गुजराती कढ़ी की रेसिपी - Gujarati Kadhi
द्वारा

Gujarati Kadhi recipe In hindi

This recipe has been viewed 4069 times
5/5 stars  100% LIKED IT   
1 REVIEW ALL GOOD

Gujarati Kadhi - Read in English 



गुजरात के खाने में यदि कढ़ी का न होना मतलब गुजराती थाली अधुरी है। इसे गुजरात की पाकशैली से अलग नहीं किया जा सकता है।

देखा जाए तो यह बेसन से गाढ़ा बनाया गया दही का एक मीठा और तीखा मिश्रण है, जिसे बहुत से तरीकों से मज़ेदार बनाया जा सकता है और अन्य सामग्री मिलाई जा सकती है, जैसे कि पकौड़े और कोफ़्ते।

इस आसान से व्यंजन को बनाने के लिए आपको विशिष्ट तकनीक अपनानी है, जिसके लिए अभ्यास की आवश्यक्ता है। याद रखें कि कढ़ी को कभी भी तेज़ आँच पर ना उबाले, क्योंकि दही फट सकती है। आप इस कढ़ी का सेवन चावल के साथ कर सकते हैं।

Gujarati Kadhi recipe - How to make Gujarati Kadhi in hindi

तैयारी का समय:    पकाने का समय:    कुल समय :     ४ मात्रा के लिये
मुझे दिखाओ मात्रा

सामग्री
२ कप ताज़ा दही
५ टेबल-स्पून बेसन
२ टी-स्पून घी
१/२ टी-स्पून ज़ीरा
१/२ टी-स्पून सरसों
चुटकी हींग
कड़ी पत्ते
नमक , स्वादानुसार
१ टी-स्पून अदरक-हरी मिर्च की पेस्ट
२ टेबल-स्पून शक्कर

सजावट के लिए
बारीक कटा हुआ हरा धनिया

परोसने के लिए
रोटी
पुरन पोली
खिचड़ी
विधि
    Method
  1. एक गहरे बाउल में दही और बेसन को मिलाकर कोई गट्ठे न रह जाएँ तब तक फेंट लीजिए।
  2. उसमें 3 कप पानी डालकर अच्छी तरह से मिला लीजिए और एक तरफ रख दीजिए।
  3. एक कढ़ाई में घी गरम कीजिए और उसमें ज़ीरा और सरसों डाल दीजिए।
  4. जब बीज़ चटकने लगे, तब उसमें हींग डालकर कुछ सेकंड के लिए भून लीजिए।
  5. फिर उसमें तैयार दही-बेसन-पानी का मिश्रण, कड़ी पत्ते, नमक, अदरक-हरी मिर्च की पेस्ट और शक्कर डालकर अच्छी तरह से मिला लीजिए और लगातार हिलाते हुए 2 मिनट के लिए उबाल लीजिए।
  6. आँच को कम कर दीजिए और उसे बीच-बीच में हिलाते हुए 10-12 मिनट के लिए उबाल लीजिए।
  7. धनिए से सजाकर, रोटी, पुरन पोली और खिचड़ी के साथ गरमा गरम परोसिए।


Reviews