिया की वजह से ओट्स को अपना विशिष्ट स्वाद मिलता है। हालांकि अनाज तबइसके बाद छिलका निकाल दिया जाता है, प्रक्रिया उनके चोकर को निकालती नहीं करती है। यह ओट्स को फाइबर और पोषक तत्वों का एक बड़ा स्रोत बनाता है।

क्रश किए हुए ओटस् (crushed quick cooking rolled oats)
क्रश किए हुए ओटस् बनाने के लिए, इसे एक मिक्सर जार में डालें और केवल एक बार कुछ सेकंड के लिए पीसें। सुनिश्चित करें कि यह सिर्फ आधा क्रश होना चाहिए और पाउडर नहीं बनना चाहिए। एक एयर-टाइट कंटेनर में स्टोर करें और आवश्यकतानुसार उपयोग करें।
ओटस् का पाउडर (powdered oats)
ओट्स को पाउडर करने के लिए, इसे मिक्सर जार में डालें और मोटे या महीन पाउडर में पीस लें। एक एयर-टाइट कंटेनर में स्टोर करें और आवश्यकतानुसार उपयोग करें। पीसा हुआ ओट्स, विशेष रूप से बारीक पाउडर, का उपयोग अन्य आटे के साथ रोटियां और पराठे बनाने के लिए किया जा सकता है।
भुना हुआ ओटस् का पाउडर (roasted and powdered oats)
भुना हुआ ओटस् का पाउडर बनाने के लिए, सबसे पहले ओट्स को एक चौड़े नॉन स्टिक कड़ाही में धीमी आंच पर कुरकुरा होने तक भूनें। ओट्स की मात्रा के आधार पर इसे 3 से 5 मिनट का समय लग सकता है। ऐसा करते समय, ध्यान रखें कि बार-बार हिलाएं और ओट्स को जलने से बचें क्योंकि यह इसे बहुत ही बेस्वाद बना सकता है। थोड़ा ठंडा करें और एक मिक्सर में मोटे या महीन पाउडर में पीस लें। एक एयर-टाइट कंटेनर में स्टोर करें और आवश्यकतानुसार उपयोग करें। यदि पके हुए व्यंजन में पीसा हुआ ओट्स मिलाते हैं, तो पकाने के अंत में इसे डालें, क्योंकि ओट्स में घुलनशील फाइबर होता है जो यदि बहुत लंबे समय तक छोड़ दिया जाए, तो तरल पदार्थ को गाढ़ा कर सकते हैं।

ओटस्, क्विक कुकिंग रोल्ड ओटस् चुनने का सुझाव (suggestions to choose quick cooking rolled oats, rolled oats)


• ओटमील खरीदते समय, इस बात का ध्यान रखें कि पदार्थ में किसी भी प्रकार का नमक, शक्कर या अन्य पदार्थ ना मिलाया गया हो।
• हेल्थ शॉप में मिलाने वाले रोल्ड ओटस् और ओटमील को चुनें।
• एक बार मे थोड़ी मात्रा में ओटस् खरीदें क्योंकि इसमें वसा कि मात्रा थोड़ी ज़्यादा होती है और यह जल्दी खराब हो जाते है।
• ओटस् अक्सर पहले से पैक या खुले थोक में भी मिलते हैं।
• थोक में खरीदे हुए किसी भी खाद्य पदार्थ कि तरह, ओटस् के लिये भी इस बात का ध्यान रखें कि जिस डिब्बे में यह रखा है, वह साफ और ढ़का हुआ है, यह कंकड़ से मुक्त हो और उस दुकान की बिक्री ज़्यादा हो।
• चाहे आप ओटस् थोक में खरीदें या पैकेट में, इस बात का ध्यान रखें कि ओटस् में नमी न हो।

ओटस्, क्विक कुकिंग रोल्ड ओटस् के उपयोग रसोई में (uses of quick cooking rolled oats, rolled oats in cooking)


• ओटस् को ओटमील और बारीक आटे के रुप मे प्रयोग किया जाता है।
• अपने दिन कि शुरुआत करने के लिये ओटस् का गरमा गरम कप बेहतरीन होता है। ओटस् के गरमा गरम कप में अपने मनपसंद मेवे और फल डालकर इसे स्वादिष्ट बनायें।
• ओटस् को कच्चा भी खाया जा सकता है और कच्चे ओटस् का प्रयोग कर बनाई गयी कुकीस् भी काफी मशहुर है।
• ओटमील अक्सर पॉरिज के रुप मे खाया जाता है, लेकिन इसका प्रयोग विभिन्न प्रकार के बेक्ड पदार्थ जैसे ओटकुकीस्, ओटकेक और ओटब्रैड बनाने मे किया जाता है।
• ओटस् का प्रयोग अक्सर ठंडे सिरीयल, खासतौर पर म्यूसली और ग्रनोला मे भी किया जाता है।
• विभिन्न प्रकार के ओटस् को पकाने के तरीके अलग होते है जिसका प्रयोग कर गरम सिरीयल या पॉरि बनाये जा सकते है। सभी प्रकार के ओटस् के लिये, बेहतर होता है कि ओटस् को पहले ठंडे पानी मे मिलाया जाये और फिर धिमी आँच पर पकाया जाये।
• ओटमील कुकीस् दोनो बच्चे और बड़ों के मनपसंद है।
• अगली बार ब्रैड या मफिन बनाने के लिये ओटस् का आटा या साबूत ओटस् मिलायें।
• अंकुरित करने से इसकि पौष्टिक्ता बड़ जाती है। इसलिये सेण्डविचस्, सलाद, स्टर फ्राय और सूप में अंकुरित ओटस् मिलायें।
• मिल मे आधा पकाने कि वजह से ओटस् को ताज़े फल, सुखे मेवे और दही के साथ आसानी से मिलाया जा सकता है।
• इसका प्रयोग कर किसी समय मे खाने का भाग बनाया जा सकता है-सुबह का नाश्ता, दोपहर का खाना या रात के खाने में।
• ओटस् एक बेहतरीन डेज़र्ट कि सामग्री बनाता है। इसमे शक्करा कि मात्रा कम होने के कारण, यह अन्य ऊर्जा भरपुर सामग्री कि जगह ले सकता है।
• विभिन्न प्रकार मे व्यंजन मे मिलाने के लिये ओटस् बहुउपयोगी और अधीन सामग्री है जिसे मिल मे ही थोड़ा पकाया जाता है। इसका प्रयोग झट-पट पास्ता, मफिन और क्रोसियेन्ट बनाने मे किया जा सकता है। साथ ही यह मैदा के एक पौष्टिक विकल्प माना जाता है।
• यह सूप और ग्रेवी को गाढ़ा बनाने मे मदद करता है जहाँ मैदा को इससे बदला जा सकता है और भारतीय व्यंजन मे मैदा कि जगह गेहूँ के आटे का प्रयोग किया जा सकता है।

ओटस्, क्विक कुकिंग रोल्ड ओटस् संग्रह करने के तरीके 


• ओटमील को हवा बंद डब्बे मे रखकर ठंडी, सूखी जगह पर रखकर लगभग दो महीनो तक रखा जा सकता है।
• फिर भी, समापन कि दिनाँक से पहले ही इसका प्रयोग करें।


ओटस्, क्विक कुकिंग रोल्ड ओटस् के फायदे, स्वास्थ्य विषयक (benefits of quick cooking rolled oats, rolled oats in hindi)

ओट्स वेजीटेरियन्स के लिए प्रोटीन का एक बड़ा स्रोत हैं। यह सॉल्युबल फाइबर (मधुमेह रोगियों के लिए अच्छा बनाने के लिए) में समृद्ध है, जो निम्न रक्त एलडीएल कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता है, तथाकथित "खराब" कोलेस्ट्रॉल। साबुत ओट्स में ऐवेनथ्रामाइड (ओट्स से एक पॉलीफेनोल) नामक एक एंटीऑक्सीडेंट होता है जो निम्न रक्तचाप के स्तर को कम करने में मदद करता है। घुलनशील फाइबर पानी को सोख लेता है और सूज जाता है और पदार्थ जैसा जेल बन जाता है जो पोषक तत्वों जैसे बी विटामिन और खनिजों के अवशोषण में मदद करता है | जैसे मैग्नीशियम और जिंक जो एक अच्छे दिल की कुंजी है। यहां देखें कि ओट्स आपके लिए क्यों अच्छे हैं?