This category has been viewed 10586 times
 Last Updated : Jun 10,2019


 इक्विपमेंट > कढ़ाई

180 recipes

Kadai Veg - Read In English
કઢાઇ વેજ - ગુજરાતી માં વાંચો (Kadai Veg recipes in Gujarati)


कॅलरी से मुक्त, कभी भी खाने वाला सबका पसंदिदा व्यंजन! माइक्रोवेव मे इसे बनाकर तेल की मात्रा कम की है जिससे आपके फराल के दिनों में वसा की मात्रा कम रहेगी।
आसान से बनने वाला लेकिन एक बेहतरीन व्यंजन। शाही आलू एक बेहतरीन रात के खाने के लिए उपयुक्त है! काजू और किशमिश ना सिर्फ करारापन डालते हैं, साथ ही इसके स्वाद को और भी बढ़ाते हैं।
तला हुआ एक स्नॅक जो किसी भी मैन्यू में आसानी से फिट हो सकता है। आप नूडल्स की जगह छल्लेदार गोल पास्ते का प्रयोग भी कर सकते है। इस व्यंजन को बारबेक्यू सॉस के साथ यदि परोसा जाए तो इसका मज़ा दुगना हो जाता है।
रसभरे टमाटर के अंदर लो-फॅट पनीर और मिली-जुली सब्ज़ीयों का मज़ेदार मेल, जिसका परिणाम होता है एक सुंदर लेकिन 80-कॅलरी वाला नाश्ता। टमाटर विटामीन ए प्रदान करता है, लो-फॅट पनीर क़ल्शियम प्रदान करता है और मिली-जुली सब्ज़ीयों से रेशांक मिलता है। सबसे अच्ची बात यह है कि आप इस पौषण भरपुर बेक्ड स्टफ्ड टमॅटोज ....
किसी भी दक्षिण भारतीय घर में जायें और आपको भरपुर मात्रा में पोड़ी या सूखे दाल का मिश्रण ज़रुर मिलेगा जिसे खाने के साथ या चावल के साथ मिलाकर परोसा जा सकता है और एक मज़ेदार खाना बनाया जा सकता है। यह एक पौष्टिक पाउडर है जिसे तिल से बनाया गया है और इसे चावल और तिल के तेल के साथ मिलाकर पापड़ के साथ परोसक ....
पोरियल एक ऐसा नाम है जिसका प्रयोग तमिल नाडू में सूखी करी को दर्शाने के लिए किया जाता है, और साथ ही यह तमिलीयन थाली का एक मुख्य भाग है। इस प्रकार की करी को सादा या इसमें सरसों और उड़द दाल के छौंक डालकर भी बनाया जा सकता है या इसमें पीसे हुए मसालें डालकर इसे और भी मज़ेदार बनाया जा सकता है।
दही से बनी पछड़ी के लिए ककडी के डर्याप्त सामग्री है क्योंकि यह दही को गाढ़ा बनाने के साथ-साथ, ताज़े दही के साथ अच्छी तरह घुल जाता है। बहुत से दक्षिण भारतीत श्रेत्र में गरम मौसम के लिए, यह कुकुम्बर पछड़ी पर्याप्त व्यंजन है।
इस व्यंजन की ग्रेवी और कोफ्ते बहुत अलग है। इस व्यंजन के कोफ्ते बहुत ही अलग तरह की सब्ज़ीयों का प्रयोग करते हैं, जैसे बैंगन और पत्तागोभी; वहीं ग्रेवी में इमली के पानी और सूखे मसाले से मिला हुआ बेसन इसे और भी बेहतरीन बनाता है। उपर क्रीम डालें और आपके पास के बेहतरीन व्यंजन तैयार है!
मुघलाई तरीके से बनाये गए इन खट्टी चटपटी टिक्की का मज़ा लें।
आलू और कद्दू (पेठा) राजस्थानीयों के पसंदिदा सब्ज़ीयों में से एक है और इनका प्रयोग बहुत से व्यंजन में किया जाता है। साबूत मसाले और दही के साथ पकाए हुए आलू पेठे के साग को सादी या भरवां पुरी के साथ परोसा जा सकता है। सौंफ इस सब्ज़ी को पारंपरिक राजस्थानी स्वाद प्रदान करता है।
इस प्रोटीन युक्त ब्लेक बीन दाल में एक बहुत ही आनंददायक गुण है, जो बेहद स्वादिष्ट और बनाने में भी बहुत आसान है। सब मिलाकर, एक ही पैकेट में बहुत सारी अच्छी बातें है! इस दाल को बनाने के लिए आपको बस थोड़े से आयोजन की जरुरत है और रात भर दाल भीगोने की, और फिर टमाटर, प्याज़ और सामान्य मसालों का जादू अपना काम ....
एक ऊर्जा भरपुर नाशते के लिए इस मसालेदार कन्द से बेहतर और कुछ नहीं है! यह देखना मज़ेदार है कि किस तरह आम मसाले इन तले हुए सुरण के स्लाईस को ऐसे नाशते में बदलता है को आपकी ज़ुबान को चटपटा बना देगा। इस बात का यकीन है कि यह काम इसमें डाला गया नींबू का रस करता है।
एक बेहद स्वादिष्ट पायसम, जो बच्चों को बेहद पसंद आता है क्योंकि यह दिखने में नूडल जैसा दिखता है और खाने में सेंवई जैसा लगता है! इस व्यंजन को ज़रुर बनाकर देखें और चाहें तो इसमें और भी किशमिश और भुने हुए काजू डालें, क्योंकि यह पायसम को और भी स्वादिष्ट बनाते हैं।
हरे मटर और पनीर के टुकड़ो के साथ मकई के पीले रंग के दाने का मेल दिखने में बहुत अच्छा लगता है और मुझे यकीन है कि आपका बच्चे को भी यह बेहद पसंद आयेगा। इस व्यंजन को चटपटा बनाने के लिए मिले-जुले हर्बस् का नया स्वाद डाला गया है, क्योंकि इस उम्र में बच्चों को नये स्वाद चखने में बड़ा मज़ा आता है। इस बात ....
बिना बाटी के राजस्थानी खाने को अधुरा माना जाता है! राजस्थान में बाटी को बहुत से अलग पारंपरिक और विभिन्न तरीकों से बनाया जाता है। हरे मटर के मिश्रण से भरी यह मसाला बाटी एक बेहद स्वादिष्ट विकल्प है। ध्यान रखें कि बाटी को तलने से पुर्व पानी में उबालकर ठंडा किया गया है। इस विधी के बिना इस व्यंजन को ना ब ....

Top Recipes

Goto Page: 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन