This category has been viewed 28514 times
 Last Updated : Jun 12,2019


 भारतीय स्वस्थ > पौष्टिक नाश्ता



Indian Healthy Veg Snack - Read In English
પૌષ્ટિક નાસ્તા - ગુજરાતી માં વાંચો (Indian Healthy Veg Snack recipes in Gujarati)

पौष्टिक नाश्ता रेसिपी, Healthy Snack Recipes in Hindi



Top Recipes

मशहुर पुदिना आलू को किसी भी परिचय की आवश्यक्ता नहीं है। एक बेहद मशहुर स्टार्टर, यह अपने बेहद शानदार स्वाद के लिए और उनमें भरपुर मात्रा में स्टार्च के लिए अच्छी तरह जाने जाते हैं। यहाँ, हमनें इस पसंदिदा व्यंजन में आलू की जगह फूलगोभी का प्रयोग कर बदला है। पुदिना गोभी उतना ही स्वादिष्ट स्टार्टर बनाता है, जो फूलगोभी से विटामीन सी और रेशांक और पुदिना के पेस्ट से विटामीन ए के गुणों से भरपुर है, वह भी बिना कॅलरी प्रदान किये।
अब समय आ गया है कि हम इस गलतफहमी ना रहें कि स्वादिष्ट पिज़्जा पौष्टिक नहीं होते! यह व्यंजन एक अंतराष्ट्रिय पसंदिदा व्यंजन को एक पौष्टिक नाश्ते में बदलता है, जहाँ बेस बनाने के लिए मैदा की जगह गेहूं के आटे का प्रयोग किया गया है और चीज़ की जगह अनोखा लो-फॅट क्रीम चीज़ का प्रयोग किया गया है। पिज़्जा सॉस के साथ करारी ब्रॉकली और शिमला मिर्च का टॉपिंग पिज़्जा के पारंपरिक स्वाद को बनाए रखता है और साथ ही कॅलरी और वसा की मात्रा कम रखता है। हाथों में आने वाला यह न्यूट्रिशियस मिनी पिज़्ज़ा कभि-कभी होने वाली पार्टीयों के लिए पर्याप्त है। यह लो कॅल नाश्ते स्वादिष्ट है और साथ ही बच्चों का पौष्टिक आहार है।
करारे खाने के बिना हमारी ज़िन्दगी कैसी होगी? हालांकि खाना पसंद करने वालों को यह अत्यावश्यक लगे, डॉक्टर अकसर इन्हें खाने से मना करते हैं, क्योंकि इनमें कॅलरी की मात्रा ज़्यादा होती है। लेकिन तब नहीं जब आपको लो-कॅल क्रिस्पीस् बनाने का मज़ेदार तरीका पता हो! यहां, काले तिल के साथ गेहूं के आटे और सोया के आटे से बने आटे को गोल आकार में काटकर अवन में करारा होने तक बेक किया गया है। सामग्री का बेहतरीन प्रयोग इन सोया एण्ड तिल क्रिस्पीस् को कॅल्शियम, फोलिक एसिड और रेशांक से भरपुर बनाते हैं और वहीं बेकिंग इन्हें कॅलरी में कम बनती है। उच्च रक्तचाप से पीड़ित इन करारे फिंगर फूड को कम से कम नमक या बिना नमक के भी बना सकते हैं, यह उतने ही स्वादिष्ट लगते हैं।
फल, दही और वैनिला एैसेन्स से तैयार होता यह स्मूदी आपका मन जरूर जीत लेगा। इसका आंनददायक स्वाद और अद्भुत बनावट निश्चित रूप से आपको भा जाएगा। असल में इस पपीते और हरे सेब की स्मूदी को चखने के बाद आप किसी भी अस्वस्थ नाश्ते की ओर नहीं देखना चाहेंगे। इस स्मूदी में रहे अच्छे वसा की मात्रा आपका पूरा दिन ऊर्जावान और सक्रिय रखने में पर्याप्त है। इसके अलावा फाईबर समृद्ध हरे सेब आपको लंबे समय तक तृप्त रखने में मदद रूप होते हैं।
कॅल्शियम और प्रोटीन भरपुर नाश्ता, खासतौर पर बच्चों के लिए। उनका पेट भरने के लिए एक ही सेन्डविच काफी है! यह दोनो आहार तत्व बढ़ती उम्र के लिए ज़रुरी हैं जिससे उनकी हड्डीयाँ मज़बूत रहती है। उन युवक के लिए, जिन्हें इस सेन्डविच का मज़ा लेना हो, वह आम वसा भरपुर मक्ख़न की जगह लो फॅट बटर का प्रयोग कर सकते हैं।
मीठा पसंद करने वालों के लिए खास व्यंजन, यह ओट्स एण्ड मिक्स्ड नट्स लड्डू ओट्स, गुड़ और मेवे के पौष्टिक मेल से बने हैं। आपको गुड़ का तेज़ स्वाद, ओट्स पाउडर का अनाज जैसा स्वाद और मेवों का करारापन ज़रुर पसंद आएगा। इसके साथ-साथ यह स्वादिष्ट लड्डू पौषणतत्व के मामले में 10/10 का दर्ज मिलता है, क्योंकि रेशांक भरपुर ओट्स कलेस्ट्रॉल कम करने में मदद करते हैं और वहीं गुड़ और तिल लौहतत्व की मात्रा बढ़ाते हैं। इस आसान से बनने वाले नाश्ते का सेवन ताज़ा ही करें वरना यह थोड़े सूखे हो जाते हैं।
कुछ लोगों को क्रैकर्स पसंद आते हैं और वहीँ कुछ लोगों को यह उतने ज़्यादा पसंद नहीं आते। लेकिन फिर भी, इस रागी एण्ड ओट्स क्रैकर्स विद कुकुम्बर डिप के लिए अलग-अलग राय नहीं है। इन हल्के और संपूर्ण क्रैकर्स को ताज़े दही से बने डिप के साथ परोसा गया है और एक शानदार खाने के बीच के लिए नाश्ता बनाया गया है। आप इन क्रैकर्स को बनाकर हवा बंद डब्बे में रख सकते हैं और किसी भी समय चाय के कप या अपनी पसंद के डिप के साथ इनका मज़ा ले सकते हैं। लेकिन, इन चटपटे पुदिने के स्वाद वाले कुकुम्बर डिप को परोसने से तुरंत पहले ही बनाऐं। यह कॅल्शियम से भरपुर और ऊर्जा प्रदान करने वाला नाश्ता मधुमेह से पीड़ीत के लिए भी पर्याप्त है।
हल्के फुल्के और कूरकुरे यह लोह युक्त क्रैकर्स सुबह के नाश्ते या शाम के नाश्ते के लिए एक उत्तम विकल्प है। यह रागी और ओटस् के क्रैकर्स बेहतर हैं क्योंकि यह पौष्टिक रागी, ओटस् और गेहूं के आटे के संयोजन के साथ-साथ जैतून के तेल और अन्य मसालों से तैयार किए गए हैँ। जैतून का तेल इन क्रैकर्स को शानदार सुगंध के साथ-साथ कूरकूरी बनावट भी प्रदान करता है।
झटपट बनने वाला, यह ज्वार उपमा एक पौष्टिक नाश्ता है जिसे आप सुबह के नाश्ते, खाने या दिन के किसी भी समय के लिए बना सकते हैं। रवा से बने पारंपरिक उपमा एक काफी पौष्टिक विकल्प, इस ज्वार उपमा को काफी मात्रा की सूजी को रेशांक और लौहतत्व भरपुर ज्वार के आटे से और हरे मटर से बदलकर बनाया गया है। हालांकि इसके रुप को अच्छा रखने के लिए कम मात्रा में सूजी का प्रयोग किया गया है। आप इसमें स्वाद, करारापन और पौषण तत्व प्रदान करने के लिए गाजर और टमाटर जैसी सब्ज़ीयाँ भी मिला सकते हैं। अन्य अनाज से बने व्यंजन की तरह, इस ज्वार उपमा को भी बनाकर तुरंत परोसना ज़रुरी है।
तवे में बने हुए एक मशहुर दक्षिण भारतीय नाश्ते को नया अवतार दिया गया है! हमनें यहाँ पारंपरिक तले हुए मसाला वड़ई में लौहतत्व और फोलिक एसिड भरपुर सुआ भाजी मिलाकर और तवे पर पकाकर इन्हें बदला है। इस स्वादिष् नाश्ते को चना दाल से बनाया गया है जो वजन कम करने वालों के लिए और मधुमेह रोगी के लिए भी बना है, क्योंकि इसका ग्लाईसमिक ईन्डेक्स् कम होता है। इसे गरमा गरम चाय और हेल्दी ग्रीन चटनी के साथ परोसकर मज़ा लें।

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन