This category has been viewed 25126 times
 Last Updated : Sep 27,2019


 बच्चों के लिए > माँ का दूध छुडाने के समय बच्चों का आहार

10 recipes

Recipes for Weaning - Read In English

माँ का दूध छुडाने के समय बच्चों का आहार, 6 to 7 months : Weaning Recipes in Hindi 


दूध छुड़ाने की शुरुआत में यह एक पौष्टिक खाना है कयोंकि इसका रुप स्तन के दूध के समान होता है। इसके पानी को छान दिया जाता है क्योंकि 6 महीने से कम उम्र के बच्चे साबूत दाल और अनाज को पचा नहीं सकते। जब आपके बच्चे की उम्र 6 महीने से ज़्यादा हो जाये, इसे बिना छाने परोसना बेहतर होता है। इसे और भी स्वादिष्ट ....
यह दाल और अनाज का क बेहतरीन मेल है जो आपके बच्चे के लिए तब उपयुक्त होता है जब वह दूध छुड़ाने के 1-2 हफते बाद वह चावल खाना सीख जाता है। यह आपके शिशु के आहार में ज़्यादा विभिन्नता लाने के साथ-साथ स्वास्थ्य के लिए भरपुर मात्रा में प्रोटीन भी प्रदान करता है।
यह एक बहुत ही रंग-बिरंगा सूप है और शुरुआत में आपके शिशु के बीप में बहुत से दाग लगने वाले हैं। गाजर विटामीन ए प्रदान करता है जो आपके बच्चे की तवचा के लिए अच्छा होता है और चकुंदर मीठास, रंग और रेशांक प्रदान करता है। नीचे दिये गए अन्य विकल्प बनाकर देखें क्योंकि "विभिन्नता ज़िन्दगी मज़ेदार बनाती है"। म ....
केला बच्चों को पसंद आने वाला फल है और बहुत ही कम फलों में से एक है जिसे बच्चे कच्चा खा सकते हैं। केले को जब इस चमकीले मेल में दही और संतरे के रस के साथ मिलाया जाता है, यह आपके शिशु को ऊर्जा, कार्बोहाईड्रेट, कॅलशियम, विटामीन ए और विटामीन सी प्रदान करता है।
इसके मीठे स्वाद और दरदरे रुप के कारण अकसर बच्चों को अंजीर बेहद पसंद आता है- जो उनके लिए कुछ नया है। दूध से पतला किये गया अंजीर और खुबानि का यह मेल, विटामीन ए और रेशांक से भरपुर मेल है। दूध इसमें कॅलशियम प्रदान करता है जो आपके बच्चे की हड्डीयों के स्वस्थ बढ़ाव के लिए ज़रुरी है।
माल्ट किये हुए अनाज और दाल का एक बेहतरीन मेल जो ऊर्जा, प्रोटीन और फोलिक एसिड प्रदान करता है। नाचनी एक ऐसा अनाज है जिसका प्रयोग बहुत ज़्यादा नहीं किया जाता है, लेकिन अन्य अनाज की तुलना में यह लौह और कॅलशियम से भरपुर होता है। आप इस ममिश्रण को हवा बद डब्बे में रखकर कुछ हफ्तों के लिए रख सकते हैं।
आपके नन्हे शिशु को यह विटामीन ए और सी भरपुर पपीता और आम का नींबू के रस के साथ का यह मेल ज़रुर पसंद आयेगा। इस पपाया एण्ड मैन्गो पयूरी का स्वाद खट्टा मीठा है।
क्योंकि अब आपकी बच्ची तेज़ी से बढ़ रही है और उसकी भूख भी बढ़ते जा रही है। यह संपूर्ण और पौष्टिक पॉरिज उसका पेट कुछ घंटो के लिए भरा रखेगा। बाजरा प्रोटीन और लौह से भरपुर होता है। इस पॉरिज को मीठा बनाने के लिए खजूर का प्रयोग किया गया है कयोंकि यह ज़रुरी मात्रा में लौह और रेशांक प्रदान करते हैं।
आपके बच्चे की बढ़ती ऊर्जा और प्रोटीन की ज़रुरतों को पुरा करने के लिए दाल मैश एक बेहतरीन खाना है। सादे दाल मैश के साथ शुरुआत कर आप धीरे-धीरे उसमें सब्ज़ीयाँ मिला सकते हैं। जब आपके बच्चे की उम्र 6 माह से ज़्यादा हो जाये, आप इसमें थोड़ौ काली मिर्च और नींबू का रस मिलाकर इसके स्वाद को उभार सकते हैं।
विकल्प के रुप में आप अपने शिशु को कभी-कभी कटे हुए आम और कटे हुए ताज़े नारियल का प्यूरी परोस सकती हैं।

Top Recipes

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन