This category has been viewed 102474 times
 Last Updated : Oct 08,2019


 विभिन्न व्यंजन > भारतीय व्यंजन > दक्षिण भारतीय व्यंजन



South Indian - Read In English
દક્ષિણ ભારતીય વ્યંજન - ગુજરાતી માં વાંચો (South Indian recipes in Gujarati)

Top Recipes

Goto Page: 1 2 
पत्तागोभी से बनी हुई यह एक सूखी सब्ज़ी है। इसी तरह बीन्स्, गवार फल्ली, साबर बीन्स्, गाजर आदि जैसी सब्ज़ीयों को भी बनाया जा सकता है। पारंपरिक दक्षिण भारतीय खाने में इस प्रकार की एक सब्ज़ी को हमेशा परोसा जाता है।
एक ऐसा रसम जो कहसुन के गुणों से भरा हुआ है, यह पाचन के साथ-साथ स्वस्थ के लिए भी लाभदायक होता है। इस रसम को कम से कम 15 दिन में एक बार ज़रुर बनाऐं और इसके पौषण लाभ के साथ इसके स्वाद का मज़ा लें।
दक्षिण भारतीय अकसर भुनी हुई दाल को सब्ज़ीयों के साथ मिलाकर चटनी बनाते हैं, को इडली, डोसे, पुरी और लगभग किसी भी नाश्ते के साथ अच्छी लगती है। इन चटनी का पारंपरिक तरीके से मज़ा लेने के लिए, इन्हें गरमा गरम चावल के साथ परोसकर उपर तिल का तेल या घी डालें और भुने हुए उड़द दाल पापड़ के साथ परोसें। इस तरह तुरई की चटनी बनाने का यह एक अच्छा तरीका है। अपने आहार में तुरई शामिल करने का आपको यह तरीका अच्छा लगेगा और आप इसी तरह की चटनी को दुसरी सब्ज़ीयों से बनाकर ज़रुर देखना चाहेंगे।
यह एक सूखा व्यंजन है जिसे फण्सी, गवारफल्ली या केले के फूल और दाल से बनाया जाता है। यह अकसर मोर कोज़ाम्बू, रायता और भुने हुए या तले हुए अप्पलम (पापड़) के साथ बेहद जजता है।
एक तीखा और खट्टा चावल से बना व्यंजन जो दोनो बच्चों और बड़ो के लंच बॉक्स् के लिए पर्याप्त है! इसे पापड़ और कोकोनट पछड़ी के साथ परोसें।
वेल्लरी का मतलब होता है "ककड़ी", और जैसा इसका नाम बताता है, यह एक लाल रंग की करी है। लेकिन इसका लाल रंग विभिन्न मसालों के मेल की वजह से मिलता है और ना ही केवल भरपुर मात्रा में लाल मिर्च के कारण। इसलिए, इस व्यंजन के नाम से घबराये नहीं, और अपनी पसंद अनुसार इसके तीखेपन को कम-ज़्यादा करें।
अप्पम एक मशहुर केरेला का व्यंजन है जो दक्षिण भारतीय खाने को दर्शाता है। यह व्यंजन बनाने में बेहद आसान है, और मुश्किल से बनने वाले व्यंजन एक झटपट विकल्प है। चूंकी इसमें खमीर का प्रयोग किया गया है, पारंपिक तरह से पकए गए व्यंजन की तरह, इसमें खमीर लाने के लिए घोल को लंबे समय तक रखना ज़रुरी नहीं होता। इन अप्पम को हलके मीठे नरियल के दूध और वेजिटेबल कोरमा के साथ परोसकर एक पर्याप्त भोजन बनाऐं।
फ्रेंच बीन्स् इन कोकोनट करी ना सिर्फ स्वादिष्ट है लेकिन दिखने में भी बेहतरीन है। बीन्स् का गहरा हरा रंग सफेद ग्रेवी में बेहद अच्छी तरह से जजता है। इसमें डाली गई भुनी हुई मूंगफली इस व्यंजन को और भी खास बनाती है, क्योंकि मूंगफली बीन्स् के साथ बेहद अछ्छी तरह से जजती है और ग्रेवी को बेहद प्यारा करारापन प्रदान करती है।
अवियल एक ऐसा व्यंजन है जिसका उत्पादन केरेला में हुआ था, लेकिन यह तमिल नाडू में भी उतना ही मशहुर हो गया है। बहुत ही कम होता है कि शादि या त्यौहारों में अवियल ना बना हो! बेहतरीन अवियल बनाने का राज़ यह है कि इन दोनों बात पर ध्यान दिया जाए कि गाजर, फण्सी, कद्दू आदि जैसी सब्ज़ीयों के चटकीले रंग पर ध्यान देते हुए, इन्हें पतले 1" के लंबे टुकड़ों मे काटा जाये और साथ ही इन्हें करारा होने तक अच्छी तरह पकाया जाए। अगर आपने ऐसा किया है, आपका आधा कार्य अच्छी तरह हो गया है!
रतालू और केले से बनी ऐरीसेरी त्यौहारों के खाने का एक मुख्य भाग है, जिसे केरेला में मनाये जाने वाले सबसे बड़े त्यौहार- ओनम में परोसा जाता है। इसके अलावा, इस व्यंजन को कद्दू और लाल बीन्स् से भी बनाया जा सकता है।

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन