वेन पोंगल रेसिपी के पोषण संबंधी जानकारी | वेन पोंगल रेसिपी की कैलोरी | calories for Ven Pongal, South Indian Breakfast in hindi
द्वारा

This calorie page has been viewed 277 times Last Updated : Jan 13,2021



विभिन्न व्यंजन
दक्षिण भारतीय चावल
कोर्स रेसिपी, वेज मुख्य व्यंजनों
ब्रेकफास्ट, सुबह का नाश्ता
वेन पोंगल रेसिपी | खारा पोंगल | नमकीन पोंगल साउथ इंडियन ब्रेकफास्ट रेसिपी | घर पर वेन पोंगल कैसे बनाएं

वैन पोन्गल की कितनी कैलोरी होती है?

वैन पोन्गल की 212 कैलोरी देता है। जिसमें से कार्बोहाइड्रेट में 116 कैलोरी होती है, प्रोटीन में 22 कैलोरी होती है और शेष कैलोरी वसा से होती है जो 74 कैलोरी होती है। वैन पोन्गल की 2,000 कैलोरी के एक मानक वयस्क आहार की कुल दैनिक कैलोरी आवश्यकता का लगभग 11 प्रतिशत प्रदान करता है।

वैन पोन्गल की रेसिपी देखने के लिए यहां क्लिक करें। यह एक पारंपरिक दक्षिण भरतीय चावल से बना व्यंजन है जिसे मंदिरों और पुजा/ त्यौहारों में भगवान को परोसा जाता है। इसे सुबह के नाश्ते में भी परोसा जाता है और दक्षिण भारत में यह रोज़ के खाने का भाग है।

अन्य दक्षिण भारतीय व्यंजनों की कोशिश करें जैसे कि चक्र पोंगल.

मीठा पोंगल रेसिपी | चक्रा पोन्गल | चक्रा पोंगल

मीठा पोंगल रेसिपी | चक्रा पोन्गल | चक्रा पोंगल

क्या वैन पोन्गल स्वस्थ है?

हाँ, यह स्वस्थ है। लेकिन प्रतिबंध कुछ पर लागू होते हैं।

आइये समझते हैं वैन पोन्गल की रेसिपी की सामग्री।

क्या अच्छा है।

पीली मूंग दाल (benefits of yellow moong dal in hindi) : पीली मूंग दाल में मौजूद फाइबर (4.1 ग्राम प्रति कप) धमनियों में खराब कोलेस्ट्रॉल (एल. डी. एल.) के जमाव को रोकता है, जो बदले में स्वस्थ्य हार्ट को बढ़ावा देता है। जिंक (1.4 मिलीग्राम), प्रोटीन (12.2 मिलीग्राम) और आयरन (1.95 मिलीग्राम) जैसे पोषक तत्वों से भरपूर, पीली मूंग की दाल आपकी त्वचा के लचीलेपन को बनाए रखने और इसे नम रखने में मदद करती है। पीली मूंग दाल में मौजूद फाइबरपोटेशियम और मैग्नीशियम एक साथ मिलकर रक्तचाप और मधुमेह को नियंत्रित करने और तंत्रिकाओं को शांत रखने में मददरुप है।। पीले मूंग दाल के 7 आश्चर्यजनक लाभों के विवरण के लिए यहां देखें।

हिंग (Benefits of Asafoetida, hing in Hindi): ऐक्टिव कम्पाउन्ड कौमरिन (Coumarin) रक्त में कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड के स्तर को प्रबंधित करने में मदद करता है। हींग में एंटी-बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं, जो अस्थमा को दूर रखने में मदद करता है। हींग  ब्लोटिंग और पेट में गैस की तकलीफ जैसी अन्य समस्याओं के लिए एक पुराना उपचार है। सबसे अच्छा उपाय यह है कि पानी के साथ थोड़ा सा हींग का पानी पिएं या इसे पानी में घोलकर घूंट-घूंट पीते रहे। इसका उपयोग दही या बादाम के तेल के साथ हेयर मास्क के रूप में भी किया जा सकता है। यह बालों की शुष्कता को रोकने और बालों को मजबूत बनाने के साथ-साथ उन्हें मुलायम बनाने में मदद करता है।

जीरा (Benefits of Cumin Seeds, jeera in Hindi): जीरा का सबसे लाभ जो कई लोगों को पता है वह है पेट, आंत और पूरे पाचन तंत्र को  आराम पहुँचाना। जीरा जाहिर तौर पर आयरन का बहुत अच्छा स्रोत है। एक टेस्पून जीरे आयरन की दैनिक आवश्यकता का लगभग 20% पूरा कर सकते है। जीरे की थोड़ी मात्रा में भी कैल्शियम की भारी मात्रा होती है - यह एक हड्डियों का  भरण-पोषण करने वाला खनिज है। यह पाचन, वजन घटाने और इन्फ्लमेशन (inflammation) को कम करने में भी मदद करता है। जीरा के विस्तृत लाभ पढें।

अदरक, अद्रक (Benefits of Ginger in Hindi): अदरक कन्जेशन, गले की खराश, सर्दी और खांसी के लिए एक प्रभावी इलाज है। यह अपाचन को ठीक करता है और कब्ज से भी राहत देता है। अदरक को माहवारी के दर्द (menstrual pain) से राहत देने में दवाओं के रूप में प्रभावी पाया गया है। अदरक उच्च कोलेस्ट्रॉल वाले रोगियों में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में भी मदद करता है। अदरक गर्भवती महिलाओं में जी मचलने (nausea) के लक्षणों को काफी कम करता है। अदरक के 16 सुपर स्वास्थ्य लाभ के लिए यहाँ पढें।

घी (benefits of ghee in hindi): कैलोरी और वसा के अलावा, घी जिन पोषक तत्व जो में समृद्ध हैं, वे हैं विटामिन - जिनमें से सभी वसा में घुलनशील होते हैं। सभी 3 विटामिन (विटामिन एविटामिन ई और विटामिन केएंटीऑक्सिडेंट से भरपूर होते हैं जो शरीर से मुक्त कणों को हटाने और हमारी कोशिकाओं की रक्षा करने के साथ-साथ त्वचा के स्वास्थ्य और चमक को बनाए रखने में भी मदद करता है। घी अपने उच्च स्मोक पॉइंट के कारण खाना पकाने का एक उच्च उत्कृष्ट माध्यम है। अधिकांश तेलों और मक्खन की तुलना में, घी का स्मोक पॉइंट 230 ° C, 450 ° F है, इसलिए इसके पोषक तत्वों का विनाश कम होता है। हां, घी में कोलेस्ट्रॉल होता है, लेकिन शरीर को कुछ मात्रा में कोलेस्ट्रॉल की जरूरत भी होती है। कोलेस्ट्रॉल के कुछ कार्य भी हैं। यह हार्मोन उत्पादन, मस्तिष्क के कार्यकाज, कोशिकाओं  के स्वास्थ्य और जोड़ों को लूब्रिकैट करने के लिए आवश्यक है। यह वास्तव में, शरीर और मस्तिष्क के लिए एक उच्च गुणवत्ता वाला वसा है। घी वसा से भरा होता है, लेकिन इसमें मध्यम श्रृंखला फैटी एसिड (एमसीटी) होते हैं जो वजन घटाने में सहायता करता हैं। घी थोड़ी मात्रा में डेबेटिक्स के लिए स्वास्थ्यदायक है। परिरक्षकों से मुक्त घी को आसानी से अपने घर पर बनाना सीखें घी के फायदे भी देखें |

काजू (काजू, benefits of cashew nuts in hindi): सामान्य तौर पर अखरोटकाजूमूंगफलीबादामपिस्ता और पाइन नट्स आपके साथ रखने के लिए एक स्वस्थ स्नैक हैं क्योंकि ये मोनोअनसैचुरेटेड वसा और पॉलीअनसेचुरेटेड वसा से भरपूर होते हैं और दिल के लिए अच्छे होते हैं। वे मधुमेह रोगियों के लिए भी एक स्वस्थ स्नैक है। मैग्नीशियम से भरपूर काजू और ऐसे अन्य खाद्य पदार्थ रक्तचाप को नियंत्रित करने में मदद करते हैं। पूरी जानकारी के लिए काजू के 9 आश्चर्यजनक लाभ देखें।

काली मिर्च (Benefits of Kali Mirch in Hindi): काली मिर्च की पहचान पेट में पाचक रसों और एंजाइमों को उत्तेजित करने के लिए की गई है, जिससे पाचन स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद मिलती है। काली मिर्च में जो जीवाणुरोधी प्रकृति (antibacterial nature) पाई गई है, वह ठंड और खांसी से राहत देने में मदद करती है, खासकर जब काली मिर्च को शहद के साथ मिक्स किया जाता है। काली मिर्च रक्त शर्करा के स्तर को बनाए रखने में भीमदद कर है क्योंकि यह इंसुलिन संवेदनशीलता (insulin sensitivity) में सुधार करती है। तो मधुमेह और वजन पर नजर रखने वाले लोग काली मिर्च से लाभ उठा सकते हैं। कालीमिर्च चयापचय को भी बढ़ावा देती है और वसा कोशिका को तोडने में बढ़ावा देने के लिए जानी जाती है। जी हां, इसमें मौजूद पेपरिन मोटापा या वजन घटाने में आपकी मदद कर सकता है। काली मिर्च के विस्तृत लाभ पढें।

करी पत्ते, (कडी पत्ता): एंटीऑक्सिडेंट, रोगाणुरोधी और विरोधी भड़काऊ गुण होते हैं और इस प्रकार व्यापक रूप से आयुर्वेदिक दवाओं में उपयोग किया जाता है।
· यह पाचन में सहायता करता है और इस प्रकार पेट में दर्द होने पर करी पत्ते को चबा सकते हैं। यह दस्त को रोकने के लिए विशेष रूप से अच्छा है।
· वैज्ञानिक शोधों ने यह साबित कर दिया है कि करी पत्ते का समावेश मधुमेह वाले लोगों के लिए फायदेमंद है। खाली पेट काली मिर्च के साथ ली जाने वाली करी पत्तियां रक्त शर्करा के स्तर को कम कर सकती हैं।
· यह त्वचा की देखभाल में भी मदद करता है। करी पत्ते का सेवन स्पष्ट और स्वस्थ त्वचा को बढ़ावा दे सकता है।
· वे विटामिन ए और कैल्शियम का एक उचित स्रोत हैं।

समस्या क्या है।

चावल (Benefits of Rice, Chawal in Hindi): यह चावल के गुण हैं - चावल कॉम्प्लेक्स कार्बोहाइड्रेट का एक बड़ा स्रोत है, जो हमारे शरीर के लिए ऊर्जा का एक महत्वपूर्ण स्रोत है। चावल में फाइबर कम होता है और इसलिए दस्त से पीड़ित लोगों के लिए एक अच्छा विकल्प है। चावल के अवगुण - चावल जैसे खाद्य पदार्थ का ग्लाइसेमिक इंडेक्स ज्यादा होता है और यह वजन घटाने के लिए, हृदय रोगियों के लिए और डायबिटीज रोगियों के लिए  उपयुक्त नहीं हैं क्योंकि यह रक्त शर्करा स्तर को प्रभावित करता हैं। क्या आपके लिए सफेद चावल और उकडा चावल अच्छा है, यह पढें?

ध्यान दें : 1 कप = 200 मिलीलीटर (बाजार में आसानी से उपलब्ध है)। प्रत्येक घटक का ग्राम में वजन भिन्न होता है।

क्या डायबिटीज के मरीज, दिल के मरीज और अधिक वजन वाले लोग वैन पोन्गल का सकते हैं?

नहीं, यह चावल के उपयोग के कारण स्वस्थ नहीं है। ग्लाइसेमिक इंडेक्स में चावल जैसे खाद्य पदार्थ उच्च वजन घटाने, हृदय रोगियों, मधुमेह रोगियों के लिए उपयुक्त नहीं हैं क्योंकि वे रक्त शर्करा नियंत्रण स्तर को प्रभावित करते हैं।

क्या स्वस्थ व्यक्ति वैन पोन्गल का सकते हैं?

हाँ

चावल का स्वस्थ विकल्प क्या है?

हम आपको हेल्दी खिचड़ी जैसे कि फाडा नी खिचड़ीविटामिन खिचड़ीकुट्टू मूंग दाल वेजिटेबल खिचड़ीबाजरा मूंग और हरे मटर की खिचड़ीजौ की खिचड़ी और वेजिटेबल बिरयानी जो ब्राउन राइस से तैयार की है उसका सुझाव देते हैं। लगभग इन सभी व्यंजनों में चावल का बिलकुल उपयोग नहीं किया गया है और मधुमेह रोगी इनका नियंत्रित मात्रा में सेवन करें ऐसा हमारा सुझाव है।

कुट्टू मूंग दाल वेजिटेबल खिचड़ी की रेसिपी

कुट्टू मूंग दाल वेजिटेबल खिचड़ी की रेसिपी

वैन पोन्गल में उच्च है।

1. प्रोटीन: शरीर के सभी कोशिकाओं के भरण-पोषण के लिए प्रोटीन की आवश्यकता होती है।

2. विटामिन बी 1विटामिन बी 1 नसों की रक्षा करता है, कार्बोहाइड्रेट चयापचय में मदद करता है, हृदय रोगों से बचाता है और लाल रक्त कोशिकाओं का उत्पादन करने में मदद करता है।

3. फोलिक एसिडफॉलिक एसिड पूरे गर्भावस्था के लिए एक आवश्यक विटामिन है।

4. मैग्नीशियम: हड्डियों और दांतों के निर्माण के लिए मैग्नीशियम की आवश्यकता होती है। कैल्शियम और पोटेशियम के चयापचय में भी यह मदद करता है।

नोट: एक नुस्खा एक विटामिन या खनिज में उच्च तब माना जाता है, जब वह 2,000 कैलोरी के आहार पर आधारित 20% या उससे ऊपर की दैनिक आवश्यकता (recommended daily allowance) को पूरा करता है।

वैन पोन्गल से आने वाली 212 कैलोरी कैसे बर्न करें?

चलना (6 किमी प्रति घंटा) = 1 घंटे 4 मिनट
दौड़ना (11 किमी प्रति घंटा) = 21मिनट
साइकिल चलाना (30 किमी प्रति घंटा) = 28 मिनट
तैरने की (2 किमी प्रति घंटा)= 36 मिनट

नोट: ये मूल्य अनुमानित हैं और प्रत्येक व्यक्ति में कैलोरी बर्निंग में अंतर है।

मूल्य प्रति serving% दैनिक मूल्य
ऊर्जा159 कैलरी8%
प्रोटीन4.1 ग्राम7%
कार्बोहाइड्रेट21.8 ग्राम7%
फाइबर1.6 ग्राम6%
वसा6.2 ग्राम9%
कोलेस्ट्रॉल0 मिलीग्राम0%
विटामिन
विटामिन ए50.9 माइक्रोग्राम1%
विटामिन बी 1 ()0.1 मिलीग्राम10%
विटामिन बी 2 ()0 मिलीग्राम0%
विटामिन बी 3 ()0.6 मिलीग्राम5%
विटामिन सी0 मिलीग्राम0%
विटामिन ई0 मिलीग्राम0%
फोलिक एसिड (विटामिन बी 9)16.4 माइक्रोग्राम8%
मिनरल
कैल्शियम10.1 मिलीग्राम2%
लोह0.6 मिलीग्राम3%
मैग्नीशियम35.5 मिलीग्राम10%
फॉस्फोरस41.4 मिलीग्राम7%
सोडियम4.2 मिलीग्राम0%
पोटेशियम137.1 मिलीग्राम3%
जिंक0.6 मिलीग्राम6%
प्रतिशत दैनिक मूल्य 2000 कैलोरी आहार पर आधारित हैं। आपका दैनिक मूल्य अधिक या कम हो ना आपकी प्रतिदिन की आवश्यक कैलोरी की जरूरतों पर निर्भर करता है।
अन्य संबंधित व्यंजनों की कैलोरी

Reviews

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन