This category has been viewed 27378 times
 Last Updated : Nov 05,2019


 विभिन्न व्यंजन > भारतीय व्यंजन > महाराष्ट्रीयन व्यंजन > महाराष्ट्रीयन भाजी रेसिपी

8 recipes

Maharashtrian Bhaji - Read In English
મહારાષ્ટ્રીયન ભાજી રેસિપિ - ગુજરાતી માં વાંચો (Maharashtrian Bhaji recipes in Gujarati)

 

महाराष्ट्रीयन भाजी (सब्ज़ी या वेजिटेबल), Maharashtrian Bhaji Recipes in Hindi 

भाजी के साथ रोटी एक हल्का और तृप्त भोजन बनाती है। महाराष्ट्रीयन लोगो के सब्जियों में मूंगफली, तिल और मालवाणी मसाला जैसे ताजा तैयार मसालों जैसे विशेष तत्वों के उपयोग के कारण एक अनूठा स्वाद और बनावट बनती है। इसी प्रकार आप पाएंगे कि महाराष्ट्रीयन व्यंजनों में कई प्रकार की सब्जियों जैसे की सूरन, अरबी के पत्ते और कटहल का उपयोग किया जाता है।

महाराष्ट्रीयन सूखी सब्ज़ी

एक अच्छा मसालेदार बेसन आधारित सब्ज़ी चाहते हैं तो झुनका कोशिश करें। एक और अच्छा और लोकप्रिय पौष्टिक सब्ज़ी मे से एक है मेथी पिठला । आप कोल्हापुर शहर की एक विशेषता, वेजिटेबल कोल्हापुरी सब्ज़ी को जरूर ही आजमाइए।

महाराष्ट्रीयन स्ट्रीट फूड वेजिटेबल

महाराष्ट्र में प्रसिद्ध स्ट्रीट फूड में मिसल पाव है जो छोटे शहरों और गांवों में भी उपलब्ध है। अन्य बहुत प्रसिद्ध स्ट्रीट फूड झुनका को ज्वार या चावल की भाकरी के साथ खाया जाता है।

महाराष्ट्रीयन ग्रेवी सब्जियां

हरा चना की रसेदार सब्ज़ी जिसमें मालवानी पेस्ट डालकर आप मालवानी चना मसाला बनाए। मिली-जुली सब्ज़ियों से बनाई गयी करी को वेजीटेबल कालवन भी कहते है।

महाराष्ट्रीयन वन डिश मील

एक पारंपरिक महाराष्ट्रियन व्यंजन जो मिले-जुले अंकुरित दानों का प्रयोग करके बनाया जाता है वो उसल है जो बहुत ही पौष्टिक होता है। मिसल जो अंकुरित दानोँ और फरसाण के संयोजन से बनता है पाव के साथ परोसकर सुबह के नाश्ते या रात के भोजन में जब आपका मन चाहे तब खा सकते हैं। इसी तरह झुनका जिसे ज्वार या चावल के भाकरी के साथ खाया जाता है।

हैप्पी पाक कला!

Enjoy our collection of Maharashtrian Bhaji Recipe in Hindi.

 

हमारे अन्य महाराष्ट्रीयन व्यंजनों का जरूर आजमाइए।

महाराष्ट्रीयन व्यंजन

महाराष्ट्रीयन भात (चावल) रेसिपी

महाराष्ट्रीयन ब्रेकफास्ट रेसिपी

महाराष्ट्रीयन चटनी / अचार

महाराष्ट्रीयन दाल, वरण, आमटी, कालवण

महाराष्ट्रीयन रोटी भाकरी व पोळीची रेसिपी

महाराष्ट्रीयन नाश्ते की रेसिपी

महाराष्ट्रीयन मिठाई रेसिपी

महाराष्ट्रीयन उपवास का व्यंजन


महाराष्ट्र के व्यंजनों में से सबसे प्रसिद्ध मिसल है, जो अंकुरित दानोँ और फरसाण के संयोजन से बनता है। स्वादिष्ट अंकुरित दानों को खट्टे टमाटर, तेज़ स्वादवाले प्याज़ और विशेष नारियल-प्याज़ वाले मिसल मसाले के साथ पकाया गया है। फिर फरसाण, बट ....
मेथी पिठला एक आसान से बनने वाले लेकिन बेहद स्वादिष्ट महाराष्ट्रियन व्यंजन है जिसे झटपट बनाया जा सकता है और आपके आहार को लौहतत्व, फोलिक एसिड और ज़िन्क से भरपुर बनाया जा सकता है। आपके प्रतिरक्षा के स्तर को संतुलित रखने के लिए ज़ीन्क लाभदायक होता है और साथ ही यह आपकी त्वचा में निखार लाने में मदद करता ह ....
इस व्यंजन के बारे में बहुत सी मज़ेदार बातें हैं। सबसे पहला है माल्वानी मसाला, जो बेहद खूशबुदार और स्वादिष्ट है क्योंकि इसमें सभी सामग्री को पीसने से पहले भुना गया है। उसके बाद, हरा चना है, जिसे ग्रेवी में डालने से पहले पकाकर ज़रुरत मात्रा तक क्रेश किया गया है। फिर आता है, टमाटर की जगह इमली का प्रयोग ....
भारत के पश्चिमी भाग मे खाने मे अक्सर नारीयल का प्रयोग किया जाता है। केरेला के रसोई से मिला यह मालाबारी करी इनमे से एक है। नारीयल दुध से बने अअधर मे सब्ज़ीयाँ डाली गयी है और नारीयल का प्रयोग मसाला पेस्ट बनाने के लिये भी किया गया है, साथ ही सब्ज़ीयों कौ नरमाहट इस व्यंजन मे उभर कर आती है।
लौह और प्रोटीन से भरपुर एक स्वादिष्ट सब्ज़ी, माठा ची भाजी एक पारंपरिक घर पर बनाने वाली सब्ज़ी है, क्योंकि अंकुरित दाने और चौलाई भाजी को आसान से तरीके से आम सानग्री के साथ मिलाया गया है, जिसमें स्वाद और पौष्टिक्ता बनी रहती है। यह एक ऐसा व्यंजन है जिसे इसके सादेपन, गुणवत्ता और यादगार स्वाद के कारण आप ....
एक महाराष्ट्रीयन व्यंजन जिसमें हल्का सा बदलाव लाया गया है ताकि उसकी पौष्टिकता बढाई जा सके। जहाँ पालक इस दाल में विटामिन `ए` की मात्रा बढा़ती है, वहाँ चना दाल इसमें कैल्शियम, फोलिक एसिड और फाइबर जैसे पोषकतत्वों की म ....
फूलगोभी के पत्ते खाने में करारे होते हैं और इनका स्वाद इस अनोखे पीट्ल में अच्छी तरह जजता है। आपके मेथी या सादे बेसन से बना पीट्ल बहुत बार बनाया होगा, लेकिन लौहततव भरपुर फूलगोभी के पत्ते इस व्यंजन में बेसन को लौह और विटामीन सी प्रदान करते हैं। यह कॉलिफ्लॉवर ग्रीन्स् पीट्ल आपके रक्त के बहाव को बढ़ाकर ....
मिले-जुले अंकुरित दानों का प्रयोग कर, एक पारंपरिक महाराष्ट्रियन व्यंजन को पौष्टिक बनाया गया है। अंकुरित करने से ना केवल प्रोटीन की मात्रा बढ़ती है लेकिन साथ ही इस व्यंजन को पचाने में आसान और कॅल्शियम से भरपुर बनाता है। जहाँ काफी विधी में कोकम का प्रयोग किया जाता है, खट्टापन प्रदान करने के लिए, हमने ....

Top Recipes

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन