बासूंदी रेसिपी | गुजराती बासुंदी | बासुंदी बनाने की विधि | | Basundi ( Gujarati Recipe) Recipe - How To Make Basundi
द्वारा

बासूंदी रेसिपी | गुजराती बासुंदी | बासुंदी बनाने की विधि | Gujarati basundi recipe in hindi |


गुजराती बासुंदी एक शाही और स्वादिष्ट गाढ़े दूध की गुजराती मिठाई है, जो उत्तर भारतीय रबड़ी के समान है। मूल रूप से दूध को मोटे सतह वाले पॅन में उबालकर कम किया जाता हैं।

बादाम और पिस्ता इस समृद्ध और मलाईदार मिठाई में करकरापन जोडते हैँ। बासूंदी पकाते समय ध्यान रहे कि पॅन को खुरचते रहने है, ताकि बासुंदी गाढ़ी तैयार हो और उसे अपनी सही मलाईदार बनावट भी प्राप्त हो।

दूसरी बात यह भी ध्यान में रखें कि खुरचते के लिए एक गोल चम्मच का उपयोग न करके एक सपाट चम्मच का उपयोग करें तो खुरचना सुविधाजनक होगा। इसे आप गरम या ठंडा तली हुई पुरी और उंधियु के साथ परोस सकते हैं।

अक्सर रक्षा बंधन, जन्माष्टमी या नवरात्री जैसे त्यौहारों के आने से मेरे पिताजी 5 बजे से दूध उबालना शुरू कर देते थे ताकि माँ के उठने से पहले गैस भोजन बनाने के लिए मु्क्त हो।

प्रामाणिक बासूंदी के नुस्खे को हल्का मोड़ देकर आप फलों के स्वाद भरी अनानस की बासुंदी भी तैयार कर सकते हैं। बासूंदी के पकाने की प्रक्रिया को तेज़ करने के लिए आप कंडेन्सड मिल्क का भी प्रयोग कर सकते हैं।

बासूंदी बनाने का नुस्खा यहाँ क्रमशः तस्वीरो के साथ दर्शाया गया है। गोलपापडी, कोपरा पाक और मोहनथाल जैसी अन्य गुजराती मिठाई भी जरूर आज़माईए।

बासूंदी रेसिपी  | गुजराती बासुंदी |  बासुंदी बनाने की विधि |  in Hindi

This recipe has been viewed 44559 times




बासूंदी रेसिपी | गुजराती बासुंदी | बासुंदी बनाने की विधि | - Basundi ( Gujarati Recipe) Recipe - How To Make Basundi in Hindi

तैयारी का समय:    पकाने का समय:    कुल समय :     ६ मात्रा के लिये
मुझे दिखाओ मात्रा

सामग्री

बासूंदी बनाने की सामग्री
६ १/२ कप फूल फॅट दूध
१/२ कप शक्कर
१/२ टी-स्पून इलायची पाउडर
२ टी-स्पून स्लाईस किए हुए बादाम
२ टी-स्पून कटे हुए काजू

बासूंदी सजाने के लिए
२ टी-स्पून बादाम के कतरन
२ टी-स्पून पिस्ता की कतरन
कुछ केसर के रेसे
विधि
    Method
  1. बसुंदी की रेसिपी बनाने के लिए, एक गहरे नॉन-स्टिक पॅन में 1/4 कप पानी डालकर उसे 2-3 मिनट तक उबाल लीजिए। यह दूध को पॅन में चिपकने से रोकता है क्योंकि पानी पॅन और दूध के बीच एक सुरक्षात्मक परत बनाता है। इसके अलावा, यह सलाह दी जाती है कि बासुंदी जैसी भारतीय मिठाई बनाने के लिए पॅन की निचली सतह मोटी होनी
  2. अब पॅन में फुल फॅट दूध डालकर उसे उच्च आँच पर एक उबाल आने तक पका लीजिए। इसमें लगभग 7-8 मिनट लगेंगे। दूध को पॅन में चिपकने या भूरे रंग का होने से बचाने के लिए बीच-बीच में हिलाते रहिए। अच्छी बासुंदी बनाने के लिए फुल फॅट दूध का उपयोग करना बहुत महत्वपूर्ण है।
  3. आँच को कम करके पॅन की किनारियों को बीच-बीच में खुरचते और दूध को हिलाते हुए धीमी आँच पर 45-48 मिनट के लिए पका लीजिए। दूध उबलकर बह न जाए इससे बचने के लिए दूध पकाते समय पास रहना हमेशा बेहतर होता है। यदि आपको अधिक गाढ़ापन पसंद हो तो दूध को थोड़ी और देर के लिए उबाल लीजिए।
  4. उसमें शक्कर डालकर धीमी आँच पर लगभग 40 मिनट के लिए लगातार हिलाते हुए और किनारियों से दूध को खुरचते हुए पका लीजिए। यदि आप खुरचना भूल गये तो बासुंदी गाढ़ी नहीं बनेगी क्योंकि खुरचने और बीच-बीच में हिलाते हुए पकाने से गाढ़ी बासुंदी तैयार होती है। आपको यदि अधिक मिठा पसंद हो तो थोड़ी ज्यादा शक्कर भी डाल शक
  5. उसमें इलायची पाउडर डालकर उसे धीमी आँच पर 10 मिनट के लिए पका लीजिए। आप जायफल पाउडर डालकर स्वाद को और भी बढ़ा सकते हैं या केसर डाल सकते हैं जो न केवल पीला रंग प्रदान करती है बल्कि हल्का सुखद स्वाद भी प्रदान करती है बासुंदी को।
  6. उसमें स्लाईस की हुई बादाम और कटे हुए काजू डालकर उसे 10 मिनट के लिए मध्यम आँच पर पका लीजिए। आप अपनी पसंद के किसी भी सूखे मेवे का उपयोग कर सकते हैं।
  7. तैयार बासुंदी को एक दूसरे गहरे बाउल में पलट दीजिए और पूरी तरह से ठंडा होने दीजिए। इसे कमरे के सामान्य तापमान तक ठंडा कीजिए।
  8. लगभग 1 घंटे के लिए रेफ्रिज़रेट कीजिए और बादाम-पिस्ता के कतरन और केसर से सजाकर ठंडा परोसिए। रेफ्रीज़रेटर में ठंडा करने से बासुंदी अधिक गाढ़ी हो जाती है।
  9. संतृप्त भोजन के एहसास लिए परोसने वाली बाउल में डालकर पड़वाली रोटी और आलू चिप्पस् की सब्ज़ी के साथ गरमा-गरम परोसिए।
  10. कोई भी गुजराती थाली जिसमें रोटी, सब्ज़ी, दाल/कढी, फरसाण, चटनी और कचुम्मबर हो।

स्ट्राबेरी बासुंदी

    स्ट्राबेरी बासुंदी
  1. विधि क्रमांक 4 के बाद बासुंदी को पूरी तरह से ठंडा होने दीजिए।
  2. उसमें 1/2 टी-स्पून नींबू का रस और 1/2 कप स्लाईड स्ट्राबेरी और जरूरत हो तो शक्कर डालिए।
  3. उसको अच्छी तरह से मिला लीजिए और 1 घंटे के लिए रेफ्रीज़रेट कीजिए और ठंडा परोसिए।

नारंगी बासुंदी

    नारंगी बासुंदी
  1. विधि क्रमांक 4 के बाद बासुंदी को पूरी तरह से ठंडा होने दीजिए।
  2. उसमें 1/2 टी-स्पून नींबू का रस और 1/2 कप संतरे की फाँक और 1 टेबल-स्पून संतरे का स्क्वाश डाल दीजिए।
  3. उसको अच्छी तरह से मिला लीजिए और 1 घंटे के लिए रेफ्रीज़रेट कीजिए और ठंडा परोसिए।
पोषक मूल्य प्रति serving
ऊर्जा336 कैलरी
प्रोटीन10 ग्राम
कार्बोहाइड्रेट26.8 ग्राम
फाइबर0.1 ग्राम
वसा15.8 ग्राम
कोलेस्ट्रॉल34.7 मिलीग्राम
सोडियम41.4 मिलीग्राम


Reviews