हरा भरा टिक्की रोल रेसिपी के पोषण संबंधी जानकारी | हरा भरा टिक्की रोल रेसिपी की कैलोरी | calories for Hara Bhara Tikki Roll ( Wraps and Rolls) in hindi
द्वारा

This calorie page has been viewed 550 times Last Updated : Mar 09,2021



विभिन्न व्यंजन
मुगलई रोटी
हरा भरा टिक्की रोल रेसिपी | पालक कबाब रोल | हेल्दी वेज रैप | वजन घटाने के लिए हेल्दी रैप

एक हरा भरा टिक्की रोल की कितनी कैलोरी होती है?

एक हरा भरा टिक्की रोल की 374 कैलोरी देता है। जिसमें से कार्बोहाइड्रेट में 200 कैलोरी होती है, प्रोटीन में 57 कैलोरी होती है और शेष कैलोरी वसा से होती है जो 118 कैलोरी होती है। एक हरा भरा टिक्की रोल की 2,000 कैलोरी के एक मानक वयस्क आहार की कुल दैनिक कैलोरी आवश्यकता का लगभग 19 प्रतिशत प्रदान करता है।

हरा भरा टिक्की रोल की रेसिपी देखने के लिए यहां क्लिक करें। 

तैयार हो जायें इस बेहतरीन स्वादिष्ट हरा भरा टिक्की रोल में डूब जाने के लिए जिसे पहाड़ी मेरीनेड के सात बनाया गया है। पुदिने के स्वाद से भरे इस मेरीनेड का तीखे टक्की का मेल इसे मजेदार नाश्ता बनाता है। और क्या चाहिए, इस स्वादिष्ट रोल में लैट्यूस और पालक अपने हिस्से का विटामीन ए और लौह प्रदान करते हैं।

क्या हरा भरा टिक्की रोल स्वस्थ है?

हाँ, यह स्वस्थ है। लेकिन प्रतिबंध कुछ पर लागू होते हैं।

आइये समझते हैं हरा भरा टिक्की रोल की रेसिपी की सामग्री।

क्या अच्छा है।

1. चना दाल (स्प्लिट बिंगल चना, beneftis of chana dal, split bengal gram in hindi): पका हुआ चना दाल का एक कप दिन के लिए आपके प्रोटीन का 33% प्रदान करता है। चना दाल दिल और मधुमेह के अनुकूल हैफाइबर में भी समृद्ध है। चना दाल में पोटेशियम की उच्च मात्रा और सोडियम की कम मात्रा होती है जो आपके रक्तचाप को नियंत्रित करने में बहुत प्रभावी बनाता है। चना दाल के संपूर्ण लाभों पर यह लेख पढ़ें।

2. अदरक, अद्रक (Benefits of Ginger in Hindi): अदरक कन्जेशन, गले की खराश, सर्दी और खांसी के लिए एक प्रभावी इलाज है। यह अपाचन को ठीक करता है और कब्ज से भी राहत देता है। अदरक को माहवारी के दर्द (menstrual pain) से राहत देने में दवाओं के रूप में प्रभावी पाया गया है। अदरक उच्च कोलेस्ट्रॉल वाले रोगियों में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में भी मदद करता है। अदरक गर्भवती महिलाओं में जी मचलने (nausea) के लक्षणों को काफी कम करता है। अदरक के 16 सुपर स्वास्थ्य लाभ के लिए यहाँ पढें।

3. लहसुन (garlic benefits in hindi): लहसुन कोलेस्ट्रॉल को कम करता है। लहसुन में मौजूद सक्रिय तत्व एलिसिन रक्तचाप को कम करने में सहायक होता है।  लहसुन मधुमेह के रोगियों  में रक्त शर्करा के स्तर को नियमित करने में भी मदद करता है। लहसुन हार्ट के लिए अच्छा  और संचार प्रणाली के लिए बहुत अच्छा है। लहसुन में एक रोगाणुरोधी, एंटीवायरल और एंटिफंगल फ़ंक्शन होता है और सामान्य सर्दी और अन्य वायरल संक्रमण से राहत दिलाने में मदद कर सकता है। अपनी प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने के लिए दिन में एक लहसुन का सेवन करें |  लहसुन एक एंटी वायरल सामग्री है। थायोसल्फेट यौगिक, लहसुन में पाया जाने वाला एलिसिन एक मजबूत एंटीऑक्सीडेंट के रूप में काम करता है और हमारे शरीर को मुक्त कणों से होने वाले नुकसान से बचाता है। लहसुन के संपूर्ण लाभों के लिए यहां पढ़ें।

4. हरी मिर्च | green chillies benefits in hindi | : हरी मिर्च में  मौजूद  एंटीऑक्सिडेंट विटामिन सी शरीर को हानिकारक मुक्त कणों के प्रभाव से बचाता है और तनाव से बचाता है। इसका उच्च फाइबर है जो रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करता है। यह एक डायबिटिक आहार के लिए एक योग्य अवयव है। क्या आप एनीमिया (anaemia ) से पीड़ित हैं? तो हरी मिर्च को अपनी आयरन युक्त खाद्य पदार्थों की सूची में जरुर शामिल करें। पूरी जानकारी के लिए हरी मिर्च के फायदे देखें।

5. पालक (benefits of spinach in hindi): पालक  आयरन के सबसे उत्कृष्ट स्‍त्रोत में से एक है और यह सभी के स्वस्थ आहार का हिस्सा होना चाहिए। कच्ची पालक 25% घुलनशील फाइबर और 75% अघुलनशील फाइबर से भरपूर होती है। पालक स्वस्थ हार्टमधुमेह और आंखों के लिए अच्छी है। पालक के 17 लाभ पढ़ें और जानिए आपको इसे क्यों खाना चाहिए।

6. हरे मटर (हरी मटर, benefits of green peas in hindi ) : हरे मटर वजन घटाने के लिए अच्छे हैं, शाकाहारी प्रोटीन का अच्छा स्रोत हैं और कब्ज से राहत देने के लिए उनमें अघुलनशील फाइबर भी है। हरे मटर, चवली, मूंग, चना और राजमा में कोलेस्ट्रॉल कम कम करने की क्षमता होता है। हरे मटर विटामिन के से भी भरपूर होती हैं ,जो हड्डियों के चयापचय में सहायक होते हैं । हरे मटर में का ग्लाइसेमिक इंडेक्स (जी. आई.) 22 होता है, जो मधुमेह रोगियों के लिए कम और अच्छा होता है। क्या हरे मटर मधुमेह रोगियों के लिए अच्छे हैं और हरे मटर के पूर्ण लाभ देखें।

7. पनीर + कम वसा वाले पनीर (paneer, low fat paneer, benefits in hindi) : पनीर में उच्च गुणवत्ता वाला प्रोटीन और कैल्शियम होता हैजो वजन घटाने में सहायक होता है। चूंकि पनीर कार्ब्स में कम है और प्रोटीन में उच्च है, यह धीरे-धीरे पचता है और इसलिए मधुमेह के लिए अच्छा है। पनीर में पोटेशियम उच्च मात्रा में होता है जो सोडियम के प्रभाव को कम करने में मदद करता है, जिससे रक्तचाप कम होता है और रक्त वाहिकाओं का संकुचन होता है, जिससे हृदय स्वास्थ्य में सुधार होता है और दिल के दौरे का खतरा कम होता है। वजन कम करने के लिएबढ़िया और दिलचस्प लेख पढ़ें क्या पनीर आपके लिए अच्छा है? कम वसा वाले पनीर में पूर्ण-वसा वाले पनीर के समान सभी पोषक तत्व होते हैं, बस वसा की कमी होती है।

8. दही + कम वसा वाले दही (benefits of curds, low fat curds in hindi)दही पाचन में मदद करते हैं क्योंकि इसमें बहुत अच्छे बैक्टीरिया होते हैं। दही में प्रोबायोटिक्स एक हल्के रेचक के रूप में कार्य करता है और दस्त और पेचिश के मामले में, यह एक वरदान है, अगर दही चावल के साथ उपयोग किया जाता है। वे वजन कम करने में मदद करते हैं, आपके हार्ट के लिए अच्छा है और प्रतिरक्षा का निर्माण करते हैं। दही और कम फॅट वाले दही के बीच एकमात्र अंतर वसा का स्तर होता है। अपने दैनिक आहार में शामिल करने के लिए दही के लाभों को पढ़ें।

9. पुदीने के पत्ते (Benefits of Mint Leaves, Pudina in Hindi): पुदीना (mint leaves) अनुत्तेजीक (anti-inflammatory) होने के कारण पेट में इन्फ्लमेशन (inflammation) को कम करता है। ताजा पुदीना और लेमन टी जैसे हेल्दी ड्रिंक पर गर्भवती महिलाओं के लिए जी मिचलने के एहसास को दूर करने का सबसे अच्छा विकल्प है। इसके अलावा इसमें मौजूद विटामिन ए (आर.डी.ए. का 10%) और विटामिन सी (20.25%) खांसी, गले में खराश और जुखाम से राहत दिलाने के लिए काम करते हैं। पुदीना एक ऐसी सब्जी है जो कैलोरी, कार्ब्स या वसा को जमा किए बिना पौष्टिक व्यंजन बना सकता है। असल में यह जो प्रदान करता है वो है फाइबर। पुदीने की पत्तियों के विस्तृत लाभ पढें।

10. धनिया (कोथमीर, धनिया, corainder benefits in hindi): धनिया एक ताजा जड़ी बूटी है जिसे अक्सर भारतीय पाक कला में स्वाद बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इसका मुख्य रूप से एक गार्निश के रूप में उपयोग किया जाता है। यह इसका उपयोग करने का सबसे अच्छा तरीका है - कोई खाना पकाने नहीं। यह इसकी विटामिन सी की मात्रा को संरक्षित रखता है, जो हमारी प्रतिरक्षा का निर्माण करने और त्वचा में चमक लाने में मदद करता है। धनिया में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट विटामिन ए, विटामिन सी और क्वेरसेटिन हमारे इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने की दिशा में काम करते हैं। धनिया आयरन और फोलेट का भी काफी अच्छे स्रोत हैं - 2 पोषक तत्व जो हमारे रक्त में लाल रक्त कोशिकाओं (red blood cells ) के उत्पादन और रखरखाव में मदद करते हैं। धनिया कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए भी अच्छा है और मधुमेह रोगियों के लिए भी। विवरण समझने के लिए धनिए के 9 लाभ पढ़ें।

11. जीरा (Benefits of Cumin Seeds, jeera in Hindi): जीरा का सबसे लाभ जो कई लोगों को पता है वह है पेट, आंत और पूरे पाचन तंत्र को  आराम पहुँचाना। जीरा जाहिर तौर पर आयरन का बहुत अच्छा स्रोत है। एक टेस्पून जीरे आयरन की दैनिक आवश्यकता का लगभग 20% पूरा कर सकते है। जीरे की थोड़ी मात्रा में भी कैल्शियम की भारी मात्रा होती है - यह एक हड्डियों का  भरण-पोषण करने वाला खनिज है। यह पाचन, वजन घटाने और इन्फ्लमेशन (inflammation) को कम करने में भी मदद करता है। जीरा के विस्तृत लाभ पढें।

12. नींबू, नींबू का रस benefits of lemon, lemon juice in hindi): नींबू विटामिन सी का एक बहुत अच्छा स्रोत है और इस प्रकार रक्त में सफेद रक्त कोशिकाओं और एंटीबॉडी के उत्पादन में मदद करता है जो आक्रमणकारी सूक्ष्मजीवों पर हमला करता है, संक्रमण को रोकता है और प्रतिरक्षा का निर्माण करता है। इसलिए आम सर्दी से बचाव के लिए नींबू का रस दिया जाता है। नींबू के रस में एस्कॉर्बिक एसिड भोजन से लोहे के अवशोषण में मदद करता है। तो अगर आपको आयरन की कमी है या एनीमिया ( anaemia ) है तो आयरन से भरपूर रेसिपी पर नींबू निचोड़ें। नींबू, नींबू के रस के विस्तृत लाभ देखें।

13. फ्रेश क्रीम ( ताजा क्रीम, fresh cream benefits in hindi): 1 बड़ा चम्मच फ्रेश क्रीम  (15 ग्राम) लगभग 18 कैलोरी प्रदान करता है, जिसमें से 16 कैलोरी संतृप्त वसा से होती है। देर तक, संतृप्त वसा को हमेशा उस बुरी वसा के रूप में देखा जाता था जो उच्च कोलेस्ट्रॉल स्तर और स्ट्रोक को जन्म देता है। पर तत्काल, अध्ययनों में ऐसा कोई संबंध नहीं पाया गया है। तो, अगला सवाल यह उठता है कि "क्या संतृप्त वसा स्वस्थ है?" अपने आहार को समग्रता वश देखना अधिक महत्वपूर्ण है। वास्तव में वसा, आपको लंबे समय तक भरा रखेगा और ज़्यादा खाने से और वजन बढ़ने से बचाएगा। और हाँ, विटामिन ए, डी, ई और के जैसे वसा में घुलनशील होनेवाले विटामिन के अवशोषण के लिए शरीर को कुछ मात्रा में वसा की आवश्यकता भी होती है।

14. गाजर (benefits of carrots in hindi)गाजर में पोषक तत्व बीटा कैरोटीन होता है जो विटामिन ए का एक रूप है, इससे आंखें खराब होने से बचती है क्योंकि एक उम्र बढ़ने पर रात के अंधेपन को रोकता है। गाजर आंखों के लिए बहुत अच्छा होता है। वे कब्जनिम्न रक्तचाप से राहत देते हैं, फाइबर और कम कोलेस्ट्रॉल होते हैं। गाजर के 11 सुपर लाभ और पढ़ें अपने दैनिक आहार में क्यों शामिल करें।

15. प्याज (प्याज़, कांदा, onion benefits in hindi): कच्चा प्याज विटामिन सी का एक बहुत मूल्यवान स्रोत है - प्रतिरक्षा निर्माण विटामिन।अन्य phytonutrients के साथ प्याज , यह WBC (श्वेत रक्त कोशिकाओं), (white blood cellsका निर्माण करने में मदद करता है, जो बीमारी से बचाव की एक पंक्ति के रूप में कार्य करता है। हां, यह कई एंटीऑक्सिडेंट का एक स्रोत है, उनमें से सबसे महत्वपूर्ण क्वेरसेटिन है। प्याज में रहीत क्वेरसेटिन एचडीएल (अच्छे कोलेस्ट्रॉल) के उत्पादन को बढ़ावा देता है और शरीर में कुल कोलेस्ट्रॉल को कम करता है। प्याज में मौजूद सल्फर रक्त को पतला करने का काम करता है। यह रक्तचाप को कम करता है और हार्टमधुमेह जैसे रोगियों के लिए अच्छा है। पढ़िए प्याज के फायदे।

16. कश्मीरी मिर्च (Benefits of Kashmiri chilli): लाल मिर्च की तरह, कश्मीरी मिर्च में भी विटामिन सी होता है, हालांकि ताजी लाल मिर्च की तुलना में कम मात्रा में होता है। यह प्रतिरक्षा को बढ़ावा देने और त्वचा के स्वास्थ्य में सुधार करने में मदद करता है। उनमें बी विटामिन के साथ-साथ कॉपर, पोटेशियम, मैंगनीज, मैग्नीशियम और लोह की थोडी मात्रा भी होती है। कश्मीरी मिर्च पाउडर की थोड़ी मात्रा पाचन में सहायता कर सकती है, लेकिन अधिक मात्रा पाचन तंत्र के अस्तर पर असर कर सकती है।

17. लेटिस, सलाद के पत्ते (Benefits of Lettuce, Salad ke Patte in hindi): लेटिस में कम कैलोरी होती है और यह वजन घटाने में सहायक होता है। विटामिन सी से भरपूर होने के कारण, यह सफेद रक्त कोशिकाओं (white blood cells - WBC) को बढ़ाने में मदद करने के माध्यम से प्रतिरक्षा निर्माण (immune building) के लिए काम आता है। लेटिस मेंं विटामिन ए की भी अच्छी मात्रा होती है, जो इन्फ्लमेशन को रोकता है और आंखों की रोशनी में सुधार करता है। यह दिल को स्वस्थ रखता है और मधुमेह का प्रबंधन भी करता है। यह फोलिक एसिड में भी समृद्ध होता है, एक ऐसा पोषक तत्व जिसका एक गर्भवती महिला को गर्भावस्था से बहुत पहले ही रीज़र्व बनाना शुरू कर देना चाहिए। लेटिस के विस्तृत लाभ पढें।

18. गरम मसाला के फायदे, स्वास्थ्य विषयक (benefits of Garam Masala)
• चूंकी इस मसाले का प्रयोग बहुत कम मात्रा में किया जाता है, इसमें बहुत ज़्यादा लाभ नहीं होते।
• फिर भी, लौंग और काली मिर्च जैसे लाभदायक मसालों का प्रयोग पाचन और प्रतिरक्षी तंत्र स्वस्थ रखने में मदद करता है।

समस्या क्या है।

ब्रेड क्रम्ब्स के लिए - मैदा आटा ( plain flour problems in hindi): मैदा ( plain flour problems in hindi): यह नुस्खा मैदा का उपयोग करता है जो कि रिफाइन्ड कार्ब है और स्वस्थ जीवन शैली के लिए उपयुक्त नहीं है। किसी भी भोजन में मैदा के सेवन पूरी तरह से टालना चाहिए या बहुत थोड़ा सा उपयोग करना चाहिए क्योंकि इसके सेवन से रक्त के स्तर में बढावा होता है, जो मधुमेह रोगियों और हृदय रोगियों के लिए अच्छा नहीं होता है। प्रीडायबिटीज का विकास अनियंत्रित चीनी और रिफाइन्ड खाद्य उत्पादों को कई वर्षों तक खाने से होता है और यदि आपके पास अतिरिक्त वसा है तो यह क्लासिक लक्षण है। इससे मधुमेह और आगे चलकर दिल का दौरा, उच्च रक्तचाप, स्ट्रोक, नपुंसकता और गुर्दे की क्षति हो सकती है। पूरी तरह से समझने के लिए पढ़ें - क्या मैदा सचमुच अच्छा है?

ध्यान दें : 1 कप = 200 मिलीलीटर (बाजार में आसानी से उपलब्ध है)। प्रत्येक घटक का ग्राम में वजन भिन्न होता है।

क्या डायबिटीज के मरीज, दिल के मरीज और अधिक वजन वाले लोग हरा भरा टिक्की रोल का सकते हैं?

जी हां, यह नुस्खा मधुमेह, हृदय और वजन घटाने के लिए अच्छा है। हारा भार टिक्की - सभी के लिए एक स्वस्थ नाश्ता। पौष्टिक समृद्ध भोजन, पनीर एक पौष्टिक स्नैक बनाने के लिए स्वादिष्ट पुदीने के पत्तों के साथ जोड़ा जाता है - हारा भारा टिक्की। शाकाहारी लोगों के लिए पनीर कैल्शियम और प्रोटीन का सबसे बड़ा स्रोत है। शरीर के प्रत्येक कोशिका का पोषण करना आवश्यक है, इसमें सभी अंगों और हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली भी शामिल है। यह हमारी हड्डियों को भी सपोर्ट करता है। दूसरी ओर, सुखदायक और सुगंधित पुदीना, एंटीऑक्सिडेंट, विटामिन ए और विटामिन सी में घुल जाता है जो आपकी कोशिकाओं को मुक्त कणों के हानिकारक नुकसान से बचाता है।

कम से कम अवयवों के साथ बनाई गई इन सुकुमार टिक्कियों को स्वस्थ व्यक्तियों, हृदय की समस्याओं और मधुमेह के रोगियों द्वारा भी खोजा जा सकता है। यह सच है कि सादा आटा (मैदा): ब्रेड क्रम्ब्स के लिए - मैदा आटा के लिए इन टिक्कियों में उन्हें बाँधने के लिए मिलाया गया है, लेकिन मात्रा अधिक नहीं है। मधुमेह और वजन कम करने के लक्ष्य रखने वालों को ब्रेड क्रम्ब्स के कारण इन टिक्कियों से दूर होने की आवश्यकता नहीं है।

क्या स्वस्थ व्यक्ति हरा भरा टिक्की रोल का सकते हैं?

हाँ, यह स्वस्थ है।

एक हरा भरा टिक्की रोल में उच्च है।

1. प्रोटीन: शरीर के सभी कोशिकाओं के भरण-पोषण के लिए प्रोटीन की आवश्यकता होती है।

2. फाइबर: फाइबर हृदय रोग के जोखिम को कम करता है, रक्त शर्करा के स्तर में तुरंत बढावे को रोकता है और इसलिए मधुमेह रोगियों के लिए फायदेकारक है। फल, सब्जियां, मूंग, ओट्स, मटकी, साबुत अनाज का सेवन करें।

3. विटामिन : विटामिन स्वस्थ दृष्टि, कोशिकाओं की वृद्धि और स्वस्थ त्वचा के लिए महत्वपूर्ण है।

4. विटामिन बी 1विटामिन बी 1 नसों की रक्षा करता है, कार्बोहाइड्रेट चयापचय में मदद करता है, हृदय रोगों से बचाता है और लाल रक्त कोशिकाओं का उत्पादन करने में मदद करता है।

5. विटामिन बी 2 (राइबोफ्लेविन): विटामिन बी 2 लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन में सक्षम बनाता है जो आपकी ऊर्जा के स्तर में वृद्धि में योगदान करते हैं। इसलिए दूध, दही, अंडे और हरी पत्तेदार सब्जियां ज्यादा लें।

6. विटामिन बी 3 (नायासिन): विटामिन बी 3 मस्तिष्क के कामकाज और मानसिक स्वास्थ्य में मदद करता है। इसके अलावा स्वस्थ त्वचा भी बनाए रखता है।

7. विटामिन सीविटामिन सी खांसी और जुकाम के खिलाफ हमारीरोग प्रतिरोधक शक्ति बढाता है।

8. विटामिन सीविटामिन सी खांसी और जुकाम के खिलाफ हमारीरोग प्रतिरोधक शक्ति बढाता है।

9. कैल्शियम: कैल्शियम एक ऐसा खनिज है जो हड्डियों को मजबूत रखने के लिए एक आवश्यक खनिज है। बच्चों से वयस्कों सब के लिए आवश्यक है।

10. आयरन: खाद्य पदार्थों से ऊर्जा उत्पन्न करने वाली रासायनिक प्रतिक्रियाओं में आयरन आवश्यक होता है। अपने आपको एनीमिया से बचाने के लिए अधिक हरी सब्जियाँ और हलीम के बीज का सेवन करें। यहाँ आयरन से भरपूर 7 स्रोत पढें।

11. मैग्नीशियम: हड्डियों और दांतों के निर्माण के लिए मैग्नीशियम की आवश्यकता होती है। कैल्शियम और पोटेशियम के चयापचय में भी यह मदद करता है।

12. फॉस्फोरसफॉस्फोरस हड्डियों के निर्माण के लिए कैल्शियम के साथ मिलकर काम करता है।

13. पोटेशियम: उच्च रक्तचाप वाले लोगों के लिए पोटेशियम महत्वपूर्ण होता है क्योंकि यह सोडियम के प्रभाव को संतुलित करता है। अधिक एवोकाडो, केला, तरबूज, पपीता, आलूबुखारा और चकोतरा खाएं।

14. ज़िंक: ज़िंक कोलेजन संश्लेषण (collagen synthesis) में शामिल होकर त्वचा की मरम्मत में मदद करता है और प्रतिरक्षा (immunity) का निर्माण करने में भी मदद करता है।

नोट: एक नुस्खा एक विटामिन या खनिज में उच्च तब माना जाता है, जब वह 2,000 कैलोरी के आहार पर आधारित 20% या उससे ऊपर की दैनिक आवश्यकता (recommended daily allowance) को पूरा करता है।

एक हरा भरा टिक्की रोल से आने वाली 375 कैलोरी कैसे बर्न करें?

चलना (6 किमी प्रति घंटा) = 1 घंटा 58 मिनट
दौड़ना (11 किमी प्रति घंटा) = 37 मिनट
साइकिल चलाना (30 किमी प्रति घंटा) = 50 मिनट
तैरने की (2 किमी प्रति घंटा)= 1 घंटा 4 मिनट

नोट: ये मूल्य अनुमानित हैं और प्रत्येक व्यक्ति में कैलोरी बर्निंग में अंतर है।

मूल्य प्रति roll% दैनिक मूल्य
ऊर्जा300 कैलरी15%
प्रोटीन11.4 ग्राम21%
कार्बोहाइड्रेट39.9 ग्राम13%
फाइबर9.3 ग्राम37%
वसा10.6 ग्राम16%
कोलेस्ट्रॉल2.9 मिलीग्राम1%
विटामिन
विटामिन ए2821.8 माइक्रोग्राम59%
विटामिन बी 1 ()0.3 मिलीग्राम30%
विटामिन बी 2 ()0.3 मिलीग्राम27%
विटामिन बी 3 ()2.3 मिलीग्राम19%
विटामिन सी21 मिलीग्राम52%
विटामिन ई1.1 मिलीग्राम7%
फोलिक एसिड (विटामिन बी 9)109.1 माइक्रोग्राम55%
मिनरल
कैल्शियम170.9 मिलीग्राम28%
लोह5.5 मिलीग्राम26%
मैग्नीशियम109.9 मिलीग्राम31%
फॉस्फोरस276 मिलीग्राम46%
सोडियम2400.4 मिलीग्राम126%
पोटेशियम358.9 मिलीग्राम8%
जिंक1.1 मिलीग्राम11%
प्रतिशत दैनिक मूल्य 2000 कैलोरी आहार पर आधारित हैं। आपका दैनिक मूल्य अधिक या कम हो ना आपकी प्रतिदिन की आवश्यक कैलोरी की जरूरतों पर निर्भर करता है।
अन्य संबंधित व्यंजनों की कैलोरी

Reviews