दाल पराठा रेसिपी | मूंग दाल भरवां मसाला पराठा | हेल्दी मूंग दाल भरवा पराठा | मूंग दाल के परांठे | Dal Paratha, Healthy Green Moong Dal ka Paratha
द्वारा

दाल पराठा रेसिपी | मूंग दाल भरवां मसाला पराठा | हेल्दी मूंग दाल भरवा पराठा | मूंग दाल के परांठे | dal paratha in Hindi | with 45 amazing images.

दाल पराठा रेसिपी | हरी मूंग दाल पराठा | स्वस्थ भारतीय दाल भरवां पराठा अपने आप में एक पौष्टिक एक व्यंजन भारतीय भोजन है। जानिए हरी मूंग दाल पराठा बनाने की विधि।

दाल पराठा बनाने के लिए, आटे के लिए सभी सामग्री को एक गहरे बाउल में मिला लें और ज़रुरत मात्रा में पानी का प्रयोग कर नरम आटा गूँथ लें। ढ़ककर एक तरफ रख दें। भरवां मिश्रण के लिए, भिगोई और छानी हुई मूंग दाल को मिक्सर में पीसकर, बिना पानी का प्रयोग किये, दरदरा मिश्रण बना लें। एक तरफ रख दें। एक चौड़े नॉन-स्टिक पॅन में तेल गरम करें, पीसी हुई दाल डालकर मध्यम आँच पर, बीच-बीच में हिलाते हुए, ३-४ मिनट तक भुन लें। आँच से हठाकर, सौंफ, लाल मिर्च पाउडर, हल्दी पाउडर, नमक, २ टेबल-स्पून पानी डालकर अच्छी तरह मिला लें और बीच-बीच में हिलाते हुए, मध्यम आँच पर १ मिनट तक पका लें। भरवां मिश्रण को ८ भाग में बाँट लें और एक तरफ रख दें। आटे को ८ भाग मे बाँट लें। आटे के प्रत्येक भाग को, थोड़े सूखे आटे का प्रयोग कर, १०० मिमी। (४") व्यास के गोल आकार में बेल लें। गोले के बीच में भरवां मिश्रण के एक भाग को रखें और किनारों को बीच में साथ लाकर अच्छी तरह दबाकर बंद कर लें। भरे हुए होले को, दुबारा थोपडे सूखे आटे का प्रयोग कर, १२५ मिमी। (५") व्यास के गोल आकार में बेल लें। एक नॉन-स्टिक तवा गरम करें और १/२ टी-स्पून तेल तेल का उपयोग करके, पराठे को दोनो तरफ से सुनहरा होने तक पका लें। विधी क्रमांक २ से ५ को दोहराकर ७ और पराठे बना लें। ताज़े दही के साथ तुरंत परोसें।

स्वाद से भरे गेहूं के आटे से बने भरवां पराठे, जिन्हें मूंह में पानी लाने वाले सौंफ, हल्दी और लाल मिर्च पाउडर के स्वाद वाले हरी मूंग दाल के मिश्रण से भरा गया है। आपको शायद यह देखकर हैरानी होगी कि एक चौथाई टी-स्पून हल्दी पाउडर और आधा टी-स्पून सौंफ क्या कर सकते हैं, लेकिन यह सामग्री पकने के बाद, इन हरी मूंग दाल पराठा को मज़ेदार खुशबु प्रदान करते हैं।

यह स्वस्थ भारतीय दाल भरवां पराठा प्रोटीन के साथ फूट रहा है, मूंग दाल के उपयोग के लिए धन्यवाद। प्रोटीन शरीर के खराब हो चुके ऊतकों की मरम्मत और त्वचा और प्रतिरक्षा कोशिकाओं सहित नई कोशिकाओं के निर्माण के लिए एक महत्वपूर्ण पोषक तत्व है।

और इस तथ्य के लिए, यह भी सही है कि पूरे गेहूं के आटे से बना यह दाल पराठा फाइबर से भरपूर होता है और इस प्रकार मधुमेह, स्वस्थ हृदय और वजन घटाने वाले आहार के लिए एक बुद्धिमान अतिरिक्त है। इन पराठों में मैग्नीशियम की अच्छी मात्रा दिल की धड़कन को स्वस्थ बनाए रखने में मदद करेगी।

दाल पराठा के लिए टिप्स। 1. हरी मूंग दाल को एक घंटे के लिए भिगोना है। इसलिए इसके लिए पहले से योजना बना लें। 2. मूंग दाल को दरदरा ही ब्लेंड कर लें। यह स्टफिंग के माउथफिल का आनंद लेने के लिए है। ऐसा करने के लिए, मूंग दाल को मिक्सर जार में डालें और 5 सेकंड के लिए दाल दें और रुकें। इसे २ से ३ बार दोहराकर दरदरा मिश्रण तैयार कर लें। 3. मिलाते समय पानी न डालें क्योंकि हमें सूखे मिश्रण की जरूरत है। 4. मूंग दाल पकाने के लिए पानी डालने के बाद, फिर से सुनिश्चित करें कि सारा पानी वाष्पित हो गया है। रोलिंग को आसान बनाने के लिए यह आवश्यक है। 5. चूंकि पराठा न्यूनतम तेल से बनाया जाता है, इसलिए इसका तुरंत आनंद लेना सबसे अच्छा है।

आनंद लें दाल पराठा रेसिपी | मूंग दाल भरवां मसाला पराठा | हेल्दी मूंग दाल भरवा पराठा | मूंग दाल के परांठे | dal paratha in Hindi | स्टेप बाय स्टेप फोटो के साथ।



दाल पराठा रेसिपी in Hindi

This recipe has been viewed 12700 times




दाल पराठा रेसिपी - Dal Paratha, Healthy Green Moong Dal ka Paratha recipe in Hindi

तैयारी का समय:    पकाने का समय:    भिगोने का समय:  ३० मिनट।   कुल समय :     ८ पराठे के लिये

सामग्री

आटे के लिए
१ कप गेहूं का आटा
२ टी-स्पून तेल
नमक स्वादअनुसार

भरवां मिश्रण के लिए
३/४ कप हरी मूंग दाल , ६० मिनट के लिए भिगोकर छानी हुई
१ टेबल-स्पून तेल
१/२ टी-स्पून सौंफ
१ टी-स्पून लाल मिर्च पाउडर
१/४ टी-स्पून हल्दी पाउडर
नमक स्वादअनुसार

अन्य सामग्री
गेहूं का आटा , बेलने के लिए
४ टी-स्पून तेल , पकाने के लिए

परोसने के लिए
ताज़ा दही
विधि
आटे के लिए

    आटे के लिए
  1. सभी सामग्री को एक गहरे बाउल में मिला लें और ज़रुरत मात्रा में पानी का प्रयोग कर नरम आटा गूँथ लें। ढ़ककर एक तरफ रख दें।

भरवां मिश्रण के लिए

    भरवां मिश्रण के लिए
  1. भिगोई और छानी हुई मूंग दाल को मिक्सर में पीसकर, बिना पानी का प्रयोग किये, दरदरा मिश्रण बना लें। एक तरफ रख दें।
  2. एक चौड़े नॉन-स्टिक पॅन में तेल गरम करें, पीसी हुई दाल डालकर मध्यम आँच पर, बीच-बीच में हिलाते हुए, 3-4 मिनट तक भुन लें।
  3. आँच से हठाकर, सौंफ, लाल मिर्च पाउडर, हल्दी पाउडर, नमक, २ टेबल-स्पून पानी डालकर अच्छी तरह मिला लें और बीच-बीच में हिलाते हुए, मध्यम आँच पर 1 मिनट तक पका लें।
  4. भरवां मिश्रण को 8 भाग में बाँट लें और एक तरफ रख दें।

आगे बढ़ने की विधी

    आगे बढ़ने की विधी
  1. आटे को 8 भाग मे बाँट लें।
  2. आटे के प्रत्येक भाग को, थोड़े सूखे आटे का प्रयोग कर, १०० मिमी. (४") व्यास के गोल आकार में बेल लें।
  3. गोले के बीच में भरवां मिश्रण के एक भाग को रखें और किनारों को बीच में साथ लाकर अच्छी तरह दबाकर बंद कर लें।
  4. भरे हुए होले को, दुबारा थोपडे सूखे आटे का प्रयोग कर, 125 मिमी. (5") व्यास के गोल आकार में बेल लें।
  5. एक नॉन-स्टिक तवा गरम करें और 1/2 टी-स्पून तेल तेल का उपयोग करके, पराठे को दोनो तरफ से सुनहरा होने तक पका लें।
  6. विधी क्रमांक 2 से 5 को दोहराकर 7 और पराठे बना लें।
  7. ताज़े दही के साथ तुरंत परोसें।
पोषक मूल्य प्रति paratha
ऊर्जा131 कैलरी
प्रोटीन5.3 ग्राम
कार्बोहाइड्रेट19.9 ग्राम
फाइबर3.1 ग्राम
वसा3.6 ग्राम
कोलेस्ट्रॉल0 मिलीग्राम
सोडियम6.9 मिलीग्राम
दाल पराठा रेसिपी की कैलोरी के लिए यहाँ क्लिक करें
विस्तृत फोटो के साथ दाल पराठा रेसिपी

अगर आपको दाल पराठा रेसिपी पसंद है

  1. अगर आपको दाल पराठा रेसिपी | मूंग दाल भरवां मसाला पराठा | हेल्दी मूंग दाल भरवा पराठा | मूंग दाल के परांठे | dal paratha in Hindi | पसंद है, तो फिर पराठा व्यंजनों के हमारे संग्रह की जाँच करें। अपने घर पर परांठे को बनाएं और एक कटोरी दही के साथ परोसने जैसा कुछ नहीं है।
    • मूली पराठा रेसिपी | पंजाबी मूली पराठा | पारंपरिक मूली का पराठा | मूली पराठा बनाने के तरीके | मधुमेह के अनुकूल मूली पराठा | mooli paratha in hindi | with amazing 23 images.
    • पनीर पराठा | पंजाबी पनीर पराठा | पनीर पराठा कैसे बनाये | paneer paratha recipe in hindi | with 25 amazing images.
    • पत्ता गोभी एण्ड पनीर पराठा रेसिपी | कैबॅज एण्ड पनीर पराठा | हेल्दी पत्तागोभी पनीर पराठा | cabbage paneer paratha recipe in hindi | with 22 amazing images.

हरी मूंग दाल पराठा कोनसी सामग्री से बनता है?

  1. हरी मूंग दाल पराठा कोनसी सामग्री से बनता है? दाल पराठा १ कप गेहूं का आटा,
    २ टी-स्पून तेल, स्वादअनुसार नमक, ३/४ कप हरी मूंग दाल, ६० मिनट के लिए भिगोकर छानी हुई, १ टेबल-स्पून तेल, १/२ टी-स्पून सौंफ, १ टी-स्पून लाल मिर्च पाउडर, १/४ टी-स्पून हल्दी पाउडर, गेहूं का आटा, बेलने के लिए और ४ टी-स्पून तेल, पकाने के लिए से बनता है।

हरी मूंग दाल को साफ करके भिगोने के लिए

  1. हरी मूंग दाल कुछ इस तरह दिखती है। हरी मूंग दाल छोटी 1/4" कि गोल आकार कि दाल होती है जिसका रंग उपर से जैतूनी हरे रंग का और अंदर से पीला या हल्का सफेद होता है। इस दाल का स्वाद मीठा होने के साथ-साथ यह नरम और पचाने मे आसान होती है। हरा मूंग बहुत से विकल्प मे मिलता है जैसे संपूर्ण, दाल के रुप में और छिल्का निकाला हुआ (पिली मूंग दाल) और पिसा हुआ। हरी मूंग दाल वह दाल होती है जिसका छिलका निकाला ना गया हो। क्योंकि इसकी उपरी परत नही निकाली जाती है, इसलिये इसका हरा रंग बना रहता है।इसे दाल बनाने कि प्रक्रिया मिल मे होती है।
    हरी मूंग दाल भारतीय पाकशैली कि पारंपरिक सामग्री है जिसका प्रयोग अक्सर करी मे किया जाता है।
  2. पानी में डालकर साफ कर लें। जैसा कि आप देख सकते हैं कि बहुत सारी गंदगी है।
  3. अब हमने दाल साफ कर ली है।
  4. हरी मूंग दाल को ढककर ६० मिनिट के लिए भिगो दीजिए। नोट ३० मिनिट पर दाल अभी भी थोड़ी सख्त है।
  5. पानी को छान लें।
  6. साफ और भीगी हुई हरी मूंग दाल को एक तरफ रख दें।

मूंग दाल पराठा के लिए टिप्स

  1. हरी मूंग दाल को एक घंटे के लिए भिगोना है। इसलिए इसकी योजना पहले से बना लें।
  2. मूंग दाल को दरदरा पीस लें। यह स्टफिंग के माउथफिल का आनंद लेने के लिए है। ऐसा करने के लिए, मूंग दाल को मिक्सर जार में डालें और ५ सेकंड के लिए पीसे और रुकें। इसे २ से ३ बार दोहराकर दरदरा मिश्रण तैयार कर लें।
  3. पीसते समय पानी न डालें क्योंकि हमें सूखे मिश्रण की जरूरत है।
  4. मूंग दाल पकाने के लिए पानी डालने के बाद, सुनिश्चित करें कि सारा पानी वाष्पित हो गया हो। रोलिंग को आसान बनाने के लिए यह आवश्यक है।
  5. चूंकि पराठा न्यूनतम तेल से बनाया गया है, इसलिए इसका तुरंत आनंद लेना सबसे अच्छा है।

मूंग दाल पराठे का आटा बनाने के लिए

  1. एक गहरे कांच के कटोरे में १ कप गेहूं का आटा डालें।
  2. २ टी-स्पून तेल डालें।
  3. स्वादानुसार नमक डालें।
  4. नरम आटा गूंथने के लिए पर्याप्त पानी डालें। हमने सबसे पहले १/४ कप पानी का इस्तेमाल किया है। हमने अंत में कुल १/३ कप पानी का उपयोग किया।
  5. नरम आटा गूंथ लें।
  6. भरवां मिश्रण बनाने तक ढककर अलग रख दें।

मूंग दाल पराठा के लिए भरवां मिश्रण बनाने के लिए

  1. भीगी हुई और छानी हुई हरी मूंग दाल को मिक्सर में डालें।
  2. बिना पानी का प्रयोग किए, दरदरा मिश्रण बना लें। एक तरफ रख दें।
  3. एक चौड़े नॉन-स्टिक पॅन में १ टेबल-स्पून तेल गरम करें।
  4. दरदरी पिसी हुई दाल डालें।
  5. मध्यम आंच पर बीच-बीच में हिलाते हुए ३ से ४ मिनट के लिए भुन लें। आंच से उतार लें।
  6. १/२ टी-स्पून सौंफ डालें।
  7. १/४ टी-स्पून हल्दी पाउडर डालें।
  8. १ टी-स्पून लाल मिर्च पाउडर डालें।
  9. स्वादानुसार नमक डालें।
  10. २ टेबल-स्पून पानी डालें।
  11. अच्छी तरह मिलाएं।
  12. मध्यम आंच पर बीच-बीच में हिलाते हुए १ मिनट के लिए पका लें।
  13. भरवां मिश्रण को ८ बराबर भागों में बांटकर एक तरफ रख दें।

दाल पराठे को पकाने के लिए

  1. दाल पराठे को पकाने के लिए | मूंग दाल भरवां मसाला पराठा | हेल्दी मूंग दाल भरवा पराठा | मूंग दाल के परांठे | dal paratha in Hindi | आटे को ८ बराबर भागों में बाँट लें।
  2. रोलिंग बोर्ड पर थोड़ा सा गेहूं का आटा डालें।
  3. आटे को चपटा करें और ऊपर से थोड़ा सा गेहूं का आटा डालें।
  4. बेलने के लिए थोड़े से गेहूं के आटे का उपयोग करके, आटे को १०० मिमी। (४") व्यास के गोल आकार में बेल लें। रोटी को बेलना उतना मुश्किल नहीं है, केंद्र से गोलाकार गति में बेलना शुरू करें। यदि आप बहुत अधिक दबाव डालते हैं तो रोटी अच्छी और गोल नहीं बनेगी। बेलने के लिए अधिक आटे का उपयोग करें यदि आपको इसे बेलना मुश्किल हो रहा है, लेकिन ज्यादा नहीं, नहीं तो रोटियां सख्त हो जाएंगी।
  5. भरवां मिश्रण के एक भाग को आटे के गोल के बीच में रखें।
  6. भरवां मिश्रण को आटे के अंदर सील करने के लिए किनारों को बीच में लाएं।
  7. अन्य २ किनारों को एक साथ मिलाकर एक मनी बैग या आटे को गोल आकार का बनाएं।
  8. स्टफ्ड मनी बैग के आकार की लोई को हथेलियों से चपटा कर लें और उसके ऊपर थोडा़ सा गेहूं का आटा डाल दें।
  9. स्टफ्ड आटे को, दुबारा सूखे गेहूं के आटे का प्रयोग कर, १२५ मिमी। (५") व्यास के गोल आकार में बेल लें।
  10. एक नॉन-स्टिक तवा तेज़ आंच पर गरम करें और गरम होने पर आंच को कम कर दें। तवा तैयार है या नहीं यह जांचने का सबसे अच्छा तरीका है कि तवे पर पानी की कुछ बूंदें डालें। अगर यह चटकने लगे, तो आपका तवा रोटी बनाने के लिए तैयार हैं। आप चाहें तो तवे पर थोड़ा सा तेल लगाकर चिकना कर सकते हैं।
  11. पराठे को उसके ऊपर धीरे से रखें।
  12. पराठे को थोडा़ सा पकाएं और फिर पलट दें।
  13. परांठे को १/२ टी-स्पून तेल से चुपड लें।
  14. पलटें और स्पैचुला से थोड़ा सा दबाकर और भूरे धब्बे दिखने तक फिर से पका लें।
  15. आपका दाल पराठा | मूंग दाल भरवां मसाला पराठा | हेल्दी मूंग दाल भरवा पराठा | मूंग दाल के परांठे | dal paratha in Hindi | तवे पर पक गया है।
  16. दाल पराठा को | मूंग दाल भरवां मसाला पराठा | हेल्दी मूंग दाल भरवा पराठा | मूंग दाल के परांठे | dal paratha in Hindi | एक कटोरी दही के साथ गरमा गरम परोसें।

दाल पराठे के स्वास्थ्य को लेकर फायदे

  1. दाल पराठा - प्रोटीन से भरपूर आहार।
  2. प्रति पराठा 5.3 ग्राम प्रोटीन के साथ, यह न केवल बड़ों के लिए बल्कि बच्चों के लिए भी अपने आप में एक भोजन है।
  3. प्रत्येक पराठा हमारे फाइबर की दैनिक जरूरतों का 12% पूरा करता है।
  4. यह फाइबर रक्त कोलेस्ट्रॉल और रक्त शर्करा के स्तर को प्रबंधित करने में मदद करता है, इस प्रकार इन पराठों को दिल के अनुकूल और मधुमेह के अनुकूल बनाता है।
  5. बी विटामिन, फोलिक एसिड, मैग्नीशियम, फास्फोरस और ज़िंक कुछ अन्य प्रमुख पोषक तत्व हैं जो इन पराठों में भरपूर हैं।


Reviews