फ्रूट चाट रेसिपी के पोषण संबंधी जानकारी | फ्रूट चाट रेसिपी की कैलोरी | calories for Fruit Chaat Indian Fruit Chaat Recipe in hindi
द्वारा

This calorie page has been viewed 195 times Last Updated : Aug 27,2020



कोर्स रेसिपी, वेज मुख्य व्यंजनों
मनोरंजन के लिए नाश्ते
कोर्स रेसिपी, वेज मुख्य व्यंजनों
चाट
कोर्स रेसिपी, वेज मुख्य व्यंजनों
जैन नाश्ते
फ्रूट चाट रेसिपी | चटपटी फ्रूट चाट | हेल्दी सिंपल फ्रूट चाट |

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 


अनानास (Benefits of Pineapple, Ananas in Hindi): विटामिन सी (64.7 मिलीग्राम / कप) से भरपूर, अनानास एक ऐसा फल है जो प्रतिरक्षा (immunity) को बढ़ाता है। ये श्वेत रक्त कोशिकाओं (white blood cells - WBC) का निर्माण करके रोगों के खिलाफ हमारी सुरक्षा में मदद करता है। यह अपने लैक्सटिव (laxative) प्रभाव से कब्ज को दूर करने या रोकने के लिए जाना जाता है। अनानास मैग्नीशियम (54.8 मिलीग्राम / कप) का एक समृद्ध स्रोत है, जिसकी हृदय स्वास्थ्य में भूमिका होती है। शरीर में उत्तेजना (inflammation - इन्फ्लमेशन) को कम करके यह गठिया से संबंधित जोड़ों के दर्द से राहत दिलाने में मदद करता है। अवगुण: एकमात्र स्नैक के रूप में अनानास मधुमेह रोगियों के लिए अनुशंसित नहीं किया जा सकता। अन्य उच्च फाइबर और कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स फलों के साथ जोड़कर, आप इसे छोटी मात्रा में भोजन में शामिल कर सकते हैं। अनानास कैलोरी में बहुत कम नहीं होता और न ही कार्ब्स में और इसलिए वजन घटाने के लिए भी बहुत अच्छा विकल्प नहीं है। अनानास के विस्तृत लाभ पढें।

सेब (Benefits of Apple, Seb in Hindi): सेब में सोडियम  कम होने के कारण, वह अपने डाइयुरेटिक प्रभाव के कारण उच्च रक्तचाप के खिलाफ प्रभावी होते हैं। सेब के अधिकतम लाभ पाने के लिए इसको छीलें नहीं। छिलके में दो-तिहाई फाइबर और बहुत सारे एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं। सेब मधुमेह रोगियों को लाभदायक होता है क्योंकि घुलनशील फाइबर रक्त शर्करा को नियंत्रित करने में सहायता करता है और हृदय के लिॆए भी अनुकूल होता है। सेब के 9 विस्तृत स्वास्थ्य लाभ पढें।

केला (Benefits of Banana, kela in Hindi): केले में पोटैशियम की मात्रा अधिक होती है। पोटेशियम दिल की धड़कन को नियंत्रित करने में मदद करता है और शरीर के पानी के संतुलन को भी नियंत्रित करता है। केले में सोडियम की मात्रा कम और पोटेशियम की मात्रा अधिक होती है और यह उच्च रक्तचाप के लिए एक आदर्श फल माना जाता है। केले में पोटैशियम और मैग्नीशियम अच्छी मात्रा में होते हैं, जो हृदय रोग के खतरे को कम करता है। केले के 7 अविश्वसनीय लाभ पढें।

पपीता (Benefits of Papaya, papita in Hindi): विटामिन ए और विटामिन सी से भरपूर होने के कारण, पपीता अतिरिक्त कोलेस्ट्रॉल को कम करके हृदय रोग से बचाने में मदद करता है। पपीते में कार्ब्स कम होता है और इसलिए रक्त शर्करा के स्तर को नहीं बढ़ाता है और यह कब्ज़ से राहत भी देता है। सवाल यह है कि क्या पपीता का ग्लाइसेमिक इन्डेक्स मध्यम श्रेणी में आता है, पर क्या यह फल मधुमेह रोगियों के लिए फायदेमंद है?  1 कप पपीते का ग्लाइसेमिक लोड 6.4 है, इसलिए मधुमेह रोगियों को इसका सेवन नियंत्रित मात्रा में करना चाहिए। पपीते के विस्तृत लाभ पढें।

 

आंवला (Benefits of Amla, Indian Gooseberry in Hindi): विटामिन सी से भरे आंवले आपकी प्रतिरक्षा (immunity) को बढ़ावा देने और आपके शरीर को विभिन्न बीमारियों से बचाने में मदद करते हैं। विटामिन सी एक एंटीऑक्सिडेंट के रूप में भी कार्य करता है और आपकी त्वचा में फिर से युवापन प्रदान करने, आपके रक्त को शुद्ध करनेकैंसर के जोखिम को कम करने और उम्र बढ़ने के संकेतों को धीमा करने में मदद करता है

काले अंगूर (Benefits of Green Grapes, Black Grapes, Angoor in Hindi) : अंगूर में पाया जाने वाला फ्लेवोनॉइड क्वैरसेटिन (quercitin) हृदय रोग के जोखिम को कम करने में मदद करता है और स्ट्रोक को भी रोकता है। रेस्वेराट्रॉल (resveratrol) एक और एंटीऑक्सिडेंट है जो अंगूर में पाया जाता है। रक्तचाप को बनाए रखने या कम करने के लिए अंगूर में आवश्यक खनिज होते हैं। विटामिन सी एक प्रतिरक्षा बूस्टर (immune booster) के रूप में जाना जाता है। मूल रूप से यह हमारी श्वेत रक्त कोशिकाओं (white blood cells - WBC) का निर्माण करने में मदद करते हैं, और सर्दी और खांसी जैसी सामान्य बीमारियों से बचाव की एक मजबूत रेखा बनाते हैं। मधुमेह रोगियों को अंगूर प्रतिबंधित मात्रा में खाने चाहिए। अंगूर के विस्तृत लाभ पढें।

ककड़ी, खीरा (Benefits of Cucumber, kakdi in Hindi):  उच्च पानी की मात्रा के साथ, ककड़ी हमारे शरीर के सिस्टम से हानिकारक विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने का काम करती है। ककड़ी में रहित स्टेरोल रक्त कोलेस्ट्रॉल के प्रबंधन में सहायता करता है और मधुमेह के लिए भी अनुकूल है। पोटेशियम की उचित मात्रा और सोडियम की कम मात्रा इस रक्तचाप को नियंत्रित करने में मदद करती है। ककड़ी एक स्वस्थ स्नैक है क्योंकि यह ऐल्कलाइन है और ऐसिडिटी  मिटाने में मदद करता है। तो आप इसे काम पर नाश्ते के रूप में ले जा सकते हैं। कीटनाशक दवाइयों के प्रभाव को दूर करने के लिए इसे छीलने बेहतर होगा। ककड़ी के विस्तृत लाभ पढें।

 

धनिया (कोथमीर, धनिया, corainder benefits in hindi): धनिया एक ताजा जड़ी बूटी है जिसे अक्सर भारतीय पाक कला में स्वाद बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इसका मुख्य रूप से एक गार्निश के रूप में उपयोग किया जाता है। यह इसका उपयोग करने का सबसे अच्छा तरीका है - कोई खाना पकाने नहीं। यह इसकी विटामिन सी की मात्रा को संरक्षित रखता है, जो हमारी प्रतिरक्षा का निर्माण करने और त्वचा में चमक लाने में मदद करता है। धनिया में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट विटामिन , विटामिन सी और क्वेरसेटिन हमारे इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने की दिशा में काम करते हैं। धनिया आयरन और फोलेट का भी काफी अच्छे स्रोत हैं - 2 पोषक तत्व जो हमारे रक्त में लाल रक्त कोशिकाओं (red blood cells ) के उत्पादन और रखरखाव में मदद करते हैं। धनिया कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए भी अच्छा है और मधुमेह रोगियों के लिए भी। विवरण समझने के लिए धनिए के 9 लाभ पढ़ें।

हरी मिर्च | green chillies benefits in hindi | : हरी मिर्च में  मौजूद  एंटीऑक्सिडेंट विटामिन सी शरीर को हानिकारक मुक्त कणों के प्रभाव से बचाता है और तनाव से बचाता है। इसका उच्च फाइबर है जो रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करता है। यह एक डायबिटिक आहार के लिए एक योग्य अवयव है। क्या आप एनीमिया से पीड़ित हैं? तो हरी मिर्च को अपनी आयरन युक्त खाद्य पदार्थों की सूची में जरुर शामिल करें। पूरी जानकारी के लिए हरी मिर्च के फायदे देखें।

खजूर (Benefits of Dates, khajur in Hindi): 1 कप खजूर (90 ग्राम) लगभग 8.05 ग्राम फाइबर देता है जो कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करता है और वजन घटाने में भी मदद करता है। एक कप खजूर में 703 मिलीग्राम पोटेशियम (आर.डी.ए. का 14.95%) होता है जो रक्तचाप को नियंत्रित करने में मदद करता है और गुर्दे की पथरी के निर्माण को भी रोकता है। खजूर की विविधता के आधार पर 43 से 55 तक उसका ग्लाइसेमिक इंडेक्स होता है, लेकिन फिर भी मधुमेह रोगियों को इसे बहुत ही सीमित मात्रा में खाने में शामिल करना चाहिए और इसके कार्ब्स को भोजन के हिस्से में गिना जाना चाहिए। खजूर के 8 सुपर लाभों को विवरण में पढें।

 

जीरा (Benefits of Cumin Seeds, jeera in Hindi): जीरा का सबसे लाभ जो कई लोगों को पता है वह है पेट, आंत और पूरे पाचन तंत्र को  आराम पहुँचाना। जीरा जाहिर तौर पर आयरन का बहुत अच्छा स्रोत है। एक टेस्पून जीरे आयरन की दैनिक आवश्यकता का लगभग 20% पूरा कर सकते है। जीरे की थोड़ी मात्रा में भी कैल्शियम की भारी मात्रा होती है - यह एक हड्डियों का  भरण-पोषण करने वाला खनिज है। यह पाचन, वजन घटाने और इन्फ्लमेशन (inflammation) को कम करने में भी मदद करता है। जीरा के विस्तृत लाभ पढें।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

मूल्य प्रति serving% दैनिक मूल्य
ऊर्जा121 कैलरी6%
प्रोटीन1.2 ग्राम2%
कार्बोहाइड्रेट27.5 ग्राम9%
फाइबर4 ग्राम16%
वसा0.7 ग्राम1%
कोलेस्ट्रॉल0 मिलीग्राम0%
विटामिन
विटामिन ए361.1 माइक्रोग्राम8%
विटामिन बी 1 ()0.1 मिलीग्राम10%
विटामिन बी 2 ()0.2 मिलीग्राम18%
विटामिन बी 3 ()0.4 मिलीग्राम3%
विटामिन सी90.9 मिलीग्राम227%
विटामिन ई0 मिलीग्राम0%
फोलिक एसिड (विटामिन बी 9)3.1 माइक्रोग्राम2%
मिनरल
कैल्शियम35.1 मिलीग्राम6%
लोह1.6 मिलीग्राम8%
मैग्नीशियम53.5 मिलीग्राम15%
फॉस्फोरस39.4 मिलीग्राम7%
सोडियम40.3 मिलीग्राम2%
पोटेशियम129.8 मिलीग्राम3%
जिंक0.1 मिलीग्राम1%
प्रतिशत दैनिक मूल्य 2000 कैलोरी आहार पर आधारित हैं। आपका दैनिक मूल्य अधिक या कम हो ना आपकी प्रतिदिन की आवश्यक कैलोरी की जरूरतों पर निर्भर करता है।
अन्य संबंधित व्यंजनों की कैलोरी

Reviews

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन