This category has been viewed 7797 times
 Last Updated : Feb 07,2020


 विभिन्न व्यंजन > भारतीय व्यंजन > राजस्थानी व्यंजन > राजस्थानी दाल / कढी़

9 recipes

Rajasthani Kadhi, Dal - Read In English
રાજસ્થાની દાળ / કઢી - ગુજરાતી માં વાંચો (Rajasthani Kadhi, Dal recipes in Gujarati)

 

राजस्थानी कढ़ी दाल की रेसिपी, Rajasthani Dal Kadhi Recipes in Hindi

 

राजस्थानी कढ़ी दाल की रेसिपी, Rajasthani Dal Kadhi Recipes in Hindi: हमारे अन्य राजस्थानी व्यंजनों की रेसिपी ज़रूर आज़माये…

राजस्थानी अचार, लौंजी रेसिपी : Rajasthani Achaar, Launji Recipes in Hindi
राजस्थानी सूखे नाश्ते की रेसिपी : Rajasthani Dry Snacks Recipes in Hindi
राजस्थानी खिचडी़, पुलाव की रेसिपी : Rajasthani Khichdi, Pulao Recipes in Hindi
११ राजस्थानी मिठाई व्यंजनों, राजस्थानी मीठे रेसिपी : 11 Rajasthani Mithai Sweets Recipes in Hindi
१५ राजस्थानी नाश्ता रेसिपी : 15 Rajasthani Naashta Recipes in Hindi
११ राजस्थानी रोटी, पुरी, पराठा : 11 Rajasthani Roti, Paratha, Puri Recipes in Hindi
१७ राजस्थानी सब्जी रेसिपी : 17 Rajasthani Subzi Recipes in Hindi
राजस्थानी पारंपरिक व्यंजनों : Rajasthani Traditional Recipes in Hindi
हैप्पी पाक कला!


राजस्थानी पकौड़ा कढी की खास बात है इसमें मिलाए गए करारे और ताज़े बेसन के पकौड़े! यह कढी को करारा और चबाने योग्य रुप प्रदान करता है जो कढ़ी को और भी मज़ेदार बनाता है। अपको यह कढ़ी और भी स्वादिष्ट लगेगी क्योंकि इसमें आम मसालों के साथ-साथ कुछ चुनिंदा मसालें डाले गए हैं। राजस्थान के मौसम अनुसार इस तरह क ....
दाल बाटी चूरमा रेसिपी | राजस्थानी दाल बाटी चूरमा | असली दाल बाटी चूरमा | dal baati churma recipe in hindi language | with 50 amazing images. 3 में 1 दाल बाटी चूरमा
दाल बंजारा रेसिपी | राजस्थानी दाल बंजारा | पौष्टिक दाल बनजारा | dal banjara recipe in hindi language | with 23 amazing images. छिल्के वाली उड़द दाल का स्वाद, सादी बिना छिल्के वाली उड़द द ....
भारत के अन्य राज्य की तुलना में, राजस्थानी खाने में मूली का प्रयोग काफी मात्रा में किया जाता है, जहाँ इसका प्रयोग अकसर सलाद के रुप मे किया जाता है। इस सादी मूंग दाल को मूली तेज़ और तीखा स्वाद प्रदान करता है। और अन्य सभी पारंपरिक राजस्थानी व्यंजन की तरह, इसमें भी घी का तड़का लगाया गया है। कुछ घरों मे ....
यह एक पौष्टिक व्यंजन है, जो राजस्थान के विशेष जायके को प्रदर्शित करता है। यह चार दालों को मिलाकर पारंपरिक मसाले, अदरक और मिर्ची के तीखे स्वाद के साथ खट्टेपन के लिए एक बूंद निम्बू का रस डाल कर बनाई गई है। इस टेंगी ग्रीन मूंग दाल का आनंद ताज़ा गरमा गरम मसाला बाटी के साथ लिया जा सकता है या आप इसे रोटी ....
गट्टे की कढ़ी रेसिपी | राजस्थानी गट्टे की कढ़ी | बेसन गट्टे की कढ़ी | gatte ki kadhi recipe in hindi | गट्टे बेसन के बनते हैं जिन्हें सूखे मसालों से चटपटा बनाया जाता है और बाद में स्ट ....
पिठोर एक राजस्थानी व्यंजन है जो थोड़ा बहुत ढ़ोकले जैसा दिखता है, लेकिन स्वाद ओर रुप के मामलें में और इसे बनाने की विधी बहुत अलग होती है। जहाँ पिठोर में तड़का लगाकर इसे चाय के साथ नाश्ते के रुप मे परोसा जा सकता है, वहीं इन्हें तलकर ग्रेवी या जैसा यहाँ कि ....
तुवर दाल हरे पत्तेदार सब्ज़ीयों के साथ अच्छी तरह जजती है, केवल इस बात का ध्यान रखें कि दाल पुरी तरह घुल जाए लेकिन मसल ना जाए। यहाँ, पालक और तुवर दाल को साथ मिलाकर, संभल कर प्रैशर कुक किया गया है और पर्याप्त रुप पाने के लिए ब्लेन्ड किया गया है। तड़के में कुछ साबूत मसाले डाले गए हैं जो इस पालक तुवर दा ....
चूंकी राजस्थान के कुछ भाग में ताज़ी सब्ज़ीयाँ आसानी से नहीं मिलती है, पकी हुई दाल और सब्ज़ीयों को तली और संग्रह की हुई सब्ज़ी या दाल के मंगौड़ी से बनाना आम है। पर्याप्त मात्रा के मसालों के साथ मिलाकर और घी में पकाने से, यह एक बेहद स्वादिष्ट वयंजन बनाता है, जैसा यहाँ इस मंगौड़ी की दाल में किया गया है ....

Top Recipes

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन