This category has been viewed 15775 times
 Last Updated : Nov 04,2019


 त्योहार और दावत के व्यंजन > ओकेसनल पार्टी त्योहार के व्यंजन > दशहरा रेसिपी

14 recipes

Dussehra - Read In English
દશેરા - ગુજરાતી માં વાંચો (Dussehra recipes in Gujarati)

सौम्य भारतीय परंपरा, बादाम मका हल्वा किसी भी तरह के त्यौहारों का कभी ना अलग होने वाला भाग है। इसे आम दिनों में भी खा सकते हैं! देखा गया तो, ठंड के दिनों में, हमारी दादि उनके बच्चों को रोज़ सुबह इस हलवे को खाने की सलाह देती थी। यह एक ऐसी स्वादिष्ट परंरपरा है, जिसे कोई भी छोड़ना पसंद नही करेगा! हमेशा ....
बेसन से बने छोटे बुलबुलों को घी में तलकर खुशबूदार चाशनी में भिगोई यह मीठी बूंदी एक पारंपरिक भारतीय व्यंजन है, जिसे मसाले और बादाम के कतरन के साथ सजाकर एैसे ही खाया जा सकता है, या अन्य मिठाई के उपर डालकर सजाया जा सकता है। आप इसे आइस-क्रीम के उपर डालकर उसे सजाने के लिए भी प्रयोग कर सकते हैं।
गुड़ का तेज़ स्वाद होता है जो आपके मूँह में लंबे समय तक बना रहता है। जैगरी मालपुवा एक स्वादिष्ट लेकिन झटपट बनने वाला डेज़र्ट है इसके बेहतरीन स्वाद से भरा है और जिसमें सौंफ के स्वाद का मज़ा भी है। यह मूंष में पिघलने वाले गहेूं के आटे से बने मालपुवे को तवे से गरमा गरम उतारकर और इलायची पाउडर और पिस्ता ....
गरमा गरम मालपुवे को कोई मना नहीं कर सकता है, चाहे यह सादे खाये जाये या उपर ठंडी रबड़ी डालकर। इस स्वादिष्ट व्यंजन को घर पर ही बनाकर देखें जिसमें एक हल्का बदलाव है, जहाँ मैने इन मालपुवे को तलने की बजाय पॅन में घी से साथ पकाया है। ऐसा करने से यह बेहद नरम बनते हैं।
जब आपका मीठा खाने का मन करे, इस इलायची के स्वाद वाले लो फॅट पनीर खीर का मज़ा लें। पारंपरिक शक्कर को शुगर सब्स्टिट्यूट को बदलकर और अपौष्टिक गाढ़ा बनाने वाले पदार्थ का प्रयोग ना कर, हमनें अवाश्यक कार्बोहाईड्रेट और कॅलरी को भी कम किया है। इसलिए, आप इस शानदार खीर के गाढ़े रुप और स्वाद का मज़ा आराम से ले ....
इस व्यंजन विधी पर एक नज़र डाले और आप समझ जायेंगे कि उपवास मतलब भुखा रहना नही है। इस व्यंजन को एक भरपुर आहार बनाने के लियें इसे मूंगफली की कढ़ी के साथ परोसें।
महाराष्ट्र के इस आम व्यंजन को एक मनोरंजक मोड़ दिया गया है। मैनें इस व्यंजन को राजगीरे का आटा और कसे हुए आलू के मेल से बनाया है। एक हल्के-फुल्के और पौष्टिक व्यंजन के लिये इसे हरी चटनी और ताज़े दही के साथ परोसें।
यह एक पारंपरिक दक्षिण भरतीय चावल से बना व्यंजन है जिसे मंदिरों और पुजा/ त्यौहारों में भगवान को परोसा जाता है। इसे सुबह के नाश्ते में भी परोसा जाता है और दक्षिण भारत में यह रोज़ के खाने का भाग है।
ठंड के दिनों में आटे के मालपुवे से ज़्यादा और कुछ पसंद नहीं आ सकता है। यह जानकर नया नहीं लगेगे कि यह राजस्थानी घरों का पारंरपरिक पसंदिदा है, खासतौर पर ठंड के दिनों मे। घी में तले हुए, मीठे, तीखे गेहूं के घोल की खुशबु, खासतौर पर सौंफ और कालीमिर्च की खुशबु आपके मूँह में पानी लाने के लिए काफी है! पर्या ....
अपने आप को ताज़ी, तली हुई गरमा गरम केसर से सजी जलेबी खाने से कौन रोक सकता है? आप सभी जलेबी पसंद करने वालों के लिए, यहाँ एक झट-पट और आसान सा विकल्प दिया गया है, जिसे बिना लंबे समय तक खमीर आने का इंतज़ार किये बिना बनाया जा सकता है।
सदाबहार मशहुर बंगाली मिठाई, अब एक झटपट बनने वाले और मज़ेदार रुप में! जहाँ सन्देश बनाने में अकसर काफीसमय लगता है, कसे हुए पानीर से बने इस विकल्प को झटपट बनाया जा सकता है और साथ ही हमेशा इसे पसंदिदा, फलों के राजा को धन्यवाद, जिससे यह और भी स्वादिष्ट बनता है। आप यह सोच रहे होंगे कि गुलाब एैसेन्स् आम के ....
ताज़े पनीर से बने मुलायम और नाज़ूक मालपुवे, जो आपके मूँह में जाते ही घुल जाऐंगे। यह व्यंजन काफी कुछ अजमेर के पास पुश्कर के मलाई मालपुवे जैसा है। इन्हें रबड़ी के साथ या केवल कटे हुए बादाम और पिस्ता से सजाकर गुनगुने तापमान पर परोसें। आपको छेना मालपुवे राजस्थान के केवल कुछ ही भाग में मिलेंगे। बस इन्हे ....
यह टमाटर की ग्रवी में मकई और हरे मटर का चटपटे प्याज़ आधारित मसाले पेस्ट के साथ बना बेहतरीन व्यंजन है। स्पाईसी कोर्न विद ग्रीन पीस् मे थोड़ा गाढ़ापन होता हे क्योंकि इसके ग्रेवी मे दुध और घी का प्रयोग किया गया है।
ज़िन्क, कॅल्शियम और प्रोटीन से भरपुर, रोटी और दही के साथ, यह बेहद स्वादिष्ट स्पाईसी रेड चना सब्ज़ी एक संपूर्ण और स्वादिष्ट आहार बनाता है। इस व्यंजन में टमाटर, प्याज़ और अन्य मसालों के साथ मशहुर पाव भाजी मसाले का प्रयोग किया गया है, जो एक चटपटा स्वाद प्रदान करता है जिसका स्वाद आपको हमेशा याद रहेगा।

Top Recipes

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन