This category has been viewed 32459 times
 Last Updated : Oct 16,2020


  > बच्चों के लिए



Kids Recipes - Read In English
બાળકોનો આહાર - ગુજરાતી માં વાંચો (Kids Recipes in Gujarati)

बच्चों का आहार : Kids Recipes, Easy Kids Recipes in Hindi 


Top Recipes

Goto Page: 1 2 3 
स्टफ्ड गोभी पराठा रेसिपी | स्टफ्ड फूलगोभी पराठा | स्टफ्ड कौलीफ्लावर पराठा | stuffed cauliflower paratha recipe in hindi | स्टफ्ड कौलीफ्लावर पराठा, यह एक बेहतरीन तरीका है, स्वास्थयवर्धक कौलीफ्लावर बनाने का। यह पराठे काफी कुरकुरे और स्वादिष्ट है, जिसे कोई भी मना नहीं कर सकता। गेहूं का आटा और अधिक मात्रा में फूलगोभी इस पकवान को पौष्टिक बनाते हैं, जब कि सुगन्धित धनिया और पुदिना के साथ हरी मिर्च, इन पराठों को प्राकृतिक सुगंध देते हैं, जो किसी की भी भूक बढ़ा दे।
मिक्सड वेजिटेबल पराठा, उत्तर भारत का एक पौष्टिक सुबह का नाश्ता है जो इतना स्वादिष्ट है कि इसके साथ किसी भी प्रकार का अन्य व्यंजन कि आवश्यक्ता क ज़रुरत नही होती! अपने फ्रिज से किसी भी सब्ज़ी को चुनकर इस पराठे मे भर सकते है। थोड़े से मसाले इस पराठे को और भी स्वादिष्ट बनाते है और साथ ही चम्मच भर मक्ख़न इसकी खुशबु और स्वाद को निहरता है।
एक पारंपरिक गुजराती व्यंजन, यह छोला दाल पुडला एक स्वादिष्ट पॅनकेक है, जिसे भिगोए और पीसे हुए छोला दाल में मेथी और अन्य आम सामग्री मिलाकर घोल से बनाया गया है। आपको यह बेहद स्वादिष्ट, करारे पॅनकेक संपूर्ण और स्वादिष्ट लगेंगे, जो बेसन से बने आम चीले से दोगुना बेहतर लगते हैँ।
बेक्ड ओट्स के साथ पीनट बटर रेसिपी | ओट्स और पीनट बटर का नाश्ता | ब्लूबेरी के साथ स्वस्थ बेक्ड ओट्स | बेक्ड ओट्स के साथ ब्लूबेरी और स्ट्रॉबेरी | indian style baked oats with peanut butter in hindi | with 17 amazing images. भारतीय स्टाइल बेक्ड ओट्स के साथ पीनट बटर रेसिपी | ब्लूबेरी के साथ स्वस्थ बेक्ड ओटमील | बेक्ड ओटमील के साथ ब्लूबेरी और स्ट्रॉबेरी | स्ट्रॉबेरी के साथ बेक्ड ओटमील एक स्वस्थ और स्वादिष्ट नाश्ता है। ब्लूबेरी के साथ स्वस्थ बेक्ड ओटमील बनाना सीखें। बेक्ड ओट्स के साथ पीनट बटर बनाने के लिए, आधे रोल्ड ओटस् पीस लें और आधे सामान्य रखें। इसे बेकिंग बाउल में डालें। कटोरे में सादा बादाम का दूध और एक अंडे का सफेद भाग डालें। १/२ पके केले को मैश करें और कटोरे में डालें। प्रोटीन पाउडर (वैकल्पिक), चिया बीज, बेकिंग पाउडर, दालचीनी और नमक डालें। अच्छी तरह से मलाएं। ओट्स को १८०°से (३६०°फ) पर २५ मिनट के लिए बेक करें। ५ मिनट के लिए ठंडा करें। ऊपर से पीनट बटर डालें। सर्वोत्तम परिणामों के लिए होममेड पीनट बटर का उपयोग करें। यह आपको घंटों तक भरा और संतुष्ट रखेगा। बेक्ड ओटमील के साथ ब्लूबेरी और स्ट्रॉबेरी में तीन महत्वपूर्ण मैक्रोन्यूट्रिएंट होते हैं जो एक संतुलित भोजन में योगदान करते हैं। ये पके हुए ओट्स प्रोटीन से भरपूर होते हैं। अंडे का सफेद भाग और प्रोटीन पाउडर प्रोटीन के बेहतरीन स्रोत हैं। प्रोटीन न केवल आपको पूर्ण रखने में मदद करता है, बल्कि आपकी मांसपेशियों को भी ठीक करने में मदद करता है। यदि आप सक्रिय हैं, तो ये ओट्स परफेक्ट पोस्ट वर्कआउट फूड हैं। स्ट्रॉबेरी के साथ बेक्ड ओटमील में ओट्स और केला कार्बोहाइड्रेट के स्वस्थ स्रोत हैं। कार्बोहाइड्रेट आवश्यक हैं क्योंकि वे ऊर्जा के मुख्य स्रोत हैं। ओट्स कार्ब्स का एक पूरा रूप है, जो धीमी गति से पचता है और आपको निरंतर ऊर्जा देता है। ओट्स बीटा-ग्लूकन में भी समृद्ध है जो रक्त शर्करा और रक्त कोलेस्ट्रॉल का प्रबंधन करने में मदद करता है। चिया बीज भी कुछ फाइबर जोड़ते हैं। दूसरी ओर, ओट्स में पीनट बटर वसा का एक पौष्टिक रूप है, जो तृप्ति स्तर में जोड़ता है। वसा को आमतौर पर अस्वास्थ्यकर माना जाता है और आप 'चरबी बढ़ाते है।' हालांकि, एक स्वस्थ आहार के हिस्से के रूप में संतृप्त वसा की तुलना में स्वस्थ वसा आवश्यक है। मूंगफली के भारतीय स्टाइल बेक्ड ओट्स के साथ पीनट बटर रेसिपी में ये वसा कोलेस्ट्रॉल के स्तर और हृदय रोग के जोखिम को कम करने में मदद करते हैं। हालांकि, मधुमेह रोगियों के लिए हम केले के उपयोग से बचने और भाग के मात्रा को आधे तक सीमित रखने का सुझाव देते हैं। ब्लूबेरी के साथ स्वस्थ बेक्ड ओटमील मिठाइयों के प्रेमियों के लिए बहुत बढ़िया है! यह भी अनुकूलन योग्य है क्योंकि आप हाथ पर ओट्स के ऊपर डालने के लिए ओट्स का प्रकार, अखरोट का मक्खन या फल का उपयोग कर सकते हैं। इसके अलावा, यह एक डिश व्यंजन है जिसमें सभी पोषक तत्व शामिल हैं। भारतीय स्टाइल बेक्ड ओट्स के साथ पीनट बटर रेसिपी के लिए टिप्स। 1. सर्वोत्तम स्वाद के लिए और एक परिरक्षक मुक्त बादाम सुनिश्चित करने के लिए, घर पर बिना सुगंधित बादाम दूध बनाने का प्रयास करें। 2. हमने रोल्ड ओटस् का उपयोग किया है क्योंकि वे स्वस्थ हैं, लेकिन यदि आप उन्हें नहीं पा रहे हैं तो आप क्विक कुकिंग रोल्ड ओटस्का उपयोग कर सकते हैं। 3. बेक करने से पहले, सुनिश्चित करें कि मिश्रण एकमुश्त है। आनंद लें बेक्ड ओट्स के साथ पीनट बटर रेसिपी | ओट्स और पीनट बटर का नाश्ता | ब्लूबेरी के साथ स्वस्थ बेक्ड ओट्स | बेक्ड ओट्स के साथ ब्लूबेरी और स्ट्रॉबेरी | स्टेप बाय स्टेप फोटो के साथ।
अगर आपके पास ढ़ोकले तैयार हैं, तो इस स्वादिष्ट संपूर्ण व्यंजन को झटपट बनाया जा सकता है! रसावाला ढ़ोकला और कुछ नही लेकिन मीठे और तीखे रस (पतला सॉस) में भिगोए हुए खमन ढ़ोकले हैं। ढ़ोकले को रसे में परोसने के तुरंत पहले डालकर धिमी आँच पर उबाल लें, जिससे इस व्यंजन को पर्याप्त तरह से बनाया जा सके और आप इसके स्वाद का मज़ा ले सके।
दूधी मुठिया रेसिपी | गुजराती दूधी मुठीया की रेसिपी | लौकी मुठिया | doodhi muthia recipe in hindi language | with 25 amazing images. दूधी मुठिया मुठ्ठी के आकार का एक गुजरातियों का पसंदीदा नाश्ता है। इसमें दूधी और प्याज़ के साथ उपयुक्त मात्रा में सूजी, गेहूं के आटे और बेसन का संयोजन है। जबकि हरी मिर्च, अदरक और धनिया इस दूधी मुठिया को अधिक लज़ीज बनाते हैं, तो दूसरी ओर सरसों और तिल का पारंपारिक तड़का इन्हें खूश्बूदार और करकरापन प्रदान करते है। स्टीमर से निकालकर गरमा-गरम ही इनका आनंद लें। मैं सही दूधी मुठिया बनाने के लिए कुछ सुझाव देना चाहूंगा। 1. फिर कसा हुआ और निचोड़ा हुआ प्याज डालें, लेकिन यह वैकल्पिक है, यदि आप प्याज नहीं डालना चाहते तो ना डालें। कसा हुआ गोभी, गाजर कुछ अन्य सब्जियां हैं जीसका आप उपयोग कर सकते हैं। 2. जीरा डालें। ये छोटे-छोटे बीज मुठिया के स्वाद को बढ़ा देंगे। अपनी विशिष्ट सुगंध और स्वाद के कारण जीरा व्यापक रूप से भारतीय और अंतरराष्ट्रीय व्यंजनों में जीरा और जीरा पाउडर के रूप में उपयोग किया जाता है। 3. फिर शक्कर डालें। नींबू के रस के साथ जोडने से मुठिया में एक मीठा और खट्टा स्वाद मिलेगा, जिसके लिए गुजराती रेसिपीओ को जाना जाता है। 4. फिर सोडा-बी-कार्ब डालें, जीसे बेकिंग सोडा के रूप में भी जाना जाता है। यह मुठिया को मुलायम बनाने में सहायक है। 5. अगर जरूरत हो तो थोड़ा पानी डालें और एक नरम आटा बना लें। पारंपरिक रेसिपी में पानी का उपयोग नहीं करते है, सब्जियों के पानी का उपयोग करके आटा बना लेते है। उबली हुई लौकी मुठिया को हरी चटनी के साथ परोसें। नीचे दिया गया है दूधी मुठिया रेसिपी | गुजराती दूधी मुठीया की रेसिपी | लौकी मुठिया | doodhi muthia recipe in hindi language | स्टेप बाय स्टेप फोटो और वीडियो के साथ।
मोहनथाल एक और मशहुर गुजराती मिठाई है। इस मिठाई को सही तरह से बनाना ज़रुरी होता है, कयोंकि एक तार वाली चाशनी इस व्यंजन को अच्छी तरह से बनाने का मूल है। अगर बहुत ज़्यादा पक जाए, इस व्यंजन के रंग और स्वाद पर प्रभाव पड़ता है। साथ ही, इस व्यंजन को नरम रुप प्रदान करने वाले मावा को बेसन के अच्छी तरह सुनहरा होने के बाद डालने के बाद मिलाना चाहिए।
गोलपापड़ी रेसिपी | गुड़ पापड़ी | सुखड़ी | गुजराती गुड़ पापड़ी | Golpapdi recipe in hindi language | with 16 amazing images. गुड़ पापड़ी एक पारम्परिक गुजराती स्वीट डिश है, जो पूरी-गेहूँ के आटे और गुड़ से तैयार होती है। यह गेहूं से बना मीठा, किसी भी पारंपरिक गुजराती मिठाई की तुलना मे बनाने में बेहद आसान है। चूंकी गुड़ पापड़ी बहुत ज़्यादा घी का प्रयोग नही किया जाता है और इसे बनाना भी बेहद आसान है, आप इसे शाम के नाश्ते के लिए भी बना सकते हैं। गुड़ को पतला कीसने का ध्यान रखें, जिससे इसके मिश्रण में डल्ले ना बने। सर्दीयों के मौसम में, आप इसमें गौंद भी डाल सकते हैं, जैसे बहुत से गुजरात के श्रेत्रों में किया जाता है। सुखड़ी को एक एयर-टाइट कंटेनर में स्टोर करें। परंपरागत रूप से सुखड़ी को सर्दियों के दौरान खाया जाता है क्योंकि यह आपके शरीर को गर्माहट प्रदान करता है। मेरे पास आमतौर पर गोल पापड़ी बनाई और संग्रहीत की जाती है जो मिठाई की लालसा को मारने में मदद करती है। नीचे दिया गया है गोलपापड़ी रेसिपी | गुड़ पापड़ी | सुखड़ी | गुजराती गुड़ पापड़ी | Golpapdi recipe in hindi language | स्टेप बाय स्टेप फोटो और वीडियो के साथ।
इन तीखी पुरी को खाने के समय या शाम की चाय के साथ भी परोसा जा सकता है। विकल्प के रुप में, आप इनमें काँटे से छेद कर और मध्यम आँच पर तलकर करारी पुरी भी बना सकते हैं और इन्हें अपने बच्चों के लिए संग्रह कर सकते हैं, जिससे खाने के बीच भूख लगने पर वह इन्हे खा सके! इसके अलावा, आप पुरी को तलने के बजाय बेक भी कर सकते हैं, बस इस बात का ध्यान रखें कि इन्हें बेक करने से पहले बहुत ही पतला बेलें।
थेपला रेसिपी | गुजराती थेपला | पौष्टिक प्लेन थेपला | मसाला थेपला रेसिपी | thepla recipe in hindi | with 19 amazing images. थेपला गुजराती खाने से कभी ना अलग होने वाला भाग है, जो रोज़ के खाने के लिए, बाहर जाते समय और पिकनिक के लिए भी पर्याप्त होते हैं! दही और छून्दा के साथ खाने पर, थेपला को गरमा गरम या ठंडा भी खाया जा सकता है। कभी-कभी थेपला के स्वाद को निहारने के लिए साबूत ज़ीरा या तिल भी मिलाए जाते हैं। आप इसमें मेथी और लौकी जैसी अन्य सामग्री भी मिला सकते हैं, जिससे आपको और भी विकल्प मिलेंगे। नीचे दिया गया है थेपला रेसिपी | गुजराती थेपला | पौष्टिक प्लेन थेपला | मसाला थेपला रेसिपी | thepla recipe in hindi | स्टेप बाय स्टेप फोटो और वीडियो के साथ।

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन