उड़द दाल ( Urad dal )

उड़द दाल क्या है? लाभ | का उपयोग करता है | रेसिपी | urad dal in hindi | Viewed 14701 times

उड़द दाल क्या है?


उड़द दाल में छिलका होता है, साथ ही इसका तेज़ स्वाद होता है। छिलका निकाली हुई उड़द दाल सफेद रंग की होती है और काफी हद तक बेस्वाद होती है।
उबलने पर, दाल को रुप अनोखा हो जाता है। खुशबुदार मसाले मिलाने पर, इस दाल को रोटी और चावल के साथ परोसा जा सकता है।
इसे आटे में या पेस्ट में पीसकर, इसका प्रयोग डोसा, इडली, वड़ा और पापड़ जैसे व्यंजन बनाने के लिए किया जाता है। दक्षिण भारतीय पाकशैली में, उड़द दाल को तड़के रुप में प्रयोग किया जाता है। इस तरह के प्रयोग के लिए, सफेद उड़द दाल को चुना जाता है।

उबली हुई उड़द दाल (boiled urad dal)
जैसा इसका नाम है, उड़द को उबालने पर उबली हुई उड़द दाल बनायी जाती है। प्रति एक कप दाल के लिए आप 2 कप पानी को चुन सकते हैं। यह माप ढ़ककर बर्तन में पकाने के लिए होता है। इस तरह पकाने से, यह जल्दी पकती है, ऊर्जा कम उपयोग होती है साथ ही ज़्यादा से ज़्यादा से विटामीन बने रहते हैं। मिश्रण को उबाल लें और आँच को मध्यम-कम कर लें। दाल गाढ़ी होने पर थोड़ा और पानी मिलायें। दाल पकने पर पानी गाढ़ा हो जायेगा। आप उड़द को नमक से साथ या नमक के बिना भी प्रैशर कुकर में उबलते पानी में 7-10 मिनट तक पका सकते हैं। पकने के बाद इसमें अपनी पसंद और व्यंजन अनुसार सब्ज़ीयाँ, मसाले या उबले हुए चावल भी मिला सकते हैं।
भिगोई हुई उड़द दाल (soaked urad dal)
उड़द दाल को छाँटकर इसमे से पत्थर या अन्य कंकड़ निकाल लें। पानी से धो लें। रातभर पानी में भिगो दें। भिगोई हुई उड़द दाल को मुलायम या दरदरे पेस्ट में पीसा जा सकता है और व्यंजन ानुसार प्रयोग किया जा सकता है।

चुनने का सुझाव
• उड़द पहले से पैक की हुई या थोक में, किरानें की दुकानों में आसानी से मिलती है।
• पहले से पैक की हुई उड़द खरीदने पर, समापन के दिनांक की जांच कर लें।
• किसी भी अन्य खाद्य पदार्थ की तरह, थोक में खरीदने पर, इस बात का ध्यान रखें कि दाल धूल से मुक्त है और दुकान में ताज़ा माल ही मिलता है।
• चाहे थोक में खरीदें या पेकेट में, इस बात का ध्यान रखें कि दाल नमी से मुक्त हो।

रसोई में उपयोग
• उड़द दाल का प्रयोग दक्षिण भारतीय घरों में रोज़ के खने में वड़ा, इडली, डोसा के घोल बनाने के लिए और बहुत से व्यंजन में तड़का लगाने के लिए किया जाता है।
• उबली हुई दाल, तले हुए टमाटर, लहसुन और प्याज़ के साथ स्वादिष्ट लगती है। आप इसमें सब्ज़ीयाँ भी मिला सकते हैं।

संग्रह करने के तरीके
• उड़द दाल से पत्थर या अन्य धूल जैसे पदार्थ छाँट कर निकाल लें।
• इसे लंबे समय तक हवा बंद डब्बे में रखकर ठंडी और सूखी जगह पर रखा जा सकता है।
• पकी हुई उड़द दाल को फ्रिज में रखकर 3 से 4 दिन तक रखा जा सकता है।

उड़द दाल के फायदे
• उड़द की दाल (urad dal benefits in hindi): 1 कप पकी हुई उड़द की दाल आपकी 69.30% फोलिक एसिड की दैनिक आवश्यकता को पूरी करती है। उड़द की दाल में मौजूद फोलिक एसिड आपके शरीर में नई कोशिकाओं, विशेष रूप से लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन और रखरखाव में मदद करती है।  फॉस्फोरस से भरपूर होने के कारण यह कैल्शियम के साथ मिलकर हमारी हड्डियों का निर्माण भी करती है। इसमें फाइबर भी भरपूर है और इसलिए यह दिल के लिएकोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए और मधुमेह के लिए अच्छा है। उड़द दाल के 10 सुपर फायदे के लिए यहाँ देखें।

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन