पानी-पुरी की रेसिपी | गोलगप्पा रेसिपी | होममेड पानी पूरी | | Pani Puri, Paani Puri, Golgappa Recipe
द्वारा

पानी-पुरी की रेसिपी | गोलगप्पा रेसिपी | होममेड पानी पूरी | pani puri recipe in hindi language | with 33 amazing images.


पानी-पुरी की रेसिपी उत्तर भारत में 'गोलगप्पा' और पश्चिम बंगाल में 'पुचका' के नाम से जाना जाता है। आप मिले जुले दानों के बदले में रगड़े का भी उपयोग कर सकते हैं। कुकरी सूजी की पुरी और साथ ही मिले जुले अंकुरित दानें और पुदिनेवाला पानी सभी मिलकर गर्मियों के मौसम के लिए एक उपयुक्त नाश्ता बनता है।

यूँ तो आप यह पुरी बाज़ार से भी ला सकते हैं, पर समय हो तो इन्हें घर पर बनाना जरूर आज़माएँ। बस, याद रखें कि इन्हें हवा बंध डिब्बे में भरकर रखें। आप इन्हें ओवन में धीमी आँच पर 4 से 5 मिनट के लिए पका कर तैयार कर सकते हैं।

आप इसे पार्टी में भी परोस सकते हैं। खाइए, खिलाइए और नाश्ते का आनंद लीजिए।

नीचे दिया गया है पानी-पुरी की रेसिपी | गोलगप्पा रेसिपी | होममेड पानी पूरी | pani puri recipe in hindi language | स्टेप बाय स्टेप फोटो और वीडियो के साथ।

पानी-पुरी की रेसिपी  | गोलगप्पा रेसिपी | होममेड पानी पूरी |  in Hindi


पानी-पुरी की रेसिपी | गोलगप्पा रेसिपी | होममेड पानी पूरी | - Pani Puri, Paani Puri, Golgappa Recipe in Hindi

तैयारी का समय:    पकाने का समय:    कुल समय :     ४ मात्रा के लिये
मुझे दिखाओ मात्रा

सामग्री

पुरी के लिए (40 पूरी तैयार होती हैं)
१/२ कप सूजी
१/२ टेबल-स्पून मैदा
नमक , स्वादानुसार
१/४ कप ठंडी सोडा
तेल , तलने के लिए

पानी के लिए (4 कप तैयार होता है)
३ कप कटी हुई पुदिना की पत्तियाँ
२ टेबल-स्पून कटा हुआ हरा धनिया
१/२ कप इमली
१ टेबल-स्पून मोटा कटा हुआ अदरक
१ टेबल-स्पून मोटी कटी हुई हरी मिर्च
१ टी-स्पून भूना हुआ ज़ीरा पाउडर
२ टी-स्पून काला नमक
नमक , स्वादानुसार
४ टेबल-स्पून बारीक कटा हुआ गुड़ (एच्छिक)

अन्य सामग्री
१ कप खजूर इमली की चटनी
१ कप हल्के उबाले हुए मिले-जुले अंकुरित दानें
१ कप बूंदी , 10 मिनट भिगोकर छानी हुई
विधि
पुरी बनाने के लिए

    पुरी बनाने के लिए
  1. पानी पुरी की पुरी बनाने के लिए, एक गहरे बाउल में सूजी, मैदा और नमक और ठंडी सोडा का उपयोग करके थोडा सख्त आटा गूँथ लीजिए। एक मलमल के कपड़े से आटे को ढ़ककर 10 मिनट के लिए एक तरफ रख दीजिए।
  2. आटे को 4 बराबर भागों में विभाजित कर दीजिए।
  3. आटे के एक भाग को 175 मि. मी. (7") व्यास के गोल आकार में बेल लीजिए।
  4. कुकी कटर की सहायता से आटे को 7 बराबर भागों में लगभग 37 मि. मी (1 1/2") से 50 मि. मी (2") व्यास के गोल आकार में काट लीजिए।
  5. विधि क्रमांक 3 और 4 को दोहराकर कुल मिलाकर 40 पुरियाँ तैयार कर लीजिए।
  6. एक नॉन-स्टिक पॅन में तेल गरम कीजिए और उसमें कुछ पुरी डालकर झारे से दबाकर पुरी फूलकर दोनों तरफ से सूनहरे भूरे रंग की हो जाए तब तक तल लीजिए।
  7. तेल सोखने वाले कागज़ पर निकाल लीजिए और हवा बंद डिब्बें में रखिए और आवश्कता अनुसार प्रयोग कीजिए।

पानी के लिए

    पानी के लिए
  1. पानी पुरी का पानी बनाने के लिए इमली को 3/4 कप गर्म पानी में लगभग आधे घंटे के लिए भिगो दीजिए। छलनी से छानकर सारा पल्प निकाल दीजिए।
  2. इस पल्प के साथ केवल काला नमक छोडकर अन्य सभी सामग्री एक मिक्सर में डालकर लगभग 1/4 कप पानी का उपयोग करते हुए बारीक पेस्ट बना लीजिए।
  3. एक बडे बाउल में पेस्ट को पलटकर, उसमें 3 कप पानी, काला नमक और नमक डालकर अच्छी तरह से मिला लीजिए।
  4. यदि आपको पानी बहुत तीखा लगता है, तो गुड़ डालकर अच्छी तरह मिला लीजिए। गु़ड़ तेज़ और मसालेदार पानी को तीखा-मिठा बना देगा।
  5. कम से कम 2 से 3 घंटे तक ठंडा करें, ताकि सभी स्वाद बहुत अच्छी तरह से मिल जाएँ।

आगे बढाने की विधि

    आगे बढाने की विधि
  1. एक प्लेट में 10 पूरी के साथ एक बाउल में 1 कप पानी, साथ ही 1/4 कप खजूर इमली की चटनी, 1/4 कप मिले जुले अंकुरित दानें और 1/4 कप बूंदी रखकर परोसिए।

महत्वपूर्ण सुझाव

    महत्वपूर्ण सुझाव
  1. जब भी आप पुरी बना रहे हों, तब याद से आप उन्हें मलमल के कपड़े से ढ़ककर रखिए।
  2. आप मिले जुले अंकुरित दानें या बूंदी की जगह रगड़े का भी उपयोग कर सकते हैं।
पोषक मूल्य प्रति serving
ऊर्जा329 कैलरी
प्रोटीन9.4 ग्राम
कार्बोहाइड्रेट51.8 ग्राम
फाइबर6.3 ग्राम
वसा9.1 ग्राम
कोलेस्ट्रॉल0 मिलीग्राम
सोडियम20.5 मिलीग्राम
विस्तृत फोटो के साथ पानी-पुरी की रेसिपी | गोलगप्पा रेसिपी | होममेड पानी पूरी |

घर पर पुरी बनाने के लिए

  1. पानी-पुरी के लिए घर पर पुरी बनाने के लिए | गोलगप्पा रेसिपी | होममेड पानी पूरी | pani puri recipe in hindi। एक गहरे कटोरे में सूजी लें।
  2. मैदा डालें। यहां तक कि आप मैदे के बजाय गेहूं के आटे का उपयोग कर सकते हैं। यह आटा बांधने में मदद करेगा।
  3. नमक डालें और अच्छी तरह मिलाएँ।
  4. थोडा सख्त आटा बनाने के लिए धीरे-धीरे ठंडा सोडा डालें। सोडा के बजाय, आप सामान्य पानी का उपयोग कर सकते हैं, लेकिन उस स्थिति में, बेकिंग सोडा जोड़ना न भूलें, जो फुली हुइ पुरी बनाने में मदद करेता हैं।
  5. बहुत अच्छी तरह से गूंधें और हमारा पूरी का आटा तैयार है। आटे को ३ से ४ मिनट के लिए अच्छी तरह से गूंध लें ताकि सूजी सोडा को अच्छे से सोख ले और इससे पूरी कुरकुरी बनाने गी।
  6. इसे एक गीले मलमल के कपड़े से ढक दें और १० मिनट के लिए अलग रख दें।
  7. गोलगप्पा रेसिपी के लिए घर की बनी पुरी तैयार करने के लिए, फिर से आटे को गूंधें और ४ बराबर भागों में विभाजित करें। रोल करते समय इसे बाकी के भागो को ढक कर रखें। किसी भी हाल में, आटा को खुला न छोड़ें, अन्यथा, आटा बहुत सूख  जाएगा।
  8. आटा के एक हिस्से को किसी भी आटे का उपयोग किए बिना १७५ मिमी (७ ”) व्यास के गोल आकार में बेल लीजिए। छोटी पूरी में काटने से पहले जितना संभव हो उतना पतला रोल करें, अगर वह जाडा होगा तो पूरियां तलने के बाद कुरकुरी नहीं बनेंगी।
  9. कुकी कटर या स्टील बॉक्स या लगभग एक ढक्कन का उपयोग करके३७ मिमी। (१ १/२”) से ५० मि.मी. (२ ”) का आकार में ७ बराबर भागों में काट लें। जब आप पुरीओ को रोल कर रहे हैं, तभी सुनिश्चित करें कि आप उन्हें एक गीले मलमल के कपड़े से ढक कर रखें। 
  10. अतिरिक्त आटा निकालें और इसे बचे हुए आटे के साथ जोड दें।
  11. चरण २ से ४ को दोहराते हुए और छोटी गोल पुरी बना लें। आटा खत्म होने तक बनाते रहें और आपको अंत में कुल मिलाकर ४० गोल पुरी मिलेगी।
  12. एक गहरे नॉन-स्टिक पैन में तेल गरम करें, ध्यान से एक बार में कुछ बेली हुइ पुरी डालें। तलते समय तेल का तापमान संभाले नही तो  पूरी जल्दी से भूरी हो जाएगी और अंदर से कच्ची रहे जाएगी। पैन में तलने के लिए ज्यादा पुरी ना डालें, वरना तेल का तापमान तुरंत गिर जाएगा।
  13. एक छेदवाले चम्मच का उपयोग करके इसे थोड़ा दबाएं जब तक कि वह फुल न
     जाए और सुनहरे भूरे रंग का होेने तक तलें।

  14. सुनहरा होने तक और दोनों तरफ से कुरकुरा होने तक पलटें और तले। समान रूप से तलने के लिए थोड़ी देर में उन्हें पलटते रहें।
  15. तेल सोखने वाले कागज़ पर निकाल लीजिए। अतिरिक्त तेल को सोखना बहुत महत्वपूर्ण है अन्यथा गोलगप्पे तेलयुक्त रह जाएगे और नरम भी हो सकता है।
  16. उपयोग करने से पहले उन्हें कम से कम ४ से ५ घंटे के लिए ठंडा करें। गोलगप्पे की पूरियों को एक एयर-टाइट कंटेनर में स्टोर करें और आवश्यकतानुसार उपयोग करें।

पानी के लिए

  1. पानी-पुरी का पानी बनाने के लिए | गोलगप्पा रेसिपी | होममेड पानी पूरी | pani puri recipe in hindi। पुदीने की पत्तियों को धो कर, मिक्सर जार में डालें।
  2. हरा धनिया डालें।
  3.  इमली के पल्प को भी मिक्सर जार में डालें।
  4. अदरक और हरी मिर्च डालें। आप अपनी पसंद के अनुसार हरी मिर्च को कम ज्यादा कर सकते हैं, फिर भी मैं रेसिपी के अनुसार जाने की सलाह दूंगा क्योंकि पानी तीखा मीठा होना चाहीए।
  5. जीरा पाउडर डालें। आप चाहें तो जीरा भी डाल सकते हैं।
  6. १ १/२ कप पानी का उपयोग करके मुलायम पेस्ट होने तक पीस लें।
  7. मिश्रण को एक बड़े कटोरे में डालें।
  8. १ १/२ कप पानी डालें।
  9. काला नमक डालें।
  10. नमक डालें।
  11. अच्छी तरह से मिलाएं और २ से ३ घंटे के लिए रेफ्रिजरेटर में ठंडा करें ताकि स्वाद बहुत अच्छी तरह से  घुल मिल जाए।

पानी पुरी बनाने के लिए

  1. पानी-पुरी बनाने के लिए | गोलगप्पा रेसिपी | होममेड पानी पूरी | pani puri recipe in hindi। ६ पूरियों लें और प्रत्येक पुरी के बीच में एक छोटा सा छेद करें। सुनिश्चित करें कि आप पुरी को नहीं तोड़ेंगे।
  2. हल्के उबाले हुए मिले-जुले अंकुरित दानेंं को प्रत्येक पुरी में स्टफ करें। थोड़ा और क्रंच देने के लिए, कुछ प्याज डालें।
  3. थोड़ी मीठी चटनी डालें।
  4. तीखा पुदीना पानी में संपूर्ण पूरी को डुबोकर रखें।
  5. नरम होने से पहले तुरंत पानी-पुरी की रेसिपी | गोलगप्पा रेसिपी | होममेड पानी पूरी | pani puri recipe in hindi। परोसें।

पानी पुरी रेसिपी के लिए टिप्स

  1. पूरी के लिए आटा बनाते समय मैदा को गेहू के आटे से बदला जा सकता है. आटा जोड़ने का उद्देश्य आटे को अच्छी तरह से बांधने में मदद करना है।
  2. सोडा के बजाय, आप सामान्य पानी का उपयोग कर सकते हैं, लेकिन उस स्थिति में बेकिंग सोडा डालना न भूलें जो फुली पूरी बनाने में मदद करेगा।
  3. आटे को गीले मलमल के कपड़े से ढँक दें, ताकि वह सूख न जाए।
  4. बेले हुए आटे को गोले आकार बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला ढक्कन एक तेज परिधि वाला होना चाहिए। यदि यह मोटा या ब्लन्ट हुआ, तो आपको एक संपूर्ण गोल आकार नहीं मिलेगा।
  5. पूरियों को समान रूप से बेलना अत्यंत आवश्यक है। अगर पुरी का चक्कर मोटा और बीच में पतला हुआ, तो यह अच्छी तरह से नहीं फूलेगी।
  6. तलने के बाद, पूरियों को स्टोर करने से पहले पूरी तरह से ठंडा करना आवश्यक है, अन्यथा वे अपना कुरकुरापन खो सकते हैं और नरम हो सकते हैं।
  7. पुदीना खरीदते समय, ऐसे पत्तों की तलाश करें, जो ताजे, ज्यादा पत्तियां हों, उनमें पीले या भूरे रंग के कोई संकेत नहीं हो और वह गहरे हरे रंग के हों।
  8. फ्लेवर को अच्छी तरह से मिलाने के लिए पानी को २ से ३ घंटे के लिए फ्रिज में रखना जरूरी है।
  9. सुनिश्चित करें कि आप पानी पुरी को परोसने से ठीक पहले असेम्बल करें, नहीं तो यह गीली हो जाएगी और पूरी का कुरकुरापन खो जाएगा।


Reviews

पानी-पुरी की रेसिपी | गोलगप्पा रेसिपी | होममेड पानी पूरी |
 on 27 Feb 21 12:12 PM
5

Tarla Dalal
27 Feb 21 01:46 PM
   Thanks for the feedback !!! Keep reviewing recipes and articles you loved.
पानी-पुरी की रेसिपी | गोलगप्पा रेसिपी | होममेड पानी पूरी |
 on 09 Feb 21 01:07 PM
5

Tarla Dalal
09 Feb 21 01:29 PM
   Thanks for the feedback !!! Keep reviewing recipes and articles you loved.
पानी-पुरी की रेसिपी | गोलगप्पा रेसिपी | होममेड पानी पूरी |
 on 06 Apr 20 02:10 AM
5

Ohhhh wow and thnk u so much for the shairng panipuri recipy...bcoz lockdown me ye ghr pe bana k kha skte he.....god bless u ...
Tarla Dalal
06 Apr 20 11:30 AM
   Hi, Thank you for your kind words....
पानी-पुरी की रेसिपी | गोलगप्पा रेसिपी | होममेड पानी पूरी |
 on 30 Mar 20 08:50 PM
5

thanks and nice
Tarla Dalal
21 May 20 08:26 AM
   your welcome
पानी-पुरी की रेसिपी | गोलगप्पा रेसिपी | होममेड पानी पूरी |
 on 27 Mar 20 11:19 AM
5

पानी-पुरी की रेसिपी | गोलगप्पा रेसिपी | होममेड पानी पूरी |
 on 23 Mar 20 11:14 PM
5

पानी-पुरी की रेसिपी
 on 23 Aug 18 04:37 PM
5

शाम को यदि फैमिली के साथ घूमने के लिए निकलने है और नी पुरी नही खाया तो घूमना सफल नही होता है। कुकरी सूजी की पुरी और साथ ही मिले जुले अंकुरित दानें या रगड़ा भरकर और पुदिनेवाला पानी इसको और भी लाजवाब बनाता है। तरलाजी द्वारा बताए हुए आसान तरिके से पुरी घर पर बनाना जरूर आज़माएँ। बस, याद रखें कि इन्हें हवा बंध डिब्बे में भरकर रखें। आप इन्हें ओवन में धीमी आँच पर 4 से 5 मिनट के लिए पका कर तैयार कर सकते हैं।
Tarla Dalal
17 Mar 20 03:36 PM
   Thanks for the feedback.