This category has been viewed 17855 times
 Last Updated : Jul 12,2019


 त्योहार और दावत के व्यंजन > ओकेसनल पार्टी त्योहार के व्यंजन >

22 recipes

Holi - Read In English
હોળી - ગુજરાતી માં વાંચો (Holi recipes in Gujarati)


3 में 1 एक पारंपरिक राजस्थानी व्यंजन। राजस्थानी खाने में मीठा और नमकीन साथ परोसने में खासियत रखते हैं और सबका मन जितने में भी। हल्का मीठा चूरमा, तीखी दाल और तली हुई बाटी का मेल एक ऐसा ही पारंपरिक मेल है। गरमा गरम दाल में डूबी ताज़ी बाटी चूरमा के साथ परोसने के लिए पर्याप्त है। अगर आप ठंड के दिनों में ....
एक और दक्षिण पाक शैली का व्यंजन जो उपवास के दिनों में खाया जा सकता है। इसका स्वाद हरी चटनी या मूँगफली दही चटनी के साथ खुब जजता है।
यह मशहुर मीठे चावल का एक आसान सा विकल्प है। मीठे चावल के इस व्यंजन में आपको किसी भी प्रकार के शक्कर की चाशनी बनाने की आवश्यक्ता नहीं है, क्योंकि इसमें चावल और शक्कर को पहले से ही मिलाया गया है। केसर, दालचीनी, लौंग और तेज़पत्ता को मिलाने से एक मिठी, तीखी खुशबू सारे घर को में फैल कर सबाकी भूख और भी बढ ....
यह स्वादिष्ट घर पर बनी ठंडाई बेहद स्वादिष्ट है, जो बाज़ार में मिलने वाले तैयार मिश्रण से काफी बेहतर है। बादाम और मसालों के स्वाद से भरा दूध, यह ठंडाई खास दिनों और होली और दिवाली जैसे त्यौहारों मे परोसने के लिए बेहतरीन पेय है। सौंफ, इलायची, काली मिर्च और केसर की खुशबु पुरी तरह से उबले हुए दूध के साय़ ....
गुलाब, चाहे खुशबु के रुप में हो या स्वाद के लिए, ठंडक प्रदान करने का एहसास दिलाते हैं! प्राकृतिक रुप से, यह मूंह में पिघलने वाली रोस बर्फी भी एक ठंडी मिठाई है, जिसे परोसने से पहले फ्रिज में रखना ज़रुरी होता है। इस मिठाई में सबका दिल जितने की शक्ति है, क्योंकि इसमें पनीर और मावा के मलाईदार रुप को मीठ ....
वाल नी दाल एक बेहद और अनोखा व्यंजन है, जिसे वाल से बनाया गया है, जिसे गुजराती घरों में अकसर बनाया जाता है। इस व्यंजन में प्रयोग होने वाले मसालों के चुनाव को किशमिश एक मज़ेदार अनोखापन प्रदान करती है। चावल और पसंद की मिठाई के साथ इसे जब परोसा जाता है, वाल नी दाल त्यौहारों के लिए पर्याप्त बनता है!
यह एक पौष्टिक व्यंजन है, जो राजस्थान के विशेष जायके को प्रदर्शित करता है। यह चार दालों को मिलाकर पारंपरिक मसाले, अदरक और मिर्ची के तीखे स्वाद के साथ खट्टेपन के लिए एक बूंद निम्बू का रस डाल कर बनाई गई है। इस टेंगी ग्रीन मूंग दाल का आनंद ताज़ा गरमा गरम मसाला बाटी के साथ लिया जा सकता है या आप इसे रोटी य ....
क्योंकि बेसन खाने को गाढ़ा बनाने के लिए माना जाता है, बेसन शीरा बनाने में बेहद आसान और झटपट बनता है। आप इसे आसानी से त्यौहार, पार्टी या अपने खास मेहमानों के लिए बना सकते हैं। बस इस बात का ध्यान रखें कि आपने बेसन को अच्छी तरह भुना है जिससे बेसन की कच्ची खुशबू निकला जाए। साथ इस बात का ध्यान रखें कि आप ....
परोसने में आसान और स्वाद से भरपुर, यहाँ हम पेश करते हैं मधहुर राजस्थानी चुरमा, लड्डू के रुप में! पारंपरिक चुरमा, जिसे गुड़ से मीठा बनाया जाता है और नारियल और तिल के स्वाद से सजाया जाता है, इन्हें लड्डू के रुप में बनाकर संग्रह करना और परोसना आसान होता है। बेहतरीक रुप और स्वाद के लिए, दरदरे पीसे हुए ग ....
बीन और बेरी का एक मज़ेदार मेल जो राजस्थान का खास है। केर सांगरी एक पारंपरिक तीखी सब्ज़ी है जिसे केर और सांगरी से बनाया जाता है। लाल मिर्च, अजवायन और कुछ मसालों जैसे आम सामग्री के साथ आसानी से पकाई हुई. केर संगरी एक बेहद स्वादिष्ट सब्ज़ी है, जिसका स्वाद आपके मूँष में लंबे समय तक रहेगा। इस व्यंजन में ....
सादी हो या तीखी, दाल पौष्टिक होती है। लेकिन यह एक बेहतरीन दाल है जिसे आप मना नही कर पायेंगे! चार प्रकार के दाल से बना, जिन्हे प्याज़ और टमाटर के साथ पकाया गया है और चुनिन्दा मसालों के स्वाद से भरी यह मसाला दाल एक बेहतरीन व्यंजन है जिसे गरमा गरम चावल और रोटी के साथ परोसा जाता है।
मिनटों मे तैयार होने वाला बेहद स्वादिष्ट डेज़र्ट, जिसे रोज़ प्रयोग होने वाली सामग्री से माईक्रोवेव में बनाया गया है! इस शानदार सूजी के हलवे मे आपको केले का स्वाद और उसका मुलायम रुप मिलेगा। दूध, केला आदि मिलाने से पहले सूजी को घी में भुनना ज़रुरी है, जिससे हलवे का रुप शानदार बनता है। इस सुनजी के ह ....
सुहाली को पारंपरिक रुप से शादियों और होली , दीवाली आदि जैसे खास त्यौहार और मौको पर बनाया जाता था। लेकिन आजकल, यह नमकिन कि दुकानों में सालभर मिलते हैं। इन करारे नमकीन क ....
यह भारतीय रोटी रेगीस्तान के फैले हुए विस्तार के राज़ को खोलती है। खोबा का मतलब होता है निशान या छेद और इन रोटीयों को ऐसे ही बनाया जाता है। बेहतर होता है कि इन्हें तंदूर में पकाया जाए, लेकिन आम गैस पर आम तवे पर, धिमी आँच पर भी आप इन्हें बेहतरीन तरह से बना सकते हैं। इन रोटी में घी लगाकर गरमा गरम परोसे ....
खीर का एक मज़ेदार विकल्प, जहाँ दूध को गाढ़ा और स्वादिष्ट बनाने के लिए मीठी बूंदी कका प्रयोग किया गया है। यह ध्यान रखना ज़रुरी है कि बूंदी डालने से पहले दूध को पुरी तरह ठंडा किया जाए, जिससे बूंदी का आकार बना रहे। अगर आप बूँदी गरम या गुनगुने दूध मे डालेंगे, तो बूंदी ज़रुर फैल जाएगी और आपको बेसन के स्व ....

Top Recipes

Goto Page: 1 2 

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन