चेरी ( Cherries )

चेरी ग्लॉसरी | चेरी की रेसिपी ( Glossary & Recipes with Cherry in Hindi) Tarladalal.com Viewed 4419 times

अन्य नाम
सकूरा

वर्णन
चेरी छोटे लाल रंग के गोल आकार के फल होते हैं। इनकी डंडी लंबी होती है और गुदगुदा फल होता है जिनके अंदर सख्त बीज होता है। चेरी पेड़ में छोटे-छोटे गुच्छे में उगते हैं, और यह 2 प्रकार के होते हैंः मीठे और खट्टे या कसैला।

• मीठी चेरी लंबी और हृदय के आकार के होते हैं। यह सबसे अच्छे ताज़े तोड़ने के बाद लगते हैं और पकने के बाद भी बेहतरीन लगते हैं। इनका रंग सुनहरे से लेकर लाल से गहरा लाल या नारंगी काले जैसा होता है।
• खट्टी चेरी छोटी, नरम और मीठी चेरी की तुलना में ज़्यादा गोल होते हैं। मीठी चेरी कि तुलना में, अकसर खट्टी चेरी खाने में बहुत ज़्यादा खट्टी लगती है, लेकिन यह पाई और प्रिज़र्व बनाने के लिए पर्याप्त होते हैं। विभिन्न तरह की खट्टी चेरी का रंग गहरे लाल से गहरा भूरा होता है।

कटी हुई चेरी (chopped cherries)
अच्छे चेरी पिटर का प्रयोग कर, चेरी के बीज निकाल लें। अगर आपके पास पिटर ना हो, तेज़ धार वाले चाकू का प्रयोग कर, उपर के भाग को काटकर डंडी निकाल लें। इसके बाद, बीच से आधे भाग में काट लें और बीज निकाल लें। अब चेरी को लगभग 1/4" व्यास के छोटे टुकड़ो में काट लें, हालांकि इस कटे हुए फल के सभी टुकड़ो का आकार समान नहीं हो सकता। व्यंजन अनुसार बड़े या छोटे टुकड़ो में काट लें।
बीज निकाली हुई चेरी (deseeded cherries)
एक अच्छे चेरी पिटर का प्रयोग कर आप चेरी से बीज आसानी से निकाल सकते हैं। अगर आपके पिटर ना हो, तेज़ धार वाले चाकू का प्रयोग कर, उपर के भाग को काटकर डंडी निकाल लें। इसके बाद, बीच से आधे भाग में काट लें और बीज निकाल लें।
स्लाईस्ड चेरी (sliced cherries)
एक अच्छे चेरी पिटर का प्रयोग कर आप चेरी से बीज आसानी से निकाल सकते हैं। अगर आपके पिटर ना हो, तेज़ धार वाले चाकू का प्रयोग कर, उपर के भाग को काटकर डंडी निकाल लें। इसके बाद, बीच से आधे भाग में काट लें और बीज निकाल लें। अब काटने के बोर्ड के अनुकुल लंबा काट लें। व्यंजन अनुसार, चेरी को पतले या मोटे स्लाईस में काट लें।

चुनने का सुझाव
• अच्छी चेरी दिखने में चमकीली और गुदगुदी होती है और इनकी ताज़ी दिखने वली डंडी होती है।
• मीठी चेरी बड़ी, चमकिली, गुदगुदी, सख्त और गहरे रंग वाली होनी चाहिए, वहीं खट्टी चेरी गुगुदी, सख्त और इनका रंग गहरा बैंगनी होता है।
• चाहे किसी भी प्रकार के हों, इनकी डंडी ताज़ी और हरे रंग के होनी चाहिए, क्योंकि गहरे रंग की डंडी पुराने चेरी का चिन्ह होते हैं। इसी तरह, बिना डंडी के चेरी ना खरीदें।
• कभी भी बहुत ज़्यादा पकी हुई चेरी ना खरीदें जो दिखने में फीके और जिनकी सूखी डंडी हो, क्योंकि यह स्वाद में फिकी होती है। चेरी खाने के लिए पर्याप्त स्तर की जाँच करें, आपको खाने में करारी लगनी चाहिए! अगर चेरी बहुत ज़्यादा नरम या लचीली लगे, उन्हें ना खरीदें।

रसोई में उपयोग
• चेरी सादी ही बहुत अच्छी लगती है। ठंडे पानी से धोकर, छान लें और ताज़ा परोसें, जिनमें डंडी लगी हुई हो। कुछ लोगों को ठंडी चेरी अच्छी लगती है, वहीं कुछ लोगो को यह सामान्य तापमान पर यह मीठी लगती है। जैसा पसंद हो वैसे खाऐं!
• चेरी को मिक्स्ड फ्रूट सलाद में डालें। यह ना केवल इसे मज़ेदार खट्टापन प्रदान करता है, साथ ही दिखने में अच्छे लगते हैं।
• चेरी का प्रयोग पाई भरने के लिए, दहीं को स्वाद प्रदान करने के लिए, जैली, जैम, सॉस, स्ट्यूड फल और फल पेय पदार्थ बनाने के लिए किया जाता है।
• ताज़ी चेरी को दहीं या आईस-क्रीम के साथ मिक्सर में पीसकर स्मूदी बनाऐं।
• इन्हें डेज़र्ट, केक, आईस-क्रीम और कैन्डी सजाने के लिए प्रयोग करें। देखा गया तो, केक के उपर चेरी ताज के समान लगती है!

संग्रह करने के तरीके
• बिना धोई हुई चेरी को प्लास्टिक बैग में अलग-अलग कर डालकर पैक करें या एक प्लेट में एक हौ परत में रखकर प्लास्टिक रैप से ढ़ककर रखें।
• इन्हें फ्रिज में रखें।
• ताज़ी चेरी को हफ्ते भर तक रखा जा सकता है, इसलिए इन्हें थोड़े-थोड़े दिनों में जाँच करते रहें, क्योंकि एक खराब चेरी बाकी बची हुई चेरी को भी खराब करने लगती है।
• चेरी को संगह्र करने के लिए और बाद में प्रयोग करने के लिए, लाल, सख्त फल चुनें। डंडी निकालकर ठंडे पानी से धो लें और ज़रुरत हो तो बीज निकाल लें। इसके बाद आप चेरी को फ्रीज़ कर सकते हैं, कॅन में रख सकते हैं या सूखा सकते हैं।

स्वास्थ्य विषयक
• चेरी में वसा, कलेस्ट्रॉल या सोडियम नहीं होता और इसलिए इसे हृदय के पौष्टिक माना जाता है।
• साथ ही यह रेशांक का अच्छा स्रोत होता है; इसलिए मधुमेह और उच्च कलेस्ट्रॉल से पीड़ीत इस फल का सेवन कर सकते हैं।
• विटामीन सी का अच्छा स्रोत, यह प्रतिरक्षी तत्र को स्वस्थ रखने में मदद करता है, जो बिमारीयों से लड़ने में मदद करता है और त्वचा को स्वस्थ और चमकीला रखता है।
• चेरी में बीटा कॅरोटीन होता है, एक लाल रंग का पदार्थ जो एक प्राकृतिक ऑक्सीकरण तत्व है, जो कैंसर से लड़ने में मदद करता है।

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन