This category has been viewed 1620 times
 Last Updated : Dec 13,2019


 विभिन्न व्यंजन > भारतीय व्यंजन > गुजराती व्यंजन > गुजराती ब्रेकफास्ट रेसिपी

20 recipes

Gujarati Breakfast - Read In English
ગુજરાતી સવારના નાસ્તાની રેસીપી - ગુજરાતી માં વાંચો (Gujarati Breakfast recipes in Gujarati)

गुजराती ब्रेकफास्ट रेसिपी,  Gujarati Breakfast Recipe in Hindi 

 


सुबह नाश्ते में ढोकला खाने का मन है? आप इन्हे पोहे का प्रयोग कर झटपट बनाये जहाँ पोहे को ना भिगोना है और ना आपको खमीर आने का इंतज़ार करना है। यह ढोकला आपके डब्बे के लिए भी एक विक्लप है। इसे ग्रीन चटनी के साथ परोसिए।
इस रवा ढोकला को बनाने के लिए पीसने या फर्मेटिंग की जरूरत नहीं पडती, फिर भी यह अच्छे से फूलकर बहुत ही स्वादिष्ट तैयार होते हैं। आप इन्हें सुबह या
आमतौर पर मै इस मसाला खाखरा को बडी मात्रा में बनाकर हवा-बंद डिब्बे में भरकर रख देती हूँ ताकि कभी भी भूख लगने पर इसका मज़ा लिया जा सके। ये बहुत दिनों तक ताज़ा रहते हैं और यह आप के लिए और आपके परिवार के लिए एक आदर्श कम कौलोरी नाश्ता है। थोडी सी अपनी कल्पना और कोशिश के साथ आप इन्हें विविध प्रकार के आ ....
इन तीखी पुरी को खाने के समय या शाम की चाय के साथ भी परोसा जा सकता है। विकल्प के रुप में, आप इनमें काँटे से छेद कर और मध्यम आँच पर तलकर करारी पुरी भी बना सकते हैं और इन्हें अपने बच्चों के लिए संग्रह कर सकते हैं, जिससे खाने के बीच भूख लगने पर वह इन्हे खा सके! इसके अलावा, आप पुरी को तलने के बजाय बेक भी ....
अमिरी खमन और कुछ नहीं लेकिन एक तीखा चटपटा चाय के साथ परोसने के लिए नाश्ता है, जिसे चूरे किये हुए खमन ढ़ोकले में लहसुन और अनार दाना और नारियल का तड़का लगाकर बनाया जाता है। हम यह भी कह सकते हैं कि इस व्यंजन का उत्पादन बचे हुए खमन ढ़ोकलो को प्रयोग करने के लिए किया गया होगा! सेव से सजाकर इस झटपट बनने वा ....
इस परंपरागत मूंग दाल ढ़ोकला की रेसिपी में भव्य स्वाद और खुश्बू दोनों ही है। इस नुस्खे में भिगोई और पीसी हुई मूंग दाल में बेसन, दही और फ्रूट साल्ट जैसी सामग्री मिलाई गई है, जो इसे एक आदर्श बनावट और स्वाद प्रदान करते हैं। और फिर अंत में उपर से तडका डालकर हरी चटनी के साथ परोसा गया है। यह
विशिष्ट रुप से भाखरी एक बिस्कुट जैसा ब्रेड है जिसमें घी और ज़ीरे का स्वाद होता है। अकसर दो तरह की भाखरी होती है- एक को बिस्कुट की तरह पकाया जाता है और दुसरे को फूलाकर घी के साथ परोसा जाता है। अगर आपको बाहर जाते समय भाखरी बनानी हो, इन्हें छोटा और करारा बनाऐं। किसी भी तरह से बनाने पर, भाखरी पकाते समय ....
स्टिम और लो कॅल ढोकला इन दिनों में हर जगह प्रसिध्द हो गया है। यह विशेष रूप से पौष्टिक और हल्का सुबह का नाश्ता है। इस में अंकुरित मुंग और पालक डालकर अलग रंग दिया है और साथ ही इसे पौष्टिक बनाया है।
बुज़र्गो का यह कहना है कि "बराबद ना करें वरना बचेगा नहीं"। देखा गया तो, अगर बचे हुई सामग्री का प्रयोग इस व्यंजन की तरह मज़ेदार होता, तब तो मज़ा ही आ जाए! भात ना पूडला एक मज़ेदार पॅनकेक है जिसे मसले हुए बचे हुए चावल से बनाकर करारा बनाया जाता है। धनिया, जिसका प्रयोग अकसर सजाने के लिए किया जाता है, इस ....
थेपले गुजराती खाने से कभी ना अलग होने वाला भाग है, जो रोज़ के खाने के लिए, बाहर जाते समय और पिकनिक के लिए भी पर्याप्त होते हैं! दही और छून्दा के साथ खाने पर, थेपले को गरमा गरम या ठंडा भी खाया जा सकता है। कभी-कभी थेपले के स्वाद को निहारने के लिए साबूत ज़ीरा या तिल भी मिलाए जाते हैं। आप इसमें मेथी और ....
अपने हथों में मसाला चाय के प्याले को पकड़कर, धीरे-धीरे इस सुगंधित और स्वादिष्ट पेय के घूंट लेना, अपने मित्र के साथ विशिष्ट समय बीताने जैसा है। जब आप अस्वस्थ हों, तब यह आराम पहुँचाता है और जब आप थके हुए हों, या ऊब गये हों तब यह आपको ताज़गी देता है। चाय मसाला, अदरक और अन्य सामग्री का सही अनुपा ....
इस नाम में खट्टा, इस ढ़ोकले का मुख्य स्वाद है, और इसका खट्टापन इसमे मिलाए खट्टे दही से आता है। हालांकि ढ़ोकले सामान्य तापमान पर भी स्वादिष्ट लगते हैं, एक मज़ेदार नाश्ते के लिए, इन्हें हरी चटनी और गरमा गरम चाय के साथ परोसें!
आह गर्मी का मौसम, अचार डालने का समय आ गया! इसलिए, इस मौके को छोड़े नही और अपने रसोई में इस चटपटे मेथीया केरी को ज़रुर बनाऐं। कच्ची कैरी और खास तैयार किये गए ताज़े बने मसाले से बना, यह एक ऐसा अचार है जो किसी भी खाने को मज़ेदार बना देता है। लेकिन, इस अचार को बनाते समय जल्दबाजी ना करें। प्रत्येक विधी क ....
सोया खमन ढ़ोकला इस पारंपरिक पसंदिदा का एक पौष्टिक विकल्प है, जहाँ सोया के आटे को बेसन के साथ मिलाकर घोल बनाया गया है। यह इस देसी नाश्ते के लौह की मात्रा को बढ़ा देता है। इस बात को याद रखें कि, किसी भी ढ़ोकले को अच्छी तरह बनाने के दो मूल बातें हैं- घोल का गाढ़ापन और तड़का, इसलिए इन दोनों चीज़ों पर ध् ....
अपने आप को ताज़ी, तली हुई गरमा गरम केसर से सजी जलेबी खाने से कौन रोक सकता है? आप सभी जलेबी पसंद करने वालों के लिए, यहाँ एक झट-पट और आसान सा विकल्प दिया गया है, जिसे बिना लंबे समय तक खमीर आने का इंतज़ार किये बिना बनाया जा सकता है।

Top Recipes

Goto Page: 1 2 

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन