आम चने का अचार रेसिपी | राजस्थानी आम का अचार | काबुली चना अचार | चना के साथ आम का अचार | Aam Chana Achar, Rajasthani Pickle
द्वारा

आम चने का अचार रेसिपी | राजस्थानी आम का अचार | काबुली चना अचार | चना के साथ आम का अचार | aam chana achar in Hindi | with 35 amazing images.

आम चने का अचार रेसिपी | राजस्थानी आम का अचार | चना के साथ भारतीय आम का अचार | काबुली चना अचार गर्मी के मौसम में बनाने के लिए एकदम सही है जब कच्चे आम अपने चरम पर होते हैं। जानिए काबुली चना अचार बनाने की विधि।

आम चने का अचार बनाने के लिए, कैरी, हल्दी पाउडर और नमक को एक गहरे बाउल में डालकर अच्छी तरह मिला ले और ३० मिनट के लिए रख दें। कैरी से सारा पानी छानकर बाउल में निकाल लें और एक तरफ रख दें। दोनो पानी और कैरी को अलग-अलग रख दें। कच्ची कैरी को रात भर फ्रिज में रखें। मेथी दानें, काबुली चना और कच्ची कैरी के पानी को एक गहरे बाउल में डालकर अच्छी तरह मिला लें और ढ़ककर रातभर रख दें। मेथी पाउडर, सौंफ, हींग, कलौंजी, कश्मीरी लाल मिर्च, लाल मिर्च पाउडर को कसी हुई कैरी और काबुली चना-मेथी दानें के मिश्रण के साथ एक गहरे बाउल मे मिला लें और एक तरफ रख दें।
एक गहरी नॉन-स्टिक कढ़ाई में, मध्यम आँच पर सरसों के तेल को ३-४ मिनट तक यालाल होने तक गरम करें। आँच से हठाकर ठंडा करने रख दें। ठंडा करने के बाद, तेल को तैयार मिश्रण में डालें और अच्छी तरह मिला ले। अचार को साफ काँच के बर्तन में डालें और ६-७ दिनों तक रख दें। ७ दिनों के बाद, अचार खाने के लिए तैयार हो जाएगा।

सूप से लेकर अचार तक, हर व्यंजन के लिए क्विक-फिक्स हैं। लेकिन कभी-कभी लंबे समय लगने वाले व्यंजन भी बेहद स्वादिष्ट लगते हैँ। आपको यह सच तब लगेगा, जब सात दिनों तक इंतज़ार करने के बाद, आप इस स्वादिष्ट चना के साथ भारतीय आम का अचार का मज़ा लेंगे।

कच्ची कैरी और सफेद काबुली चने से बना एक पारंपरिक राजस्थानी अचार, जिसे बहुत से मसालों से स्वादिष्ट बनाया गया है और सरसों के तेल में सचगह्र किया गया है, इस राजस्थानी आम का अचार में खट्टे से लेकर तीखे स्वाद का मेल है।

आम चने का अचार के लिए टिप्स। 1. सरसों के तेल को तिल के तेल या मूंगफली के तेल से बदला जा सकता है। 2. तेल को अच्छी तरह गर्म करना याद रखें। यह अचार की शेल्फ लाइफ को बढ़ाने में मदद करता है। 3. लेकिन तेल डालने से पहले आपको तेल को ठंडा करना होगा। 4. याद रखें कि अचार को स्टोर करने से पहले जार को स्टरलाइज कर लें, ताकि अचार ज्यादा देर तक ठीक रहे।

आनंद लें आम चने का अचार रेसिपी | राजस्थानी आम का अचार | काबुली चना अचार | चना के साथ आम का अचार | aam chana achar in Hindi | स्टेप बाय स्टेप फोटो के साथ।

आम चने का अचार रेसिपी in Hindi

This recipe has been viewed 18300 times




आम चने का अचार रेसिपी - Aam Chana Achar, Rajasthani Pickle recipe in Hindi

तैयारी का समय:    पकाने का समय:    कुल समय :     २ कप के लिये
मुझे दिखाओ कप

सामग्री
१ १/२ कप कसी हुई कैरी
१/२ कप काबुली चना
१ टी-स्पून हल्दी पाउडर
नमक स्वादअनुसार
१ टेबल-स्पून मेथी दानें
१ टेबल-स्पून मेथी पाउडर
१ टेबल-स्पून सौंफ
१/२ टी-स्पून हींग
१ टी-स्पून कलौंजी
सूखी कश्मीरी लाल मिर्च
१ टेबल-स्पून लाल मिर्च पाउडर
१ १/४ कप सरसों का तेल
विधि
    Method
  1. कैरी, हल्दी पाउडर और नमक को एक गहरे बाउल में डालकर अच्छी तरह मिला ले और 30 मिनट के लिए रख दें।
  2. कैरी से सारा पानी छानकर बाउल में निकाल लें और एक तरफ रख दें। दोनो पानी और कैरी को अलग-अलग रख दें।
  3. कच्ची कैरी को रात भर फ्रिज में रखें।
  4. मेथी दानें, काबुली चना और कच्ची कैरी के पानी को एक गहरे बाउल में डालकर अच्छी तरह मिला लें और ढ़ककर रातभर रख दें।
  5. मेथी पाउडर, सौंफ, हींग, कलौंजी, कश्मीरी लाल मिर्च, लाल मिर्च पाउडर को कसी हुई कैरी और काबुली चना-मेथी दानें के मिश्रण के साथ एक गहरे बाउल मे मिला लें और एक तरफ रख दें।
  6. एक गहरी नॉन-स्टिक कढ़ाई में, मध्यम आँच पर सरसों के तेल को 3-4 मिनट तक यालाल होने तक गरम करें।
  7. आँच से हठाकर ठंडा करने रख दें।
  8. ठंडा करने के बाद, तेल को तैयार मिश्रण में डालें और अच्छी तरह मिला ले।
  9. अचार को साफ काँच के बर्तन में डालें और 6-7 दिनों तक रख दें। 7 दिनों के बाद, अचार खाने के लिए तैयार हो जाएगा।
पोषक मूल्य प्रति tbsp
ऊर्जा95 कैलरी
प्रोटीन0.5 ग्राम
कार्बोहाइड्रेट3 ग्राम
फाइबर1 ग्राम
वसा9.1 ग्राम
कोलेस्ट्रॉल0 मिलीग्राम
सोडियम0.8 मिलीग्राम
आम चने का अचार रेसिपी की कैलोरी के लिए यहाँ क्लिक करें


Reviews