This category has been viewed 11922 times
 Last Updated : Sep 13,2019


 विभिन्न व्यंजन > भारतीय व्यंजन > गुजराती व्यंजन > गुजराती दाल / कढी़ रेसिपी

16 recipes

Gujarati Dal / Kadhi - Read In English
ગુજરાતી દાલ, ગુજરાતી કઢી વાનગીઓ - ગુજરાતી માં વાંચો (Gujarati Dal / Kadhi recipes in Gujarati)

गुजराती दाल कढ़ी रेसिपी, Gujarati Dal Kadhi Recipe in Hindi 

 

हमारे अन्य गुजराती व्यंजनों की रेसिपी ज़रूर आज़माये:…

गुजराती उपवास का रेसिपीज : Gujarati Faral Recipes in Hindi
गुजराती फरसाण रेसिपी : Gujarati Farsan Recipes in Hindi
गुजराती खिचडी़ चावल की रेसिपी : Gujarati Khichdi Rice Recipes in Hindi
गुजराती एक डिश भोजन रेसिपी : Gujarati One Dish Meals Recipes in Hindi
गुजराती शाक ( सब्जी़ ) के रेसिपी : Gujarati Sabzi Recipes in Hindi
हैप्पी पाक कला!



गुजरात के खाने में यदि कढ़ी का न होना मतलब गुजराती थाली अधुरी है। इसे गुजरात की पाकशैली से अलग नहीं किया जा सकता है। देखा जाए तो यह बेसन से गाढ़ा बनाया गया दही का एक मीठा और तीखा मिश्रण है, जिसे बहुत से तरीकों से मज़ेदार बनाया जा सकता है और ....
ओसामन एक गरम पेय है, जिसका संबंध रसम से है, लेकिन रसन जितना तीखा नहीं! तुवर दाल के पानी का प्रयोग इस व्यंजन को सौम्य रुप प्रदान करता है। इस व्यंजन को बनाने के लिए प्रयोग की गई दाल से बाद में लचकि दाल जैसे अन्य व्यंजन बनाए जा सकते हैं। गरमा गरम ओसामन का चावल और लचको दाल के साथ मज़ा लें।
गुजराती घरों में प्रतिदिन बनने वाला यह व्यंजन, जिसे इसके आसान से बनने वाले तरीके के कारण चुना जाता है। आधारिय गुजराती मसालों के स्वाद और नींबू के रस के खट्टेपन वाला, तुरई और मूंग दाल से बना यह व्यंजन अनोखा है और अपने आप में काफी मज़ेदार है। तुरीया मग नी दाल एक बेहद हल्की सब्ज़ी है और स्वास्थ के प्रत ....
जैसा इसका नाम है, यह कड़ी भाटीया समाज का मूल है। यह एक मीठा-खट्टा विकल्प है जिसे तुवर दाल के पानी, दही और सब्ज़ीयों से बनाया जाता है। सामग्री का यह मज़ेदार मेल इसे स्वाद और खुशबु के मामले में भिन्न बनाता है। आप इस व्यंजन में स्लाईस्ड आलू भी मिला सकते हैं।
कड़ी को गुजराती पाकशैली से अलग नहीं किया जा सकता। देखा गया तो यह बेसन से गाढ़ा बनाए गए दही का एक मीठा और तीखा मिश्रण है, जिसे बहुत से तरीको से मज़ेदार बनाया जा सकता है और अन्य सामग्री मिलाई जा सकती है जैसे पकौड़े और कोफ्ते। इस आसान से व्यंजन को बनाने के लिए आपको विशिष्ट तकनीक अपनाना है, जिसके लिए अभ ....
मज़ेदार खट्टे-मीठे स्वाद के साथ, यह पारंपरिक दाल गुजराती संस्कृति को दर्शाती है और इसमें पारंपरिक सामग्री और मसालों का प्रयोग किया गया है। जहाँ इस दाल को रोज़ बनाया जाता है, मूंगफली और सुरण जैसी सामग्री डालने से इसे त्यौहारों में खासतौर से बनाया जा सकता है। इस तरह के त्यौहारों के लिए, बेहतरीन स्वाद ....
वाल नी दाल एक बेहद और अनोखा व्यंजन है, जिसे वाल से बनाया गया है, जिसे गुजराती घरों में अकसर बनाया जाता है। इस व्यंजन में प्रयोग होने वाले मसालों के चुनाव को किशमिश एक मज़ेदार अनोखापन प्रदान करती है। चावल और पसंद की मिठाई के साथ इसे जब परोसा जाता है, वाल नी दाल त्यौहारों के लिए पर्याप्त बनता है!
जैसा इसके नाम में त्रेवटी संबोधित करता है, यह तीन प्रकार की दाल का मेल है जिन्हें मसालों में पकाया गया है। रोज़ खाने वाली दाल को यह तीन तरह की दाल एक खास रुप प्रदान करते हैं, जो भाखरी और लहसुन की चटनी के साथ अच्छी तरह जजती है। विकल्प के रुप में, आप पीली मूंग दाल की जगह उड़द दाल का प्रयोग भी कर सकते ....
बहुत से सूखे और ग्रेवी वाले व्यंजन में, गुजराती पाकशैली में बहुउपयोगी भिंडी का काफी प्रयोग किया जाता है। यहाँ हमने भिंडा नी कड़ी प्रस्तुत की है, जहाँ भिंडी पारंपरिक कड़ी के साथ अच्छी तरह जजती है। विकल्प के रुप में, आप कड़ी में स्लाईस्ड और भुने हुए प्याज़ और टमाटर भी मिला सकते हैं।
सामान्य कढ़ी में सब्ज़ीयाँ मिलाकर इसे एक संपूर्ण आहार बनाया गया है। मैंने इस सब्ज़ी और दहीं की कढ़ी के लिए सौम्य और सामान्य सब्ज़ीयों को चूना है, लेकिन आप अपनी पसंद और आपके पास मिलने वाली अन्य सब्ज़ीयों के अनुसार इसमें मिला सकते हैं। शुरुआत में दहीं के मिश्रण को अच्छी तरह से मिलाने का ध्यान रखें जिस ....
दहीं के बिना कढ़ी? अगर आप चौंक गए हैं तो इस व्यंजन को ज़रुर बनाकर देखें। इस अनोखे व्यंजन को बेसन और इमली के पानी के मिश्रण से बनाया गया है, साथ ही इसमें मसालों का ताज़ा पीसा हुआ पेस्ट मिलाया गया है। इसके कोफ्ते भी हठकर हैं क्योंकि इन्हें बनाने के लिए, बैंगन और पत्तागोभी जैसी अनोखी सब्ज़ीयों के मेल क ....
मग नी दाल आधारिय गुजराती मसालों से बना एक सूखा व्यंजन है- यह रोज़ खाने के लिए एक स्वादिष्ट व्यंजन है। मैं यह सलाह दूंगी कि आप इसे बनाने से पहले दाल को भिगो दें, जिससे इसे पकाने में कम समय लगेगा। साथ ही आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि इस व्यंजन को बनाने के लिए, दाल को बहुत ज़्यादा ना पकाऐं क्योंकि ....
पारंपरिक गुजराती दही के मिश्रण में पकाए हुए मूंग दाल के डम्पलिन्गस्, रोटला, हरी मिर्च और लहसुन की चटनी के साथ डपका कड़ी एक संपूर्ण और स्वादिष्ट आहार बनाता है, जिसका मूल्य नहीं किया जा सकता! इस व्यंजन को बनाते समय, इस बात का ध्यान रखें कि डपका का घोल काफी गाढ़ा है। कड़ी में पहले एक डपके को डालकर देखे ....
लचको दाल हर रुप से संतुष्टि पहुँचाने वाली दाल है और गुजराती खाने में इसे अकसर ओसामन के साथ परोसा जाता है। इस मीठी पीले रंग की गाढ़ी दाल को अकसर चावल और खुशबु और स्वाद प्रदान के लिए भरपुर मात्रा में घी के साथ परोसा जाता है। लचकि दाल और चावल का मेल, महाराष्ट्रियन वरण भात के समान है।
मशहुर गुजराती रस-पुरी का खाना फजेतो के बिना अधुरा है! फजेतो को कड़ी, दाल या सब्ज़ी नहीं कहा जा सकता…यह किसी भी व्यंजन से बेहद अलग है। आम के रस को दही, बेसन और चुनिंदा मसालों के साथ बनाने से आप और क्या उम्मीद कर सकते हैं? यह अजूबा है कि इसके अनोखे रुप और मज़ेदार स्वाद के साथ भी, फजेतो पेट पर काफी हल् ....

Top Recipes

Goto Page: 1 2 

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन