गेहूँ चोकर ( Wheat bran )

गेहूँ चोकर क्या है, इसका उपयोग,स्वास्थ्य के लिए लाभ, रेसिपी, Wheat Bran in Hindi Viewed 24474 times

गेहूँ चोकर क्या है?

अधिकतर अनाज, जैसे गेहूँ और ओटस् की एपरी परत कड़क होती है। इन्हें परीष्कृत करते समय, यह परत बहुउपयोगी सामग्री बन जाती है, जिसे चोकर कहते हैं। इसी तरह, गेहूँ को जब गेहूँ के आटे में पारीष्कृत किया जाता है, चोकर बनता है। यह चोकर पौष्टिक्ता से भरपुर होता है और इसमें बहुत से पोषण तत्व होते हैं।

चुनने का सुझाव गेहूँ चोकर
• गेहूँ चोकर बड़े सुपर मार्केट या किराने की दुकानों में आसानी से मिलता है।
• इसे भुने हुए या ताज़ा खरीदा जा सकता है।
• आप चोकर कप थोक में खरीद सकते हैं, जो इसे ग्रनोला या बेक्ड पदार्थ में मिलाने के लिए आसान बनाता है।
• एैसे बहुत से खाद्य पदार्थ हैं जिसमें गेहूँ का चोर पहले से होता है। इसका प्रयोग कर बहुत से सिरियल और ब्रेड और आटे बनाये जा सकते हैं। हालाँकि, आप इस बात का ध्यान रखें कि बाज़ार में मिलने वाले बहुत से ओट चोकर और गेहूँ के चोकर से बने पदार्थ (मफिन, चिपस्, वॉफल) में बहुत ही कम मात्रा में गेहूँ चोकर होता है। इनमें सोडियम, कुल वसा और सैचुरेटड वसा की मात्रा भी ज़्यादा होती है। हमेशा लेबल को ध्यान से पढ़े।

रसोई में उपयोग गेहूँ चोकर
• गेहूँ चोकर का स्वाद मीठा होता है, लेकिन यह दिखने में उतना अच्छा नहीं होता।
• यह ज़रुरी है कि खाने में गेहूँ चोकर को धीरे-धीरे मिलाया जाये। इसकी थोड़ी भी ज़्यादा मात्रा मिलाने से दस्त हो सकते हैं।
• मफिन, पॅनकेक, बिस्कुट, वॉफल या यहाँ तक की कूकीस् की पौष्टिक्ता और इनकी रेशांक की मात्रा को बढ़ाने के लिए गेहूँ का चोकर मिलाना अच्छा तरीका है।
• गेहूँ चोकर को कम मात्रा में स्मूदीस् में मिलाया जा सकता है, खासतौर पर जब इसका पाउडर बनाया जाए।
• कुछ लोग इसका पाउडर बनाकर प्रत्येक दिन की रेशांक की मात्रा को पुरा करने के लिए खाते हैं।
• गेहूँ चोकर का प्रयोग पिकलिंग के लिए भी किया जाता है )मुकाज़ूके), जैसा की जापान के सुकेमोनो में किया जाता है।
• हालांकि इस बात का ध्यान रखें कि गेहूँ के चोकर को खाने की पौष्टिक्ता बढ़ाने के लिए मिलाया जाता है। उदाहरण के तौर पर, कुछ गेहूँ चोकर के सिरीयल में फ्रक्टोस कोर्न शुगर या शक्कर की मात्रा ज़्यादा होती है। गेहूँ के ब्रेड मफिन में भरपुर वसा होता है। गेहूँ चोकर पॅनकेक में मक्ख़न या सिरप मिलाने से इनकी पौष्टिक्ता कम हो सकती है। गेहूँ चोकर को अन्य तरीके से अस्वस्थ तरीके से खाना अनुमोदित नहीं है।

संग्रह करने के तरीके गेहूँ चोकर
• गेहूँ चोकर को सामान्य गेहूँ के आटे की तरह नहीं रखा जा सकता है। यह जल्दी खराब हो जाता है और इसे फ्रिज में रखना बेहतर होता है, खासतौर पर जब आपको इसे लंबे समय तक रखना हो।
• साथ ही, शसप इसे सामान्य तापमान पर हवा बंद डब्बे में भी रख सकते हैं।
• अगर आपको चोकर कड़वा लगने लगे, तो हो सकता है यह खराब हो गया है और इसे फेंक देना चाहिए।

स्वास्थ्य विषयक
• गेहूँ चोकर प्रोटीन, मॅगनीशियम, मेन्गनीस, नायासीन, फोसफोरस, ज़िन्क और विटामीन बी-6 से भरपुर होता है, साथ ही इसमें वसा की मात्रा कम होती है, साथ ही इसमें कलेस्ट्रॉल, शक्कर या सोडीयम नहीं होता।
• गेहूँ चोकर प्रकृति में खाद्त रेशांक का बेहतरीन स्रोत होता है। यह आंत को स्वस्थ रखने में मदद करता है और साथ ही कब्ज़ से आराम पहुँचाने में मदद करता है।
• सभी गेहूँ के स्रोत की तरह, सिलीयेक डीज़ीस से पीड़ीत को गेहूँ चोकर का प्रयोग नहीं करना चाहिए।

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन