This category has been viewed 2428 times
 Last Updated : Jun 08,2019


 भारतीय स्वस्थ > विटामिन E युक्त आहार



Vitamin E Rich - Read In English
વિટામિન ઇ યુક્ત આહાર - ગુજરાતી માં વાંચો (Vitamin E Rich recipes in Gujarati)

विटामिन ई युक्त व्यंजन रेसिपी, Vitamin E Rich Recipes in Hindi

 

हमारे विटामिन ई युक्त व्यंजन रेसिपी के अलावा हमारे अन्य विटामिन युक्त व्यंजन रेसिपी, Vitamin Rich Recipes in Hindi को जरूर आजमाइए।

विटामिन बी 5 रिच पैंटोथेनिक एसिड रेसिपी रेसिपी
विटामिन बी 7 बायोटिन रिच रेसिपी रेसिपी
विटामिन ए चमकती त्वचा के लिए आहार रेसिपी
विटामिन बी1 थायमीन की रेसीपी रेसिपी
विटामिन बी 12 कोबालामिन युक्त रेसिपी
विटामिन बी 3 और नियासीन युक्त रेसिपी
विटामिन बी 6 आहार युक्त रेसिपी
विटामिन बी 9 रिच फोलेट की रेसिपी
विटामिन C युक्त आहार स्मूदीस् मिल्कशेक रेसिपी
विटामिन E युक्त आहार नेत्र स्वास्थ्य और नज़र के लिए रेसिपी
विटामिन E युक्त आहार चमकती त्वचा के लिए रेसिपी
बाल बढ़ाने के लिए विटामिन E युक्त रेसिपी रेसिपी
विटामिन K युक्त व्यंजन रेसिपी


Top Recipes

गाजर और पुदिना के विटामीन ए और प्रोटीन से भरपुर राजमा के साथ भरा हुआ एक हलका फुलका सलाद, यह गाजर, ककड़ी, राजमा सलाद इन मिन्ट ड्रेसिंग, एक से ज़्यादा तरीके से आपकी ज़ूबान और आँखों के लिए के लिए एक बेहतरीन दावत है। ना केवल यह सलाद दिखने में बेहतरीन है, साथ ही यह आपकी आँख और आँखों के माँसपेशीयों के लिए पौषण तत्व प्रदान करता है। ड्रेसिंग में शहद डालना ना भूलें क्योंकि यह पुदिना के साथ बेहतरीन तरह से जजता है।
टमाटर पसंद करने वालों के लिए यह चटपटा करारा सलाद दावत के समान है। ना केवल यह फोलिक एसिड (विटामीन बी9) का बेहतरीन स्रोत है जो अनिमीया से बचाता है, लेकिन साथ ही यह विटामीन बी1 (थायामीन), विटामीन बी3 (नायासिन) और रेशांक के भरपुर है, जो अखरोट और तिल से मिलते हैं। साथ ही अखरोट विटामीन ई और ओमेगा 3-फॅट एसिड से भरपुर होते हैं, जो वसा के अच्छे स्रोत होते हैं।
मेवेदार स्वाद से भरा एक बेहद क्रिमी डिप, यह वॉलनट डिप क्रीम क्रेकर, टमाटर के स्वाद वाले या हर्बड चिप्स् के साथ और इस तरह के खाने के साथ अच्छी तरह जजता है। पनीर और ताज़े दही का प्रयोग इस डिप को, दोनो गाढ़ा रुप और खट्टा स्वाद प्रदान करते हैं, जिससे इसके मेवेदार स्वाद को संतुलित रखा जाता है।
गेहूँ के आटे और उड़द के आटे के साथ पालक प्यूरी से बनाया यह अनूठा डोसा आपके शरीर में लोह की मात्रा बढ़ाने का अच्छा नुस्खा है। जब आप गर्भवती होते हैं, तो हर कोई आपको अधिक साग, विशेष रूप से पालक का उपयोग करने के लिए कहता रहता है, जो लोह का भंडार है। पालक, विटामिन ए और फोलिक एसिडफोलिक एसिड में भी समृद्ध है, जो दोनों एंटीऑक्सिडेंट हैं जो शरीर में हानिकारक मुक्त कणों से लड़ने में मदद करते हैं, और आपके बच्चे की त्वचा के स्वस्थ विकास के लिए भी आवश्यक हैं। लेकिन हर दिन पालक को एक ही तरह पकाने से आप ज़रूर ऊब जाएँगे। इसे पालक डोसा जैसे अलग अलग तरीकों से शामिल करने से विश्‍वास मिलेगा कि आप बिना ऊबे (बोर हुए) हरी सब्जियों का सेवन जारी रखेंगे। यह व्यंजन बनाने का तरीका शीघ्र और आसान है क्योंकि ये केवल तैयार आटों का उपयोग करता है और इसमें फर्मेंटेशन करने की भी कोई ज़रूरत नहीं है. इसलिए, वे गर्भवती महिलाएँ जो अम्लता (ऐसिडिटी) से पीड़ित हों, वे भी इस नाश्ते का आनंद ले सकते हैं। गर्भावस्था के दौरान फूलगोभी के पत्ते और बेसन मुठिया या ओट्स मूंग दाल टिक्की जैसे नाश्ते भी बना सकते हैं।
हमने यह बार-बार सुना है कि अलसी ओमेगा-3 फॅटी एसिडस के बेहतरीन स्रोत होते हैं और खासतौर पर शाकाहरी के लिए यह ज़रुरी होते हैं। लेकिन, हममें से बहुत इस सामग्री को रोज़ के खाने में प्रयोग करने के बारे में सोच में पड़ जाते हैं। जहाँ हम इसे मुखवास, रायता आदि जैसे व्यंजन में प्रयोग करते हैं, यहाँ हमने इस रेशांक, कॅल्शियम और ओमेगा-3 फॅटी एसिड भरपुर सामग्री को अनोखे तरह से करारे हर्बड क्रॅकर बनाने के लिए प्रयोग किया है। इन्हें पुदिना के स्वाद वाले बीटरुट डिप के साथ परोसकर स्वाद और पौषणतत्व को बढ़ाऐं।
गर पर कुछ भी बने हुए ज़्यादा पेट भरा रहता है- और बाज़ार से लाए खाने की तुलना में यह ज़्यादा पौष्टिक होते हैं। इसलिए, क्यों ना सुबह के नाश्ते के सिरियल को घर पर ही बनाऐं? बच्चों को सिरियल बहुत पसंद आते हैं क्योंकि यह करारे और मीठे होते हैं और इनमें भरपुर मात्रा में सूखे मेवे और फल भी होते हैं। गेहूं के अंकुर और ओटस् जैसे अनाज के साथ, सूर्यमूखी के बीज, तिल और भरपुर मात्रा में सूखे मेवे के साथ यह पावर पैक्ड सिरियल, दिन भर के कार्य के लिए, आपको भरपुर मात्रा में ऊर्जा और आहार तत्व प्रदान करता है, साथ ही यह अपने आस-पास के प्रदुषण और बिमारी से बचने के लिए ऑक्सीकरण रोधी प्रदान करता है।
अपने आहार में पौष्टिक सब्ज़ीयों को शामिला करने का एक अनोखा तरीका, यह ब्रॉकली, स्पिनॅच एण्ड ज़ूकिनी स्टर-फ्राय, रंग और हर्ब के स्वाद के साथ, आपके मूँह के लिए एक मज़ेदार व्यंजन है। ब्रॉकली, पालक और ज़ूकिनी जैसी सब्ज़ीयों के मेल के साथ पत्तागोभी और शिमला मिर्च जैसी सब्ज़ीयाँ इस व्यंजन के विटामीन ए और फोलिक एसिड की मात्रा को काफी मात्रा में बढ़ाते हैं, जो साथ ही विभिन्न रुप प्रदान करते हैं।
घर का बना बादाम का मक्ख़न एक अनोखा और किसी को भी ललचा दे ऐसा बनता है। दरसल यह वर्णित करने से ज्यादा अनुभव करने जैसा है। यहाँ बादाम को पीसने से पहले भूना गया है, इसलिए यह अधिक स्वादिष्ट लगते हैं। थोड़ा सा नारियल का तेल इस मक्ख़न की पौष्टिकता बढ़ाने के साथ-साथ अधिक स्वादिष्ट भी बनता है। यह बादाम का मक्ख़न प्रोटिन का एक बहुत अच्छा स्त्रोत है, जबकि नारियल आपको मध्यम श्रृंखला ट्रायग्लिसराइड के स्वास्थ फैटी एसिड प्रदान करते हैं। बाज़ार में मिलने वाले बादाम के मक्ख़न से घर पर बनाया गया मक्ख़न बेहतर होता है, क्योंकि बाज़ार में मिलने वाले मक्ख़न में अधिक मात्रा में शक्कर और हाइड्रोजनेटेड वनस्पति होते हैं। इसके अलावा घर पर यही मक्ख़न आधे दाम में भी बनाया जा सकता है। और हाँ, यह मक्ख़न बनाने के लिए आपको महंगे और बड़े बादाम खरीदने की जरूरत नहीं हैं, क्योंकि इन्हें पीसना ही है। केवल एक चीज़ यह है कि आपको थोडा धौर्य होना चाहिए, जिससे की आप बादाम को धिरे-धिरे पीसें और हर आधे मिनट पर स्विच बंद करें। यह बादाम का मक्ख़न एक ग्लास की बोतल में भरकर फ्रिज़ में संग्रह करें तो यह 25 दिनों तक ताज़ा रहता है। यदि आप कमरे के तापमान पर इसका संग्रह करेंगे तो यह 15 दिनों तक ताज़ा रहता है। पर एक बात का ध्यान रहे कि यदि आपने इसे बनाकर इसका संग्रह फ्रिज़ में किया है, तो फिर इसे फ्रिज़ में ही रखें। और फिर जब भूख लगे तब 1 चम्मच भर इसका मज़ा ले सकते हैं। यह वज़न घटाने वालों के लिए एक उपयुक्त नाश्ता है क्योंकि इसमें पाए जाने वाले सही वसा आपको लंबे समय तक तृप्त होने का एहसास देते हैं। घर का बना हुआ मूंगफली का मक़्खन भी आजमाईए।
इस कलर्ड कॅप्सिकम एण्ड पनीर सब्ज़ी में भरपुर स्वाद और संतुलित आहार तत्व हैं। प्रोटीन, कार्बोहाईड्रेट और विटामीन से भरपुर, इस आसानी से बनने वाली और बेहद स्वादिष्ट सब्ज़ी में रंग-बिरंगी शिमला मिर्च से भरपुर मात्रा में विटामीन ए, टमाटर से फोलिक एसिड और पनीर से कॅल्शियम है।
तुवर दाल हरे पत्तेदार सब्ज़ीयों के साथ अच्छी तरह जजती है, केवल इस बात का ध्यान रखें कि दाल पुरी तरह घुल जाए लेकिन मसल ना जाए। यहाँ, पालक और तुवर दाल को साथ मिलाकर, संभल कर प्रैशर कुक किया गया है और पर्याप्त रुप पाने के लिए ब्लेन्ड किया गया है। तड़के में कुछ साबूत मसाले डाले गए हैं जो इस पालक तुवर दाल को ताज़ी खुशबु और बेहतरीन स्वाद प्रदान करते हैं।

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन