मटकी और ज्वार का पराठा की रेसिपी | Matki and Jowar Paratha
द्वारा

मटकी और ज्वार का पराठा की रेसिपी in Hindi

This recipe has been viewed 3991 times
5/5 stars  100% LIKED IT   
1 REVIEW ALL GOOD

Matki and Jowar Paratha - Read in English 



गर्भावस्था के दौरान आपका लोह के स्तर को बढ़ाने का यह एक शानदार नुस्खा है।

उबाली और क्रश की हुई मटकी को गेहूं और ज्वार के आटे के साथ मिलाकर आटा गूँथकर यह मज़ेदार पराठे तैयार किए गए हैं।

मटकी के मिलाने से पराठे नरम और स्वादिष्ट बनते है तो दूसरी ओर मसालों का छिडकाव इन्हें और सुगंधिदार बनाते हैं। मसालों का कम प्रयोग करने से अम्लता को टाला जा सकता जो गर्भावस्था के दौरान आम है। दाल के साथ इन गरमा गरम पराठों का मज़ा लें।

मटकी और ज्वार का पराठा की रेसिपी - Matki and Jowar Paratha recipe in Hindi

तैयारी का समय:    पकाने का समय:    कुल समय :     ८ पराठों के लिये
मुझे दिखाओ पराठों

सामग्री

मटकी और ज्वार का पराठा बनाने के लिए सामग्री
१/२ कप उबाली और क्रश की हुई मटकी
१/२ कप ज्वार का आटा
१/२ कप गेंहू का आटा
१ टी-स्पून लाल मिर्च पाउडर
१/४ टी-स्पून हल्दी पाउडर
१ टी-स्पून धनिया-ज़ीरा पाउडर
१/४ कप बारीक कटी हुई धनिया
१ टी-स्पून तेल
नमक , स्वादानुसार
गेंहू का आटा , बेलने के लिए
२ टी-स्पून तेल पकाने के लिए
विधि
    Method
  1. मटकी और ज्वार का पराठा की रेसिपी बनाने के लिए, एक गहरे बाउल में सभी सामग्री मिलाकर प्रर्याप्त पानी का प्रयोग करके हल्का सख्त आटा गूँथ लीजिए।
  2. आटे को 8 बराबर भागों में बाँट लीजिए।
  3. आटे के एक भाग को 150 मि. मी. (6") व्यास के गोल आकार में थोड़े सूखे गेहूं के आटे का प्रयोग करके बेल लीजिए।
  4. एक नानॅ-स्टिक तवा गरम कीजिए और उस पर 1/4 टी-स्पून तेल का प्रयोग कर के पराठा के दोनों तरफ सुनहरे दाग पड़ने तक पका लीजिए।
  5. विधी क्रमांक 3 और 7 को दोहराकर 7 और पराठा बना लीजिए।
  6. मटकी और ज्वार का पराठा गरमा गरम परोसिए।
पोषक मूल्य प्रति paratha
ऊर्जा66 कैलरी
प्रोटीन1.6 ग्राम
कार्बोहाइड्रेट10.4 ग्राम
फाइबर1.6 ग्राम
वसा2.2 ग्राम
कोलेस्ट्रॉल0 मिलीग्राम
सोडियम2.5 मिलीग्राम


Reviews

मटकी और ज्वार का पराठा की रेसिपी
 on 22 Sep 18 04:19 PM
5

तरलाजी द्वारा बताए हुए इस रेसिपी जो गर्भावस्था के दौरान लोह के स्तर को बढ़ाने और अम्लता को टाला जा सकता है जिसे बनाना भी बहुत आसान है। यह उबाली और क्रश की हुई मटकी को गेहूं और ज्वार के आटे के साथ मिलाकर आटा गूँथकर बने इस मज़ेदार पराठों को साथ दाल के साथ खाइए।