लो फैट दही रेसिपी | हेल्दी लो फॅट दही | दही जमाने का आसान तरीका | - Low Fat Curds ( How To Make Low Fat Curds)
द्वारा

लो फैट दही रेसिपी | हेल्दी लो फॅट दही | दही जमाने का आसान तरीका | in Hindi

This recipe has been viewed 2109 times
5/5 stars  100% LIKED IT   
1 REVIEW ALL GOOD




लो फैट दही रेसिपी | हेल्दी लो फॅट दही | दही जमाने का आसान तरीका | low fat curds recipe in hindi | with 18 amazing images.

कम वसा वाले दही और दही पूरे भारत में घरों में बनाए जाते हैं। कम वसा वाले दही बनाने के लिए आपको कम वसा वाले दूध और पिछले दिन से थोड़ा दही लेना होगा।

लो फैट दही बनाने के लिए, दूध को नॉन-स्टिक पैन में मध्यम आँच पर बीच-बीच मे हिलाते हुए ६ से ८ मिनट तक गरम करें । उसे थोड़ा ठंडा होने दें। दही को एक कटोरे में डालें और चम्मच की मदद से समान रूप से फैलाएं। दही लगाए हुए कटोरे में गुनगुना दूध डालें और एक व्हिस्क या चम्मच का उपयोग करके इसे अच्छी तरह मिलाएं | ढक्कन से ढककर, कम से कम ६ से ८ घंटे के लिए गरम स्थान पर रखें। ढक्कन से ढककर, कम से कम ६ से ८ घंटे के लिए गरम स्थान पर रखें। लो फैट दही को कम से कम १ घंटे के लिए फ्रिज में रखे और ठंडा परोसें।

हम कम वसा वाले दही या दही से प्यार करते हैं क्योंकि उन्हें अच्छे कारण के लिए स्वस्थ कम वसा वाले दही कहा जाता है। दही पाचन में मदद करते हैं क्योंकि इसमें बहुत अच्छे बैक्टीरिया होते हैं। दही में प्रोबायोटिक्स एक हल्के रेचक के रूप में काम करता है लेकिन, दस्त और पेचिश के मामले में, यह एक वरदान है, अगर दही चावल के साथ प्रयोग किया जाता है। कम वसा वाले दही वजन कम करने में मदद करते हैं, आपके दिल के लिए अच्छा है और प्रतिरक्षा का निर्माण करते हैं। दही और कम वसा वाले दही के बीच एकमात्र अंतर वसा स्तर है।

परफेक्ट लो फैट दही रेसिपी बनाने के लिए मैं कुछ महत्वपूर्ण टिप्स शेयर करना चाहूंगा। 1. कम वसा वाले दही का नुस्खा बनाने के लिए, 2 टेबलस्पून पानी के साथ एक गहरे नॉन-स्टिक पैन को रगड़ें और इसे 2-3 मिनट के लिए उबालें। यह आम तौर पर स्टेनलेस स्टील के पैन में किया जाता है, लेकिन अगर आपके पास एक पुराना नॉन-स्टिक पैन है, तो यह अतिरिक्त प्रयास करने की सलाह दी जाती है, ताकि दूध जल न जाए। 2. पैन को एक दक्षिणावर्त गति में घुमाएं, ताकि पानी पैन में समान रूप से फैल जाए। यह दूध को झुलसने से रोकेगा क्योंकि पानी पैन और दूध के बीच एक सुरक्षात्मक परत बनाता है।

नीचे दिया गया है लो फैट दही रेसिपी | हेल्दी लो फॅट दही | दही जमाने का आसान तरीका | low fat curds recipe in hindi | स्टेप बाय स्टेप फोटो और वीडियो के साथ।

Low Fat Curds ( How To Make Low Fat Curds)

जमाने का समय:  ६ घंटे   तैयारी का समय:    पकाने का समय:    कुल समय :     ५ कप के लिये
मुझे दिखाओ कप

सामग्री

लो फैट दही बनाने के लिए
५ कप लो फॅट दूध
१ टेबल-स्पून दही
विधि
लो फैट दही बनाने के लिए

    लो फैट दही बनाने के लिए
  1. लो फैट दही बनाने के लिए, दूध को नॉन-स्टिक पैन में मध्यम आँच पर बीच-बीच मे हिलाते हुए ६ से ८ मिनट तक गरम करें । उसे थोड़ा ठंडा होने दें।
  2. दही को एक कटोरे में डालें और चम्मच की मदद से समान रूप से फैलाएं।
  3. दही लगाए हुए कटोरे में गुनगुना दूध डालें और एक व्हिस्क या चम्मच का उपयोग करके इसे अच्छी तरह मिलाएं।
  4. ढक्कन से ढककर, कम से कम ६ से ८ घंटे के लिए गरम स्थान पर रखें।
  5. लो फैट दही को कम से कम १ घंटे के लिए फ्रिज में रखे और ठंडा परोसें।

सुलभ सुझावः लो-फॅट चक्का दही

    सुलभ सुझावः लो-फॅट चक्का दही
  1. २ कप लो फैट दही को एक मलमल के कपड़े में १ घंटे के लिए लटकाए जाने पर लगभग १ कप लो-फॅट चक्का दही मिलता हैं।
पोषक मूल्य प्रति serving
ऊर्जा74 कैलरी
प्रोटीन7.1 ग्राम
कार्बोहाइड्रेट10.2 ग्राम
फाइबर0 ग्राम
वसा0.4 ग्राम
कोलेस्ट्रॉल0.5 मिलीग्राम
सोडियम100.6 मिलीग्राम
विस्तृत फोटो के साथ लो फैट दही रेसिपी | हेल्दी लो फॅट दही | दही जमाने का आसान तरीका |

लो फैट दही बनाने की विधि

  1. लो फैट दही रेसिपी बनाने के लिए | हेल्दी लो फॅट दही | दही जमाने का आसान तरीका | low fat curds recipe in hindi | एक गहरे नॉन-स्टिक पैन में २ टेबलस्पून पानी को डालकर और २ से ३ मिनट के लिए उसे उबाल लें। यह आम तौर पर स्टेनलेस स्टील के पैन में किया जाता है, लेकिन अगर आपके पास एक पुराना नॉन-स्टिक पैन है, तो नॉन-स्टिक पैन ही इस्तमाल करने की सलाह दी जाती है, ताकि दूध जल न जाए। यदि स्टेनलेस स्टील पटिला का उपयोग कर रहे हैं, तो आप दही को जमाने के लिए उसी बर्तन का उपयोग कर सकते हैं।
  2. पैन को घड़ी की सूई के अनुसार घुमाएं, ताकि पानी पैन में समान रूप से फैल जाए। यह दूध को जलने से रोकेगा, क्योंकि पानी पैन और दूध के बीच एक सुरक्षात्मक परत बनाता है।
  3. पानी को नीकाले और ५ कप लो फॅट दूध डालें।
  4. दूध को मध्यम आंच पर ६ से ८ मिनट तक उबालें। दूध को कड़ाही में जलने से बचाने के लिए बीच-बीच में हिलाते रहे। आमतौर पर, घर पर दही बनाने के लिए, आपको बस दूध को थोड़ा सा ही गरम करने की आवश्यकता है। गरमी के मौसम में, आपको दूध को हलका गरम करने की आवश्यकता होगी लेकिन, यदि मौसम ठंडा है तो आपको दूध को थोड़ा ज्यादा गरम करने की आवश्यकता होगी।
  5. आंच बंद कर दें और थोड़ा ठंडा होने दें (गुनगुना)। दूध का तापमान जांचने के लिए अपनी उंगली को डुबोएं और उसके बाद ही दही जमाने के लिए जोड़ें। इसे जल्दी ठंडा करने के लिए दूध को फ्रिज में रखने के बारे में न सोचें। केवल कमरे के तापमान पर दूध को ठंडा करना महत्वपूर्ण है।
  6. एक कटोरी या पैन में लो फॅट दही डालें। इसे जमना या स्टार्टर कहा जाता है जो दही को स्थापित करने में मदद करता है। सर्दियों में, आपको दही को सेट करने के लिए अधिक स्टार्टर की आवश्यकता होगी, ताकि मौसम के अनुसार मात्रा को समायोजित कर सकें। दही को सेट करने के लिए आप मिट्टी के कटोरे, कांच या सिरेमिक कटोरे का भी उपयोग कर सकते हैं। मेरी माँ हमारे ऑफिस लेके जाने के लिए एयर-टाइट, लंच-बॉक्स के कंटेनर में दही को सेट करती है।
  7. चम्मच की सहायता से दही को समान रूप से फैलाएं।
  8. इसके ऊपर गुनगुना दूध डालें। यदि दूध गरम होगा और आप उसे दही में मिलायेगे तो दुध फट जायेगा और हमे मलाईदार और स्वादिष्ट घर का बना दही नहीं मिल पायेगा।
  9. एक व्हिस्क का उपयोग करके अच्छी तरह मिलाएं ताकि दही समान रूप से फैल जाए। खट्टा स्टार्टर खट्टा दही का उत्पादन करेगा, इसलिए सुनिश्चित करें कि आपका लो फॅट दही ताजा हो।
  10. यदि आप लो फॅट दही को छोटे कंटेनरों में सेट करना चाहते हैं, तो पिछले चरण के बाद मिश्रण को कंटेनर में डालें। आप दही को एक धातु के कंटेनर, प्लास्टिक या यहां तक कि छोटे क्लैट बर्तनों में सेट कर सकते हैं।
  11. ढक्कन से ढक दें।
  12. ५ से ६ घंटे के लिए गरम स्थान पर रखें। आप ठंडे मौसम के दौरान दही के कटोरे को ओवन या कैसरोल में रख सकते हैं। गरमी के मौसम के दौरान, दही बहुत जल्दी (४ से ५ घंटे के भीतर) जम जाता है, इसलिए बगेर भुले ४ घंटे होने के बाद जांच लें।
  13. ५ से ६ घंटे के बाद, दही बनकर तैयार होगा।
  14. दही को जमजाने के बाद फ्रिज के अंदर रखें वरना उसमें खट्टा स्वाद आयेगा। अगर आप दही को फ्रिज के अंदर रखेंगे तो वह गाढ़ा हो जाएगा और स्वाद भी ताजा रहेगा।
  15. दही को एक चम्मच की मदद से जांच ले की वह अच्छी तरह से सेट हुए है के नहीं। हमारा ताजा और मलाईदार लो फॅट दही। हेल्दी लो फॅट दही | दही जमाने का आसान तरीका | low fat curds recipe in hindiउपयोग करने के लिए तैयार है।
  16. आप इस होममेड दही को लो-फैट रायता या ग्रेवी या लो फैट कढ़ी बनाने में इस्तमाल कर सकते हैं।


Reviews