प्याज़ की कचौरी बनाने की विधि | अनियन कचौरी | जयपुर प्याज़ की कचौरी | Pyaaz ki Kachori
द्वारा

प्याज़ की कचौरी बनाने की विधि | अनियन कचौरी | जयपुर प्याज़ की कचौरी | pyaz ki kachori in Hindi | with 14 amazing images.


हालांकि इस प्याज़ की कचौड़ी का उत्तपादन जोधपुर मे हुथा है, लेकिन आज यह संपूर्ण राजस्थान में मशहुर है। देखा गया तो प्याज़ के मिश्रण से भरी इन करारी, रवादार तली हुई कचौड़ीयों को बहुत कम घरों में बनाया जाता है।

राजस्थान में बहुत से नमकीन की दुकानों में गरमा गरम प्याज़ की कचौड़ी या आलू प्याज़ की कचौड़ीयों को बेचा जाता है। अन्य कचौड़ी की तरह, इन्हें भी तीखी और मीठी इमली की चटनी के साथ परोसा जाता है।

जब आप जयपुर के शानदार शहर के लोकप्रिय भोजन के बारे में सोचते हैं तो प्याज़ की कचौरी तुरंत आपके दिमाग में आ जाती है।

नोट्स और सही प्याज़ की कचौरी बनाने की विधि। 1. मैदा में घी डालने से कचौड़ी परतदार और खस्ता बनेगी। 2. पर्याप्त पानी का उपयोग करके एक अर्ध-नरम आटा गूंधें। इसे लगभग 4 से 5 मिनट तक अच्छे से गूंध लें। 3. प्याज़ की कचौरी के आटे को एक गीले मलमल के कपड़े से ढक दें ताकि आटे की सतह सूखी न हो। 15 मिनट के लिए अलग रख दें। आराम करने से ग्लूटन स्ट्रैंड्स को आराम मिलता है और इससे आटा का रोल और आकार आसान हो जाता है। 4. भरी हुई कचौड़ी को दुबारा ७५ मिमी। (३") व्यास के गोल आकार में बेल लें, लेकिन ध्यान रखें कि किनारों से भरवां मिश्रण ना निकले।

आप इन कचौड़ीयों को पहले से बनाकर रख सकते हैं और परोसने से पहले अवन मे गरम कर परोस सकते हैं। बरसात के दिनों में यह दोपहर के नाश्ते के लिए पर्याप्त हैं।

जानिए प्याज़ की कचौरी बनाने की विधि | अनियन कचौरी | जयपुर प्याज़ की कचौरी | नीचे दिया गया स्टेप बाय स्टेप फोटो और वीडियो के साथ।

प्याज़ की कचौरी बनाने की विधि | अनियन कचौरी | जयपुर प्याज़ की कचौरी in Hindi


प्याज़ की कचौरी बनाने की विधि | अनियन कचौरी | जयपुर प्याज़ की कचौरी - Pyaaz ki Kachori recipe in Hindi

तैयारी का समय:    पकाने का समय:    कुल समय :     १२ कचौड़ी के लिये
मुझे दिखाओ कचौड़ी

सामग्री

आटे के लिए
२ कप मैदा
१/४ कप पिघला हुआ घी
नमक स्वादअनुसार

प्याज़ के भरवां मिश्रण के लिए
२ कप बारीक कटा हुआ प्याज़
२ टेबल-स्पून तेल
१ टी-स्पून कलौंजी
२ टी-स्पून सौंफ
तेज़पत्ता
१ १/२ टी-स्पून बारीक कटी हुई हरी मिर्च
२ टेबल-स्पून बेसन
२ टी-स्पून धनिया पाउडर
२ टी-स्पून लाल मिर्च पाउडर
१ टी-स्पून गरम मसाला
नमक स्वादअनुसार
३ टेबल-स्पून कटा हुआ हरा धनिया

अन्य सामग्री
तेल , तलने के लिए
विधि
आटे के लिए

    आटे के लिए
  1. सभी सामग्री को एक गहरे बाउल में मिला लें और ज़रुरत मात्रा में गुनगुने पानी का प्रयोग कर हल्का नरम आटा गूँथ लें। 4-5 मिनट तक अच्छी तरह गूँथ लें।
  2. आटे को गीले सूती कपड़े से ढ़ककर 15 मिनट के लिए रख दें।

प्याज़ के भरवां मिश्रण के लिए

    प्याज़ के भरवां मिश्रण के लिए
  1. एक चौड़े नॉन-स्टिक पॅन में तेल गरम करें, कलौंजी, सौंफ, तेज़पत्ता, हरी मिर्च और प्याज़ डालकर मध्यम आँच पर 5 मिनट के लिए भुन लें।
  2. बेसन, धनिया पाउडर, लाल मिर्च पाउडर, गरम मसाला और नमक डालकर अच्छी तरह मिला लें और बीच-बीच में हिलाते हुए, मध्यम आँच पर 2 मिनट तक पका लें।
  3. मिश्रण को आँच से हठा लें, धनिया डालकर अच्छी तरह मिला लें।
  4. तेज़पत्ता निकालकर फेंक दें।
  5. 12 भागों में बाँटकर एक तरफ रख दें।

आगे बढ़ने कि विधी

    आगे बढ़ने कि विधी
  1. आटे को 12 भाग में बाँट लें।
  2. आटे के प्रत्येक भाग को 63 मिमी. (21/2") व्यास के गोल आकार में बेल लें।
  3. प्याज़ के भरवां मिश्रण के 1 भाग को बीच में रखें।
  4. सभी किनारों को बीच मे साथ लाकर अच्छी तरह बंद कर लें और बचा हुआ आटा निकाल लें।
  5. भरी हुई कचौड़ी को दुबारा 75 मिमी. (3") व्यास के गोल आकार में बेल लें, लेकिन ध्यान रखें कि किनारों से भरवां मिश्रण ना निकले।
  6. कचौड़ी के बीच के भाग को अपने अंगूठे से हल्का दबा लें।
  7. विधी क्रमांक 1 से 6 को दोहराकर 11 और कचौड़ी बना लें।
  8. एक गहरी नॉन-स्टिक कढ़ाई में तेल गरम करें और एक बार में 6 कचौड़ी डालकर मध्यम आँच पर 4 मिनट के लिए तलें। आँच को धिमा कर और 5-6 मिनट के लिए तलें।
  9. तेल सोखने वाले कागज़ पर निकाल लें और रख दें।
  10. विधी क्रमांक 8 से 9 को दोहराकर, एक और बैच में 6 और कचौड़ी तल लें।
  11. तुरंत परोसें।
पोषक मूल्य प्रति kachori
ऊर्जा186 कैलरी
प्रोटीन2.8 ग्राम
कार्बोहाइड्रेट17.5 ग्राम
फाइबर0.6 ग्राम
वसा11.7 ग्राम
कोलेस्ट्रॉल0 मिलीग्राम
सोडियम4.9 मिलीग्राम
विस्तृत फोटो के साथ प्याज़ की कचौरी बनाने की विधि | अनियन कचौरी | जयपुर प्याज़ की कचौरी की रेसिपी

कचौरी के लिए आटा बनाने के लिए

  1. एक गहरी कटोरी में मैदा डालें।
  2. स्वादानुसार नमक डालें।
  3. अब, घी डालें। घी डालने से कचौड़ी फूली हुई और खस्ता बनेगी। हालांकि, यदि आप घी की आवश्यक मात्रा से अधिक मात्रा में जोड़ते हैं, तो कचौड़ी को काटने के लिए बहुत मुश्किल हो जाएगी।
  4. पर्याप्त पानी का उपयोग करके एक अर्ध-नरम आटा गूंधें। इसे लगभग ४ से ५ मिनट तक अच्छे से गूंध लें।
  5. प्याज़ की कचौरी के आटे को गीले मलमल के कपड़े से ढंक कर १५ मिनट के लिए अलग रख दें, ताकि आटे की सतह सूखी न हो। रेस्टिंग पर रखने से ग्लूटन स्ट्रैंड्स को आराम मिलता है और इससे आटे को रोल करना और आकार देना आसान हो जाता हैं।

प्याज की कचौड़ी के लिए भरवां मिश्रण बनाने के लिए

  1. एक चौड़े नॉन-स्टिक पैन में तेल गरम करें।
  2. सबसे पहले, उग्र और अर्थी स्वाद पाने के लिए कलौंजी डालें।
  3. सौंफ डालें। वे एक मीठा और सौम्य सौंफ जैसा तेल का स्वाद प्रदान करता हैं।
  4. इसी तरह अपने प्याज़ की कचौरी में प्याज के भरवां मिश्रण के स्वाद को बढ़ाने के लिए तेज़पत्ता डालें।
  5. तीखापन देने के लिए हरी मिर्च डालें।
  6. प्याज़ डालें।
  7. मध्यम आंच पर ५ मिनट के लिए भून लें।
  8. अब यहा बेसन को जोड़ने का समय है। यह एक सुंदर स्वाद प्रदान करता है और सभी सामग्रियों को एक साथ भी रखता है।
  9. धनिया पाउडर डालें। आप चाहें तो थोड़ा सा जीरा पाउडर भी डाल सकते हैं।
  10. प्याज के भरवां मिश्रण का मसाले का स्तर बढ़ाने के लिए मिर्च पाउडर डालें।
  11. साथ ही, गरम मसाला डालें जो भारतीय भोजन की मुख्य सामग्री हैं।
  12. अब स्वादानुसार नमक डालें।
  13. अच्छी तरह से मिलाएं और मध्यम आंच पर बीच-बीच में हिलाते हुए २ मिनट तक पकाएं।
  14. मिश्रण को आंच से उतारे और धनिया डालें। अच्छी तरह मिलाएं। धनिया प्याज के भरवां मिश्रण को ताजगी देता है।
  15. प्याज के भरवां मिश्रण को १२ बराबर भागों में बांट लें और एक तरफ रख दें।

प्याज की कचौड़ी बनाने के लिए

  1. आटे को १२ बराबर भागों में विभाजित करें। रोलिंग को और भी आसान बनाने के लिए उन्हें गेंदों का आकार दें।
  2. आटे के प्रत्येक भाग को ७५ मिमी। (३") व्यास के गोल आकार में बेल लें।
  3. प्याज़ के भरवां मिश्रण के १ भाग को बेले हुए गोल के बीच में रखें।
  4. सभी किनारों को बीच मे साथ लाकर अच्छी तरह बंद कर लें, ताकि भरवां मिश्रण अच्छे से बंद हो जाए और बचे हुए आटे को निकाल लें।
  5. भरी हुई कचौड़ी को दुबारा ६३ मिमी। (२ १/२") व्यास के गोल आकार में बेल लें, लेकिन  सुनिश्चित करें कि किनारों से भरवां मिश्रण ना निकले।
  6. शेष आटे के साथ २ से ५ चरणों को दोहरा कर ११ और कचौड़ी बना लें। उन्हें एक तेल से चुपडी हुई थाली पर व्यवस्थित रखें ताकि वे एक दुसरे से चिपके नहीं।
  7. एक गहरे नॉन-स्टिक पैन में तेल गरम करें।
  8. आंच को कम करें और ४ प्याज की कचौड़ी को एक बार में १० मिनट तक तलें।
  9. उन्हें बीच-बीच में पलते रहें ताकि सभी पक्षों से वह सुनहरे भूरे रंग की हो जाए। तेल सोखने वाले कागज़ पर निकाल लें और एक तरफ रख दें।
  10. २ और बैचों में ८ प्याज़ की कचौड़ी को तल ने के लिए चरण ८ और ९ को दोहराएं।
  11. प्याज की कचौड़ी को | राजस्थानी कचोरी | घर पर ऐसे बनाएं प्याज की कचौड़ी | pyaaz ki kachori in hindi | हरी चटनी के साथ तुरंत परोसें।

प्याज़ की कचौरी के लिए टिप्स

  1. मैदा में घी डालने से कचौड़ी परतदार और खस्ता बनेगी।
  2. पर्याप्त पानी का उपयोग करके एक अर्ध-नरम आटा गूंधें। इसे लगभग 4 से 5 मिनट तक अच्छे से गूंध लें।
  3. प्याज़ की कचौरी के आटे को एक गीले मलमल के कपड़े से ढक दें ताकि आटे की सतह सूखी न हो। 15 मिनट के लिए अलग रख दें। आराम करने से ग्लूटन स्ट्रैंड्स को आराम मिलता है और इससे आटा का रोल और आकार आसान हो जाता है।
  4. भरी हुई कचौड़ी को दुबारा ७५ मिमी। (३") व्यास के गोल आकार में बेल लें, लेकिन ध्यान रखें कि किनारों से भरवां मिश्रण ना निकले।


Reviews

प्याज़ की कचौरी बनाने की विधि | अनियन कचौरी | जयपुर प्याज़ की कचौरी
 on 28 Apr 21 12:36 PM
5

very nice recipe thank u
Tarla Dalal
28 Apr 21 02:37 PM
   Thanks for the feedback !!! Keep reviewing recipes and articles you loved.