चवली के पत्ते ( Green chawli leaves )

चवली के पत्ते, चवली भाजी, अमरनाथ के पत्ते क्या है ? ग्लॉसरी, इसका उपयोग, स्वास्थ्य के लिए लाभ, रेसिपी  Viewed 7911 times

अन्य नाम
चवली भाजी, अमरनाथ के पत्ते

चवली के पत्ते, चवली भाजी, अमरनाथ के पत्ते क्या है?


चवली के पत्ते एक लोकप्रिय हरी पत्तेदार सब्जी है जो पूरे भारत में उगाई जाती है। यह आमतौर पर अल्पकालिक होता है, जिसमें अक्सर मोटे और मांसल तने और हरे पत्ते होते हैं।



कटे हुए चवली के पत्ते (chopped green chawli leaves)
पत्तियों को तने से निकालें। तने को फेंक दें। पत्तियों को अच्छी तरह से धो लें और अतिरिक्त पानी को छलनी से निकाल दें। कुछ पत्तियों को एक तेज चाकू के साथ चॉपिंग बोर्ड पर काट लें। नुस्खे के अनुसार, बारीक या मोटा काट लें। चवली के पत्तों के लिए कुछ रेसिपी तने के साथ कटी हुई होती हैं, उस स्थिति में पत्तियों को तने से नहीं निकालें, इसके बजाय इसे चॉपिंग बोर्ड पर तेज चाकू से काटें।

चवली के पत्ते, चवली भाजी, अमरनाथ के पत्ते चुनने का सुझाव (suggestions to choose green chawli leaves, cow peas leaves, chawli ke patte, amaranth leaves)


कुरकुरे, हरी पत्तियों वाले गुच्छों का चयन करें जिनमें कोई काले धब्बे या भूरापन नहीं हो, जो कृमि के नुकसान का संकेत हो सकता है। नम और पीली पत्तियों का चयन न करें।

चवली के पत्ते, चवली भाजी, अमरनाथ के पत्ते के उपयोग रसोई में (uses of green chawli leaves, cow peas leaves, chawli ke patte, amaranth leaves in Indian cooking)


भारतीय पाक कला में चावली के पत्तों का उपयोग दाल, पराठे और सब्जी में किया जाता है। चावली के पत्तों की सब्जी बाजरे की रोटी के साथ एक आदर्श संयोजन है। ये पत्ते एक अच्छा सलाद बनाते हैं और कढ़ी और पराठों के लिए भी उपयुक्त हैं।

चवली के पत्ते, चवली भाजी, अमरनाथ के पत्ते संग्रह करने के तरीके 


अतिरिक्त गंदगी को हटा दिया जाना चाहिए और पत्तियों को छांट कर 3 दिनों के लिए रेफ्रिजरेटर में एक प्लास्टिक बैग में और संग्रहीत किया जाना चाहिए।

चवली के पत्ते, चवली भाजी, अमरनाथ के पत्ते के फायदे, स्वास्थ्य विषयक (benefits of green chawli leaves, cow peas leaves, chawli ke patte, amaranth leaves in Hindi)

चवली के पत्ते शरीर से खराब कोलेस्ट्रॉल (LDL) को कम करने में मदद करता है। इसचवली के पत्ते के अलावा इसमें पोटेशियम और मैग्नीशियम की भी थोडी मात्रा होती है और यह दो पोषक तत्व हृदय स्वास्थ्य को बनाए रखते हैं। चवली के पत्ते एनीमिया (anaemia) के लिए भी अच्छा होते हैं। विटामिन ए की दैनिक आवश्यकता को 32.2% पूरा करते हुए चवली के पत्ते सच में दृष्टि में सुधार की दिशा में काम करते हैं। इन पत्तों में पाया जाने वाला फाइबर है जो पाचन तंत्र बनाए रखने में और कब्ज पर काबू पाने के लिए अच्छा होता है।