पानी-पुरी की रेसिपी के पोषण संबंधी जानकारी | पानी-पुरी की रेसिपी की कैलोरी | calories for Pani Puri, Paani Puri, Golgappa Recipe in hindi
द्वारा

This calorie page has been viewed 5298 times Last Updated : Jun 22,2020



विभिन्न व्यंजन
जैन नाश्ता की रेसिपी
कोर्स रेसिपी, वेज मुख्य व्यंजनों
मनपसंद रेसिपी
कोर्स रेसिपी, वेज मुख्य व्यंजनों
मनोरंजन के लिए नाश्ते
पानी-पुरी की रेसिपी  | गोलगप्पा रेसिपी | होममेड पानी पूरी |

पानी पुरी की कितनी कैलोरी है?

पानी पुरी की एक सर्विंग में 329 कैलोरी मिलती है। जिसमें से कार्बोहाइड्रेट में 207 कैलोरी होती है, प्रोटीन में 38 कैलोरी होती है और शेष कैलोरी वसा से होती है जो 82 कैलोरी होती है। पनी पुरी की एक सेवारत 2,000 कैलोरी के मानक वयस्क आहार की कुल दैनिक कैलोरी आवश्यकता का लगभग 16 प्रतिशत प्रदान करती है।

देखें पानी पुरी कैलोरी स्टेप बाय स्टेप फोटो।

क्या पानी पुरी स्वस्थ है?

नहीं, यह स्वस्थ नहीं है। आइए देखें क्यों।

आइए सामग्री को समझते हैं।

इसमें क्या अच्छा है

पुदीने के पत्ते (Benefits of Mint Leaves, Pudina in Hindi): पुदीना (पुदीना) अनुत्तेजीक (anti-inflammatory) होने के कारण पेट में इन्फ्लमेशन (inflammation) को कम करता है। ताजा पुदीना और लेमन टी जैसे हेल्दी ड्रिंक पर गर्भवती महिलाओं के लिए जी मिचलने के एहसास को दूर करने का सबसे अच्छा विकल्प है। इसके अलावा इसमें मौजूद विटामिन ए (आर.डी.ए. का 10%) और विटामिन सी (20.25%) खांसी, गले में खराश और जुखाम से राहत दिलाने के लिए काम करते हैं। पुदीना एक ऐसी सब्जी है जो कैलोरी, कार्ब्स या वसा को जमा किए बिना पौष्टिक व्यंजन बना सकता है। असल में यह जो प्रदान करता है वो है फाइबर। पुदीने की पत्तियों के विस्तृत लाभ पढें।

इमली (benefits of imli, tamarind in hindi): इमली में मौजूद फाइबर के कारण इमली हार्ट के लिए अच्छा होती है और साथ ही कोलेस्ट्रॉल भी कम करती है। यह मधुमेह रोगियों के लिए भी अच्छी है। लेकिन बहुत ज्यादा इमली सेहत के लिए हानिकारक होती है।

इसमें क्या दिक्कत है?

रवा (सूजी) Benefits of Rava, Sooji, Semolina in Hindi: रवा में क्या अच्छा है - सूजी मैग्नीशियम और फास्फोरस का काफी अच्छा स्रोत है जो हमारे नर्वस सिस्टम को स्वस्थ रखन के लिए आवश्यक है। लेकिन इसमें फाइबर नहीं होता है जो स्वस्थ दिल को बनाए रखने के लिए महत्वपूर्ण पोषक तत्वों में से एक है। इसलिए केवल सादा रवा उपमा का विकल्प न चुनें… इसके बजाय कुछ स्प्राउट्स या वेजिटेब्ल उसमें टॉस करें और साथ ही नमक की मात्रा को सीमित रख कर इसे कभी-कभार अपने भोजन में शामिल करें। रवा के अवगुण क्या हैं? वजन घटाने के लिए फाइबर एक महत्वपूर्ण पोषक तत्व है और सूजी इससे रहित है। सूजी मधुमेह रोगियों के लिए भी उपयुक्त नहीं है। अधिक जानकारी के लिए पढ़े सूजी कितनी स्वस्थ है?

मैदा आटा ( plain flour problems in hindi): मैदा ( plain flour problems in hindi): यह नुस्खा मैदा का उपयोग करता है जो कि रिफाइन्ड कार्ब है और स्वस्थ जीवन शैली के लिए उपयुक्त नहीं है। किसी भी भोजन में मैदा के सेवन पूरी तरह से टालना चाहिए या बहुत थोड़ा सा उपयोग करना चाहिए क्योंकि इसके सेवन से रक्त के स्तर में बढावा होता है, जो मधुमेह रोगियों और हृदय रोगियों के लिए अच्छा नहीं होता है। प्रीडायबिटीज का विकास अनियंत्रित चीनी और रिफाइन्ड खाद्य उत्पादों को कई वर्षों तक खाने से होता है और यदि आपके पास अतिरिक्त वसा है तो यह क्लासिक लक्षण है। इससे मधुमेह और आगे चलकर दिल का दौरा, उच्च रक्तचाप, स्ट्रोक, नपुंसकता और गुर्दे की क्षति हो सकती है। पूरी तरह से समझने के लिए पढ़ें - क्या मैदा सचमुच अच्छा है?

डीप फ्राइड फूड्स, तले हुए नाश्ते (Deep Fried Foods in Hindi): यह रेसिपी डीप फ्राइड है। कोई भी भोजन जो तले हुए हैं, वो स्वस्थ रहने के लिए उपयुक्त नहीं होते हैं। डीप फ्राई करने से आपका मोापा बढ़ सकता है क्योंकि तलने में अधिक तेल सोखा जाता है। इसके अलावा जब आप तलने के लिए फिर से उसी तेल का उपयोग करते हैं तो उसका स्मॉकींग पॉइन्ट (smoking point) कम हो जाता है, जिससे नीले धुएं का विकास होता है जो स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं होता है। प्रोसेस्ड फूड, डीप फ्राइड फूड्स शरीर में इन्फ्लमेशन (inflammation) बढ़ाते हैं और वसा जलने की प्रक्रिया को बंद कर देते हैं। अधिकांश बीमारियां जैसे कि हृदय की, डायबिटीज, पार्किंसन, अल्जाइमर, कैंसर और मोटापे का कारण होता है कोशिकाओं का इन्फ्लमेशन (inflammation) और फिर यहसही ढंग से काम नहीं करते हैं। धमनियों में इन्फ्लमेशन (inflammation) दिल के दौरे का कारण बन सकता है। इसलिए आपके आहार में ऐसे खाद्य पदार्थ होने चाहिए जो शरीर में इन्फ्लमेशन (inflammation) से लड़ें। इसी तरह आपका शरीर स्वस्थ रह सकता है। इसलिए आपने स्वस्थ रहने के लिए अपने शरीर में कोशिकाओं को सही भोजन दिया है और यह आपके जीवन के बाकी हिस्सों के लिए रोग मुक्त रहने में बहुत महत्वपूर्ण है।

क्या मधुमेह, हृदय रोगी और अधिक वजन वाले व्यक्तियों में पैनी पुरी खा सकती है?

नहीं, यह नुस्खा मधुमेह, हृदय और वजन घटाने के लिए अच्छा नहीं है। प्यूरिस पनी प्यूर प्रेमियों द्वारा खाए जाने वाले प्यूरी हैं जो समस्या है। पूरियां सादे आटे और रवा से बनाई जाती हैं जिन्हें अगर आप एक स्वस्थ जीवन जीना चाहते हैं तो अपने आहार से बाहर निकाल दें। क्या बुरा है कि puris तो गहरी तली हुई हैं। इसलिए पूरियों से दूर रहें। सबसे अच्छी बात यह है कि आप थोड़ा सा पाणिग्रहण कर सकते हैं, लेकिन बैठना नहीं चाहिए और पाणी के प्याले रखना चाहिए क्योंकि इसमें इमली होती है जिसे प्रतिबंधित मात्रा में होना चाहिए।

क्या आपको कोई स्वस्थ चाट रेसिपी सुझाई गई है?

हाँ, हम आपको ओट्स चाट, मूंग दाल की चाट, गजर और मूंग दाल की चाट और पानर और हरे चने की चाट जैसे निम्नलिखित स्वस्थ चाट विकल्प सुझाते हैं। इन सभी चाट रेसिपी में कोई तले हुए खाद्य पदार्थ नहीं होते हैं और दाल, ओट्स और चना से बने होते हैं जो स्वस्थ होते हैं।

मूँग दाल की चाट - Moong Dal Ki Chaat (100 Calorie Snacks)

मूँग दाल की चाट - Moong Dal Ki Chaat (100 Calorie Snacks)

क्या स्वस्थ व्यक्तियों में पानी पुरी खा सकती है?

नहीं, यह स्वस्थ नहीं है। कोई भी भोजन जो गहरे तले हुए हैं, स्वस्थ रहने के लिए उपयुक्त नहीं है। डीप फ्राई करने से आपका फैट लेवल बढ़ता है जिससे तेल का अवशोषण बढ़ता है। जब आप गहरी तलने के लिए फिर से उसी तेल का उपयोग करते हैं तब धूम्रपान बिंदु कम हो जाता है जो नीले धुएं के विकास की ओर जाता है जो स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं है। प्रोसेस्ड फूड, डीप फ्राइड फूड्स भी शरीर में सूजन बढ़ाते हैं और वसा जलने की प्रक्रिया को बंद कर देते हैं। हृदय से अधिकांश बीमारियाँ, कार्डियो वैस्कुलर, डायबिटीज, पार्किंसंस, अल्जाइमर, कैंसर और मोटापे के परिणामस्वरूप जब कोशिकाएँ फूल जाती हैं और तब सही ढंग से काम नहीं करती हैं।

पानी पुरी में यह अधिक होता है

1. फाइबर: फाइबर हृदय रोग के जोखिम को कम करता है, रक्त शर्करा के स्तर में तुरंत बढावे को रोकता है और इसलिए मधुमेह रोगियों के लिए फायदेकारक है। फल, सब्जियां, मूंग, ओट्स, मटकी, साबुत अनाज का सेवन करें।

2. फोलिक एसिड: फॉलिक एसिड पूरे गर्भावस्था के लिए एक आवश्यक विटामिन है।

3. विटामिन सी: विटामिन सी खांसी और जुकाम के खिलाफ हमारीरोग प्रतिरोधक शक्ति बढाता है।

4. आयरन: खाद्य पदार्थों से ऊर्जा उत्पन्न करने वाली रासायनिक प्रतिक्रियाओं में आयरन आवश्यक होता है। अपने आपको एनीमिया से बचाने के लिए अधिक हरी सब्जियाँ और हलीम के बीज का सेवन करें। यहाँ आयरन से भरपूर 7 स्रोत पढें।

5. विटामिन बी 1: विटामिन बी 1 नसों की रक्षा करता है, कार्बोहाइड्रेट के चयापचय में मदद करता है, हृदय रोग से बचाता है और लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन में मदद करता है।

नोट: एक नुस्खा एक विटामिन या खनिज में उच्च तब माना जाता है, जब वह 2,000 कैलोरी के आहार पर आधारित 20% या उससे ऊपर की दैनिक आवश्यकता (recommended daily allowance) को पूरा करता है।

पानी पुरी की एक सर्विंग से आने वाली 329 कैलोरी कैसे बर्न करें?

चलना (6 किमी प्रति घंटा) = 1 घंटा 39 मिनट

दौड़ना (11 किमी प्रति घंटा) = 33 मिनट

साइकिल चलाना (30 किमी प्रति घंटा) = 44 मिनट

तैराकी (2 किमी प्रति घंटा) = 56 मिनट

नोट: ये मूल्य अनुमानित हैं और प्रत्येक व्यक्ति में कैलोरी बर्निंग में अंतर है।

मूल्य प्रति serving% दैनिक मूल्य
ऊर्जा329 कैलरी16%
प्रोटीन9.4 ग्राम17%
कार्बोहाइड्रेट51.8 ग्राम17%
फाइबर6.3 ग्राम25%
वसा9.1 ग्राम14%
कोलेस्ट्रॉल0 मिलीग्राम0%
विटामिन
विटामिन ए572.3 माइक्रोग्राम12%
विटामिन बी 1 ()0.2 मिलीग्राम20%
विटामिन बी 2 ()0.1 मिलीग्राम9%
विटामिन बी 3 ()1.2 मिलीग्राम10%
विटामिन सी8.5 मिलीग्राम21%
विटामिन ई0 मिलीग्राम0%
फोलिक एसिड (विटामिन बी 9)72.6 माइक्रोग्राम36%
मिनरल
कैल्शियम96.7 मिलीग्राम16%
लोह5.8 मिलीग्राम28%
मैग्नीशियम43.3 मिलीग्राम12%
फॉस्फोरस76.5 मिलीग्राम13%
सोडियम20.5 मिलीग्राम1%
पोटेशियम223.7 मिलीग्राम5%
जिंक0.8 मिलीग्राम8%
प्रतिशत दैनिक मूल्य 2000 कैलोरी आहार पर आधारित हैं। आपका दैनिक मूल्य अधिक या कम हो ना आपकी प्रतिदिन की आवश्यक कैलोरी की जरूरतों पर निर्भर करता है।
अन्य संबंधित व्यंजनों की कैलोरी

Reviews