This category has been viewed 1162 times

19 मसूर दाल recipes

Last Updated : Jun 12,2019

masoor dal recipes - in English
મસૂરની દાળ રેસીપી - ગુજરાતી માં વાંચો (masoor dal recipes in Gujarati)

20 मसूर दाल रेसिपी, भारतीय मसूर दाल रेसिपी,  masoor dal recipes in Hindi

 

मसूर दाल रेसिपी, भारतीय मसूर दाल रेसिपी,  masoor dal recipes in Hindi

 


Goto Page: 1 2 
अडाई दक्षिण भारत के कुछ इलाकों का एक लोकप्रिय नाश्ता है, जहाँ पर इसे ब्रेकफास्ट या नाश्ते के रूप में परोसा जाता है। परंपरागत रूप से यह डोसे जैसा नाश्ता, चावल और मसूर के मिश्रण से बनाया जाता है, इसमें मिर्ची, कालीमिर्च और अन्य तत्वों को मिलाने से इसका स्वाद और निखर जाता है। इस डाबिटिक रूपांतर ....
पाँच प्रोटिन युक्त दालों के मिश्रण से बनाई गई इस मसालेदार मिक्स दाले के रूपांतर में दही के साथ परंपरागत मसालों का उपयोग किया गया है, जो इसमें खट्टापन और तीखापन देते हैं। यह दाल पराठे और रोटी के साथ अच्छा संयोजन बनाती है। इस दाल को आसानी से झटपट बनाया जा सकता है। बस, याद रखें कि दाल को 1 घंटे पहल ....
घर पर बने दक्षिण भारतीय खाने के वास्तविक स्वाद का मज़ा लेने के लिए यह एक पर्याप्त व्यंजन। रसम हर दक्षिण भारत खाने का एक मुख्य भाग है, और इसे अकसर साम्भर (या दुसरे कूज़ाम्बू) के बाद मुख्य खाने के भाग के रुप में परोसा जाता है।
भरपुर मात्रा में लौह की ज़रुरत है? इस सौम्य मसूर दाल एण्ड वेजिटेबल खिचड़ी को चुने! खुशबुसार मसालों में संपूर्ण दाल, ब्राउन राईस और सब्ज़ीयों के मेल से बनी, यह पारंपरिक खिचड़ी, प्रति मात्रा भरपुर मात्रा में लौहतत्व के साथ, विभिन्न प्रकार के आहार तत्व प्रदान करती है। स्वादों से भरी और पौष्टिक, यह स्वा ....
इस व्यंजन की खास बात यह है कि इसमें चना दाल, मसूर दाल और मिले-जुले अंकुरित दाने का प्रोग किया गया है। इनमें भरपुर मात्रा में प्रोटीन होता है, लेकिन साथ ही पनीर इसके प्रोटीन कि मात्रा को और भी बढ़ा देता है। साथ ही, दाल का प्रयोग इस व्यंजन में रेशांक और लौह की मात्रा को बढ़ा देता है…इसे बेहतरीन हरी चट ....
इस नुस्खे में चवली के पत्ते और मसूर दाल के संयोजन में एक स्वादिष्ट मसालों की पेस्ट मिलाई गई है, जो निश्चय ही सबका दिल जीत लेगी। इसके अनूठे स्वाद के अलावा, कई और कारण हैं जो इस चवली-मसूर दाल को पौष्टिक बनाते हैं, खास करके गर्भावस्था के लिए। च ....
इस अनोखे सूप को मसूर दाल से बनाया गया है, जो इनमें भरपुर मात्रा में प्रोटीन और ज़िन्क के लिए जानी जाती है। टमाटर इसे प्यारा लाल रग प्रदान करते हैं और वहीं प्याज़ और लहसुन बेहतरीन खुशबु प्रदान करते हैं। मैने इस सूप को बेहतरीन मुलायम रुप प्रदान करने के लिए, क्रीम मिलाने की जगह सूप को पीस दिया है! यह ए ....
ठंड के दिनों के लिए प्रोटीन से भरपुर इस करी सूप के बाउल से ज़्यादा और कुछ भी पर्याप्त नहीं है! चूंकी मसूर दाल एक संपूर्ण अनाज नहीं है, यह ज़रुरी है कि इसे संपूर्ण पौष्टिक सूप बनाने के लिए, प्रोटीन भरपुर पनीर से मिलाया जाये। चटपटे और स्वादिष्ट सामग्री के सात, यह सूप स्वाद में भी अव्वल लगता है। स्वादि ....
यह एक पौष्टिक व्यंजन है, जो राजस्थान के विशेष जायके को प्रदर्शित करता है। यह चार दालों को मिलाकर पारंपरिक मसाले, अदरक और मिर्ची के तीखे स्वाद के साथ खट्टेपन के लिए एक बूंद निम्बू का रस डाल कर बनाई गई है। इस टेंगी ग्रीन मूंग दाल का आनंद ताज़ा गरमा गरम मसाला बाटी के साथ लिया जा सकता है या आप इसे रोटी य ....
शोरबा या भारतीय सूप अपने जीभ को गुदगूदाने वाले स्वाद के लिए माने जाते हैं। यह शक्तिदायक शोरबा, एक दाल आधारित नुस्खा है जिसमें दाल और पालक के साथ प्याज़, टमाटर इत्यादि मिलाकर उसकी बनावट मोहक बनाई गई है। थोड़ा सा मसाला पाउडर, खास करके करी पाउडर ....
बंगाली स्टाईल खिचड़ी एक खुशबूदार और सब्ज़ीयों और दाल से एक भरपुर व्यंजन है। कह सकते हैं कि यह एक स्वाद और ऊर्जा से भरा आहार है। साबूत या मसालों के पाउडर की जगह पीसे हुए मसालों का प्रयोग इस व्यंजन में को एक अनोखा रुप प्रदान करता है-आप यह इस खिचड़ी को बनाने के समय देख सकते हैं।
खिचड़ी एक बेहतरीन और बहुएपयोगी भारतीय व्यंजन है। यह पेट भरा रखता है और बनाने में बेहद आसान है और लगभग किसी भी समय इसे खाया जा सकता है, चाहे वह दोपहर का खाना हो या रात का खाना। साथ ही इसमें बहुत या नयापन लाया जा सकता है और आप दाल, सब्ज़ीयाँ, मसाले के अनोखे मेल से अलग-अलग प्रकार की खिचड़ी बना सकते हैं ....
जैसा इसका नाम है, पंचकुटी दाल पँच दालों का सवादिष्ट मेल है। अगर आपने याद से पहले से ही दाल भिगोकर रखि है तो इस व्यंजन को आसनी से बनाया जा सकता है, क्योंकि इसमें केवल आम मसाले और आसान तरीके अपनाये गए हैं। दालों का यह मेल ही इस व्यंजन को इतना खास बनाता है कि इसे आप रोटी या चावल के साथ बिना सब्ज़ी के प ....
इस चार दाल का दलचा में चार दाल का संयोजन विविध सामग्री के साथ किया गया है जो सभी को निश्चित ही पसंद आएगा। दालचा का मतलब होता है किसी भी सामग्री को तब तक पकाना जब तक वह पूरी तरह मसल जाए और नाम के अनुसार इस नुस्खे में भी दाल पूरी तरह मसली हुई है। लाल कद्दू का उपयोग इस व्यंजन की बनावट को संतुलित करन ....
Goto Page: 1 2 

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन