उड़द की दाल का आटा ( Urad dal flour )

उड़द की दाल का आटा ग्लॉसरी , का उपयोग,स्वास्थ्य के लिए लाभ, रेसिपी, Urad Dal Flour in Hindi Viewed 6602 times

वर्णन
उड़द की दाल का आटा, सूखी उड़द दाल को पीसकर बनाया जाता है। दाल को साफ कर, बुना जाता है और चिलके निकालकर पीसा जाता है। इस आटे का प्रयोग विबिन्न भारतीय और चायनीज़ व्यंजन में किया जाता है।

दरदरा पीसा हुआ उड़द की दाल का आटा- भुनी हुई उड़द दाल को घर पर चक्की में पीसा जा सकता है या बाहर भी पीसवाया जा सकता है। इसका प्रयोग पॅनकेक बनाने के लिए किया जाता है।

बारीक पीसा हुआ उड़द की दाल का आटा- बारीक उड़द की दाल का आटा बाज़ार में आसानी से मिलता है और आसानी से खरीदा जा सकता है। इसका प्रयोग बेहतरीन सूप, करी या खाने को गाढ़ा बनाने के लिए किया जा सकता है।

चुनने का सुझाव
• आटा खरीदने से पहले समापन के दिनांक की जांच कर लें।
• किसी भी रंग में बदलाव या नमी की जांच कर लें।

रसोई में उपयोग
• उड़द की दाल के आटे को गेहूँ के आटे के साथ मिलाकर, इसका प्रयोग पुरी या चपाती बनाने के लिए किया जा सकता है।
• इसका प्रयोग डोसा या उत्तपम्म बनाने के लिए भी किया जाता है।
• इस आटे को प्यूरी और सूप में मिलाकर इसमें प्रोटीन की मात्रा को बढ़ाया जा सकता है।

संग्रह करने के तरीके
• उड़द की दाल के आटे को हवा बंद डब्बे में रखकर ठंडी और सूखी जगह पर रखें।

स्वास्थ्य विषयक
• उड़द की दाल का आटा प्रोटीन और खाद्य रेशांक का अच्छा स्रोत है।
• इसमें वसा की मात्रा कम होती है और यह बी-कॉमप्लेक्स विटामीन, कॅलशियम और पौटॅशियम से भरपुर होता है।

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन