This category has been viewed 12198 times
 Last Updated : Dec 04,2020


 कोर्स रेसिपी, भारतीय कोर्स रेसिपी, वेज मुख्य व्यंजनों > डिनर मेनू



Dinner Menus - Read In English
ડિનરમાં બનતી રેસિપિ મેન્યૂ - ગુજરાતી માં વાંચો (Dinner Menus recipes in Gujarati)

Top Recipes

मालवणी चना मसाला रेसिपी | महाराष्ट्रियन चना ग्रेवी | मालवानी हरा चना मसाला | मालवानी चना उसल | Malvani chana masala in Hindi. मालवणी चना मसाला एक प्रसिद्ध महाराष्ट्रीयन डिश है जिसे इसकी पूरी कीमत समझने के लिए अनुभव करना होगा! जानिए महाराष्ट्रियन चना ग्रेवी बनाने की विधि। मालवणी चना मसाला, उबला हुआ चना के साथ-साथ इमली का पल्प, ताजी मलाई और मसालों के साथ पका हुआ मसाला है। मालवणी चना मसाला बनाने के लिए सबसे पहले मालवणी का पेस्ट बनाएं। कश्मीरी मिर्च, जीरा, धनिया के बीज, लौंग, गाजर के बीज, इलायची, काली इलायची, खसखस, सितारा अनीस, दालचीनी और सूखे नारियल को एक नॉन-स्टिक पैन में मिलाएं और ३ मिनट तक सूखा भुन लें। हल्का ठंडा करने एक तरफ रख दें। मिक्सर में १/४ कप पानी के साथ पीसकर मूलायम पेस्ट बना लें। एक तरफ रखें। फिर १ कप हरा चना को मिक्सर में पीसकर दरदरा मिश्रण बनाकर एक तरफ रखें। कढ़ाई में तेल गरम करें, लहसुन का पेस्ट डालकर मध्यम आँच पर ३० सेकन्ड तक भुनें। माल्वानी मसाला पेस्ट डालकर मध्यम आँच पर और १ से २ मिनट तक भुनें। दरदरा पीसा हुआ हरा चना और साबूत हरा चना डालकर अच्छी तरह मिलायें और मध्यम आँच पर बीच-बीच में हिलाते हुए २ मिनट तक पकायें। इमली का पल्प, फ्रेश क्रीम, धनिया, नमक और शक्कर डालकर अच्छी तरह मिलायें और मध्यम आँच पर बीच-बीच में हिलाते हुए और २ से ३ मिनट तक पकाऐं। गरमा गरम परोसें। इस मालवानी हरा चना मसाला के बारे में बहुत सी मज़ेदार बातें हैं। सबसे पहला है माल्वानी मसाला, जो बेहद खूशबुदार और स्वादिष्ट है क्योंकि इसमें सभी सामग्री को पीसने से पहले भुना गया है। उसके बाद, हरा चना है, जिसे ग्रेवी में डालने से पहले पकाकर ज़रुरत मात्रा तक क्रेश किया गया है। फिर आता है, टमाटर की जगह इमली का प्रयोग, जो मसाले का असर कम किये बिना,स्वाद और खट्टापन प्रदान करता है। इन सबसे ऊपर यह महाराष्ट्रियन चना ग्रेवी को और अधिक दिलचस्प बनाता है, बहुत से खड़ा मसाला के साथ सूखे नारियल का प्रामाणिक पेस्ट है। इन मसालों में से प्रत्येक का सही अनुपात इस सब्ज़ी को एक शानदार स्वाद देने के लिए बहुत महत्वपूर्ण है जिसे रोटी, चपाती और पराठे जैसे अधिकांश भारतीय ब्रेड के साथ जोड़ा जा सकता है। इस मालवानी हरा चना मसाला में ताजी क्रीम का उपयोग बहुत पारंपरिक नहीं है, लेकिन यह एक मलाईदार बनावट प्राप्त करने में मदद करेगा और साथ ही स्पाइसिस को संतुलित करेगा। आप चना घासी और काबुली चना स्टिर- फ्राई जैसी अन्य चना रेसिपी भी ट्राई कर सकते हैं। मालवणी चना मसाला के लिए टिप्स 1. मालवणी शैली के हरे चना मसाला की भिन्नता के रूप में, आप हरे चने को काला चना से बदल सकते हैं, जिसे आमतौर पर भूरे रंग के मटर के रूप में भी जाना जाता है। 2. कश्मीरी मिर्च का उपयोग इस सब्ज़ी के चमकीले लाल रंग के लिए आवश्यक है। आनंद लें मालवणी चना मसाला रेसिपी | महाराष्ट्रियन चना ग्रेवी | मालवानी हरा चना मसाला | मालवानी चना उसल | Malvani chana masala in Hindi नीचे दिए गए स्टेप बाय स्टेप फ़ोटो और वीडियो के साथ।
थाई ग्रीन करी रेसपी | शाकाहारी थाई ग्रीन करी | Thai green curry recipe in hindi | with 23 amazing images. थाई ग्रीन करी, एक स्वादिष्ट हरी करी है जिसमें सब्ज़ी के टुकड़ों के साथ सुगंधित हर्बस् और मसालों के अलावा खट्टे नींबू का रस और स्वाद बढ़ाने के लिए प्याज़, अदरक और लहसुन जैसी सामग्री का उपयोग किया गया है। ज्यादातर थाई व्यंजन की तरह, इस नुस्खे में भी नारियल का दूध करी के स्वाद को संतुलित करके इसे मज़ेदार बनाता है। इस नुस्खे में उपयोग की हुई सब्जियाँ इस करी का रंग, बनावट और स्वाद का संतुलन बनाए रखते हैं। हालांकि, आप अपनी कोई भी पसंदीदा सब्जियों का उपयोग कर सकते हैं। अन्य थाई रेसिपी को भी आजमाईए जैसे थाई वेजिटेबल सूप और थाई ग्रीन राईस । नीचे दिया गया है थाई ग्रीन करी रेसपी | शाकाहारी थाई ग्रीन करी | Thai green curry recipe in hindi | स्टेप बाय स्टेप फोटो और वीडियो के साथ।
कड़ी को गुजराती पाकशैली से अलग नहीं किया जा सकता। देखा गया तो यह बेसन से गाढ़ा बनाए गए दही का एक मीठा और तीखा मिश्रण है, जिसे बहुत से तरीको से मज़ेदार बनाया जा सकता है और अन्य सामग्री मिलाई जा सकती है जैसे पकौड़े और कोफ्ते। इस आसान से व्यंजन को बनाने के लिए आपको विशिष्ट तकनीक अपनाना है, जिसके लिए अभ्यास की आवश्यक्ता है। याद रखें कि कड़ी को कभी भी तेज़ आँच पर ना उबाले, जिससे दही फट सकता है।
पालक चना रेसिपी | पालक छोले | चना पालक | पालक छोले सब्जी | chana palak in hindi | with 25 amazing images.
कद्दू का सूप रेसिपी | कद्दू गाजर का सूप | पौष्टिक कद्दू का सूप | pumpkin soup recipe in hindi language | with 16 amazing images. सोआ के बीज़ से बना है कद्दू का सूप आपके भोजन में जरूर ही चार चाँद लगा देगा। कद्दू और गाजर के संयोजन से तैयार होता यह सूप सुखद रूप से मीठा है और इसमें अधिक नमक की आवश्यकता नहीं है। इसके अलावा, कद्दू में सोडियम की मात्रा कम होती है, इसलिए यह सूप उच्च रक्तचाप वाले लोगों के लिए भी उपयुक्त है। इस स्वादिष्ट और पोषक तत्व से भरे कद्दू गाजर का सूप का मज़ा गरमा-गरम पीने में ही है। देखें कि यह एक पौष्टिक कद्दू का सूप क्यों है? लाल कद्दू या लाल भोपला एक अत्यंत पौष्टिक सब्जी है। यह न केवल कई विटामिनों में समृद्ध है, बल्कि एंटी-ऑक्सीडेंट में भी उच्च है। कददू में कम कैलोरी, वसा और कार्ब प्रतिशत वजन घटाने के प्रबंधन में मदद करता है। यह एक सुपर-फ़ूड है जिसे किसी को अपने आहार में निगमित करना चाहिए।
वजन घटाने के लिए पुदीने का रायता की रेसिपी | पौष्टिक पुदीने का रायता | पुदीने का रायता कैसे बनाते हैं | पुदीने का रायता बनाने की रेसिपी | mint raita for weight loss in hindi | with 7 amazing images.
ताज़े स्वाद से भरा एक रंग-बिरंगा चावल से बना व्यंजन, यह थाई ग्रीन राईस में हरी चाय की पत्ती और पुदिना का तेज़ स्वाद भरा है। चूंकी इसमें सब्ज़ीयों को उबाला नहीं गया है, इसे झटपटज बनाया जा सकता है-जहाँ आपको चावल को पकाने के लिए बस थोड़ा समय चाहिए और देखते ही देखते आपके टेबल पर एक स्वादिष्ट खाना तैयार है!
ज़िन्क, कॅल्शियम और प्रोटीन से भरपुर, रोटी और दही के साथ, यह बेहद स्वादिष्ट स्पाईसी रेड चना सब्ज़ी एक संपूर्ण और स्वादिष्ट आहार बनाता है। इस व्यंजन में टमाटर, प्याज़ और अन्य मसालों के साथ मशहुर पाव भाजी मसाले का प्रयोग किया गया है, जो एक चटपटा स्वाद प्रदान करता है जिसका स्वाद आपको हमेशा याद रहेगा।
सैंडविच चटनी रेसिपी | तीखी चटपटी बाजार जैसी सैंडविच चटनी | सैंडविच वाली टेस्टी हरी चटनी | सैंडविच की ग्रीन चटनी | green chutney in hindi.
रवा ढोकला की रेसिपी | सूजी ढोकला | झटपट रवा ढोकला | rava dhokla recipe in hindi | with 15 amazing images. इस रवा ढोकला | को बनाने के लिए पीसने या फर्मेटिंग की जरूरत नहीं पडती, फिर भी यह अच्छे से फूलकर बहुत ही स्वादिष्ट तैयार होते हैं। आप झटपट रवा ढोकला सुबह या शाम के नाश्ते में परोस सकते हैं। आपको केवल सभी सामग्री को एक बाउल में मिलाना है और फिर उसे आधे घंटे के लिए एक तरफ रखने के बाद स्टीमर में पकाना है। इसके अलावा इस रवा ढोकला की खासियत है उसका तड़का, जो ढोकला को शानदार सुगंध और विशिष्ट स्वाद प्रदान करता है। मैं सही सूजी ढोकला बनाने के लिए कुछ महत्वपूर्ण सुझाव साझा करना चाहूंगा। 1. सूजी ढोकला (सूजी ढोकला) को भाप देने से ठीक पहले, फ्रूट सॉल्ट और २ टीस्पून पानी डालें। इसे सख्ती से न मिलाएं, धीरे से मिक्स करें, ताकि हवा के बुलबुले ना रहें। फ्रूट सॉल्ट एक स्पंजी, फुज्जीदार बनावट प्रदान करता है। 2. रवा ढोकला के | सूजी ढोकला | झटपट रवा ढोकला | बिना खमीर रवा ढोकला | rava dhokla in hindi | घोल को तुरंत १७५ मि। मी। (७") व्यास की चुपडी हुई थाली में डालकर, थाली को गोल घुमाते हुए घोल को अच्छी तरह फैला लीजिए। फ्रूट सॉल्ट को जोड़ने के बाद याद रखें, इसे तुरंत थाली में डालें और लंबे समय तक घोल को एसेही न रहने दें। आमरस, पुरी और करेले आलू की सब्ज़ी के साथ यह ढोकला अक्सर परोसा जाता है। पर उसके साथ रवा ढोकला हरी चटनी परोसना न भूलें। नीचे दिया गया है रवा ढोकला की रेसिपी | सूजी ढोकला | झटपट रवा ढोकला | rava dhokla recipe in hindi | स्टेप बाय स्टेप फोटो और वीडियो के साथ।

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन