This category has been viewed 3200 times
 Last Updated : Mar 02,2020


 भारतीय स्वस्थ > पौष्टिक पेय



પૌષ્ટિક પીણાં - ગુજરાતી માં વાંચો (Healthy Indian Drinks and Juices recipes in Gujarati)

Top Recipes

अनानास और धनिया यह अनोखा मेल है, यह जुस विटामिन c से युक्त है और साथ ही अनानास भी लोहतत्व से भरपूर है। धनिया और अदरक इसमे अलग स्वाद लाते है, यह ज्यूस तनाव को खत्म करने में मदत करता है। धनिया का रंग काला पड़ने से पहले इसे तुरंत परोसे।
सुखद और मज़ेदार फलों के संयोजन से बनता यह स्मुदी बहुत ही ताज़गीभरा है। नाशपती और पपीता दोनों ही आसानी से बाज़ार में उपलब्ध हैं, इसलिए यह स्मूदी आप कभी भी बना सकता हैं। दही इस स्मूदी को हल्की से खट्टास प्रदान करता है, जबकि पपीता इसे मज़ेदार रंग और परिमाण देता है। दूसरी ओर नाशपती इसमें आवश्यक मीठास देता है। इसके ताज़े स्वाद का मज़ा लेने के लिए बनाकर तुरंत ही परोसें। इसे आप सुबह के नाश्ते में शामिल कर सकते हैं। पपाया मैन्गो स्मूदी और पपीता खरबूज का स्मूदी जैसे अन्य स्मूदी भी जरुर आज़माइए।
मसाला छाछ रेसिपी | मसालेदार छाछ रेसिपी | पौष्टिक मसाला छाछ | मसाला छास | masala chaas recipe in hindi | with 20 amazing images. मसाला चास चास जिसे मसाला छाछ भी कहा जाता है, गर्म भारतीय गर्मियों के दौरान गर्मी को मात देने का एक सही तरीका है।यह मूल चास रेसिपी के लिए भिन्नता है और बनाने में आसान और त्वरित है। मसाला छाछ बनाने के लिए बनाने के लिए पुदीने के पत्ते, धनिया, हरी मिर्च, जीरा पाउडर, काला नमक और १/२ कप दही एक मिक्सर में मिलाएं और मुलायम होने तक पीस लें।फिर तैयार किया हुआ पुदीने-धनिए का मिश्रण, १ १/२ कप दही, नमक और २ १/२ कप ठंडा पानी एक गहरे कटोरे में डालें और अच्छी तरह मिलालें। तैयार मसाला छाछको ४ अलग-अलग ग्लास में डालें और ठंडा परोसें। देखें कि हमें क्यों लगता है कि यह एक पौष्टिक मसाला छाछ है? मसालेदार छाछ सभी स्वस्थ अवयवों से बनाई गई है। दही वजन कम करने में मदद करते हैं, आपके हार्ट के लिए अच्छा है और प्रतिरक्षा का निर्माण करते हैं। दही और कम फॅट वाले दही के बीच एकमात्र अंतर वसा का स्तर होता है। पुदीना एक विरोधी भड़काऊ होने के कारण पेट में सूजन को कम करता है और एक सफाई प्रभाव दिखाता है। नीचे दिया गया है मसाला छाछ रेसिपी | मसालेदार छाछ रेसिपी | पौष्टिक मसाला छाछ | मसाला छास | masala chaas recipe in hindi | स्टेप बाय स्टेप फोटो और वीडियो के साथ।
पपीते के टुकड़ों को एक बोतल पानी मे इन्फ्यूज़ करना है, सुनने में बहुत ही सरल लगता है ना? लेकिन यह आपके शरीर के लिए बहुत स्थास्थ्यकारक है। जब भी आप थकान महसूस करें, तब थोडा- थोडा करके आप इसका सेवन करें और फिर देखिए कि आप कैसी ताज़गी महसूस करते हैं। चूंकि पपीता और नींबू आपकी त्वचा के लिए लाभदायक हैं यह लेमानी- पपीता का इन्फ्यूज़ वॉटर आपकी त्वचा में चार चाँद लगा देगा। बस, यह सुनिश्चित करें कि 2-3 घंटों के बाद नींबू की स्लाइस निकालकर फेंक दे ताकि पानी कडवा न हो जाए। फ्रूट इन्फ्यूज़र बोतल ऑनलाइन और सुपरमार्केट में बहुत आसानी से मिल जाती हैं। पर यदि आप के पास यह बोतल नहीं है, तो आप किसी बड़े ग्लास या पिचर का इस्तेमाल कर सकते हैं। पर ध्यान रहे कि उन्हें 2 से 3 घंटे पानी में रखने के बाद छानें। पपीते को निकालकर फेंक सकते हैं या फिर नींबू की ताज़ी स्लाइस डालकर और इन्फ्यूज़ पानी तैयार कर सकते हैं। पर ध्यान रहें कि इस पपीते का दो बार से ज्यादा उपयोग न करें।
आपमें में बहुत कम लोगो ने ककड़ी के प्रयोग से पेय बनाने के बारे में सोचा होगा! कॅल्शियम भरपुर लो-फॅट दही से बना यह पर्याप्त स्वादिष्ट पेय पुदिने के स्वाद से भरा है। ककड़ी और लो-फॅट दही साथ मिलकर मज़ेदार लो-फॅट कूलर बनाते हैं।
आप जानते हैं कि दस्त कितना खतरनाक हो सकता है। आप थके हुए होते हैं और आपको मालुम है कि आपको पेय पदार्थ का सेवन ज़्यादा से ज़्यादा करना है और आपका कुछ पीने का मन भी नही करता। यह एक ताज़ा पेय है जो आपको इस अवस्था से निकलने में मदद करेगा! लेमन पुदिना पानी, नींबू की खटास और ज़ीरा और पुदिना के चटपटे स्वाद के साथ, पुदोना इन सामग्री के चिकित्सक गुणों को भी खींच कर निकालता है, जिससे दस्त के किटाणु को मारने में मदद मिलती है। दस्त से आराम पाने के लिए इसका सेवन दिन में 3 बार करें और अपने शरीर के पानी की मात्रा को भी बनाए रखें।
सर्दी और खांसी के लिए शहद अदरक की चाय | खांसी के लिए अदरक शहद पियें | कोल्ड के लिए नींबू शहद अदरक पियें | honey ginger tea recipe in hindi language | with 11 amazing images. सर्दी और खांसी के लिए यह सुखदायक और सुगंधित सशहद अदरक की चाय सर्दी और खांसी के लिए एक अच्छा घरेलू उपाय है। अदरक को गर्म उबलते पानी में डाले और नींबू के रस और शहद के साथ मिलाकर पीने से भी काफी राहत मिलती है। खांसी के लिए जिंजर हनी पीने से शरीर के लिए एक विरोधी के रूप में कार्य करता है। नींबू का रस स्वाद के अलावा, विटामिन सी का एक स्पर्श जोड़ता है, जो सर्दी और खांसी के कारण बैक्टीरिया और वायरस से लड़ने के लिए आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करता है। नींबू में शहद अदरक पीने से सर्दी खांसी से राहत मिलती है और गले में खराश से राहत मिलती है। इसका मीठा स्वाद भी इस चाय को काफी भाता है। सर्दी और खांसी के लिए यह हनी अदरक की चाय एक आदर्श चाय है जब आप सुबह गले में खराश के साथ उठते हैं। तुलसी टी और मिन्टी हनी लेमन ड्रिंक जैसे अन्य पेय भी जरूर आज़माइए। नीचे दिया गया है सर्दी और खांसी के लिए शहद अदरक की चाय | खांसी के लिए अदरक शहद पियें | कोल्ड के लिए नींबू शहद अदरक पियें | honey ginger tea recipe in hindi language | स्टेप बाय स्टेप फोटो के साथ।
गाजर और लाल शिमला मिर्च इनसे बना यह ज्यूस दृष्टि के लिए बेहत अच्छा है। विटामिन c से भरपूर शिमला मिर्च आपकी रोग प्रतिरोध क्षमता बढ़ाता है और तनाव को भी कम करता है।
खरबुजा और संतरा का यह ज्यूस एक बेहत अच्छा मिश्रण है। खरबुजा, संतरे और गाजर से ज्यूस को बेहतरीन रंग मिलता है।
विटामिन a युक्त खरबुजा और पुदीने के पत्तों का संयोजन एक पौष्टिक ज्यूस बनाता है। यह ज्यूस एंटीऑक्सीडेंट और रोगक्षमता बढ़ाने में मदद करता है और साथ ही बच्चे और बड़े इसे पसंद करेंगे।

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन