कांदा भजी रेसिपी । कांदा भजिया । पायज़ के पकोडे - Kanda Bhaji, Pyaz Ke Pakode, Kanda Bhajiya
द्वारा

Kanda Bhaji, Pyaz Ke Pakode, Kanda Bhajiya recipe In hindi

This recipe has been viewed 3668 times
5/5 stars  100% LIKED IT   
1 REVIEW ALL GOOD




कांदा भजी रेसिपी | कांदा भजिया | पायज़ के पकोडे | kanda bhaji recipe in hindi | with 19 amazing images.

प्याज़ के पकोडे को प्याज़ के साथ बनाया जाता है जिसे एक मसालेदार घोल के साथ मिलाया जाता है। कांदा भजी एक गहरी तली हुई भारतीय स्ट्रीट फूड है और कई बार इसे लादी पाव के अंदर डालकर बेचा जाता है।

अगर आप सुपर क्रिस्प का मतलब जानना चाहते हैं, तो इन स्वादिष्ट कांदा भजी को ट्राई करें, जो स्वाद में तीखा और कुरकुरा हो।

हॉट एंड फ्रेश प्याज़ के पकोडे एक आदर्श शाम के चाय का नाश्ता है। मुझे मानसून में शाम के नाश्ते के रूप में कांदा भजी खाना बहुत पसंद है और पुणे से दूर सिंघाड़ पर्वत पर ट्रेकिंग करते हुए बारिश के ठंडे दिन याद आते है।

ठंड के दिन गर्म मसाला चाय के साथ कांदा भजी एक आनंद का अनुभव है। प्याज़ के पकोड़े को हरी चटनी या मीठे चटनी के साथ खाएं।

प्याज़ के पकोडे के अलावा, पकोड़ा व्यंजनों के हमारे स्वादिष्ट संग्रह भी आजमाएं, वे बस अप्रतिरोध्य हैं।

नीचे दिया गया है कांदा भजी रेसिपी | कांदा भजिया | पायज़ के पकोडे | kanda bhaji in hindi | स्टेप बाय स्टेप फोटो के साथ।

Kanda Bhaji, Pyaz Ke Pakode, Kanda Bhajiya recipe - How to make Kanda Bhaji, Pyaz Ke Pakode, Kanda Bhajiya in hindi

तैयारी का समय:    पकाने का समय:    कुल समय :     ४ मात्रा के लिये
मुझे दिखाओ मात्रा

सामग्री

कांदा भजी के लिए सामग्री
२ कप पतले स्लाइस किए हुए प्याज
१ १/४ कप बेसन
१ १/२ टेबल-स्पून क्रश्ड खड़ा धनिया
२ टी-स्पून बारीक कटी हुई हरी मिर्च
१/२ टी-स्पून हल्दी पाउडर
१ टी-स्पून मिर्च पाउडर
१/४ कप बारीक कटा हुआ हरा धनिया
नमक , स्वादअनुसार
तेल , तलने के लिए

कांदा भजी के साथ परोसने के लिए
खजूर इमली की चटनी
हरी चटनी
विधि
कांदा भजी बनाने की विधि

    कांदा भजी बनाने की विधि
  1. कांदा भजी बनाने के लिए, एक गहरी कटोरी में 2 टेबल-स्पून पानी के साथ सभी सामग्रियों को मिलाएं और अपने हाथों का उपयोग करके अच्छी तरह मिला लें।
  2. एक गहरे नॉन-स्टिक कढाई में तेल गरम करें और थोडे-थोडे प्याज के मिश्रण को अपनी उँगलियों से तेल में डालकर भजिए चारों तरफ से सुनहरे भूरे रंग के हो जाएँ तब तक ल लें। एक टिशू पेपर पर निकाल लें और एक तरफ रख दें।
  3. कांदा भजिया को तुरंत परोसें।
विस्तृत फोटो के साथ कांदा भजी रेसिपी । कांदा भजिया । पायज़ के पकोडे

कांदा भजी बनाने के लिए

  1. कांदा भजी (पायज़ के पकोडे) बनाने के लिए सबसे पहले एक खलबट्‌टे में खड़ा धनिया डालें।
  2. बट्‌टे की सहायता से, खड़ा धनिया को अच्छी तरह से कूट लें। एक तरफ रख दें।
  3. खड़ा धनिया को कूटने के बाद इस तरह दिखता है।
  4. ५ मध्यम आकार के प्याज को छीलकर धो लें। तेज चाकू की मदद से उन्हें पतला काट लें।
  5. पतले कटे हुए प्याज को एक गहरे कटोरे में डालें।
  6. अपने हाथों का उपयोग करके उन्हें अलग-अलग करें।
  7. इसमें बेसन डालें। यह सभी अवयवों को एक साथ बांधने में मदद करता है।
  8. अब इसमें क्रश्ड खड़ा धनिया डालें। आप कांदा भजिया का स्वाद बढ़ाने के लिए अज्वैन भी डाल सकते हैं।
  9. इसके अलावा, हल्दी पाउडर और मिर्च पाउडर डालें।
  10. मसाले के लिए हरी मिर्च डालें, अगर आप अपने कांदा भजी मसालेदार पसंद करते हैं, तो आप इसमे और अधिक जोड़ सकते हैं।
  11. धनिया डालें। यदि आप को नापसंद करते हैं या वह उपलब्ध नहीं है तो धनिया को ना डालें। धनिया कांदा भजी को एक स्वादिष्ट स्वाद देता है।
  12. स्वादानुसार नमक डालें।
  13. अपने हाथों की उंगलियों का उपयोग करके अच्छी तरह मिला लें।
  14. पानी धीरे-धीरे डालें जब तक बेसन प्याज को अच्छी तरह से कोट न कर दे। हमने लगभग इस्तेमाल २ टेबल-स्पून पानी का उपयोग किया है। यदि मिश्रण २ से ३ थोक को तलने के बाद में पानी दिखता है, तो उसमें १ से २ टेबल-स्पून बेसन डालें और अच्छी तरह मिलाएँ।
  15. कढ़ाही में तेल गरम करें। तेल पर्याप्त रूप से गरम है या नहीं उसकी जाँच करने के लिए, गरम तेल में कांदा भजी के मिश्रण को डालें - यदि वह तुरंत ऊपर की ओर आता है, तो सभी कांदा भजी को तल ने के लिए तेल पर्याप्त रूप से गरम है।
  16. अपनी उँगलियों से थोडे-थोडे प्याज के मिश्रण को तेल में डालें। धीमी आंच पर उन्हें तलें नहीं, प्याज का पकोड़ा बहुत अधिक तेल सोख लेगा और नरम हो जाएगा। इसके अलावा, कांदा भजी (पायज़ के पकोडे) को कढ़ाही में जरूरत से ज्यादा न डालें, अन्यथा वे समान रूप से पकेगे नहीं।
  17. जब कांदा भजी (पायज़ के पकोडे) एक तरफ से हल्के भूरे रंग का हो जाए, तो उन्हें धीरे से पलट लें। कांदा भजी को तब तक तले की, जब तक वे चारों तरफ से सुनहरे रंग की न हो जाएं। 
  18. कांदा भजी (पायज़ के पकोडे) को सोखनेवाले कागज पर निकाल लें।
  19. कांदा भजी को | कांदा भजिया | पायज़ के पकोडे | kanda bhaji in hindi | को तुरंत एक प्याले चाय के साथ परोसें।


Reviews