This category has been viewed 10984 times
 Last Updated : Jun 08,2019


 कोर्स रेसिपी, भारतीय कोर्स रेसिपी, वेज मुख्य व्यंजनों > खाने के साथ परोसे जाने वाले रेसिपी > चटनी रेसिपी, भारतीय चटनी रेसिपी

29 recipes

Chutney - Read In English
ચટણી રેસિપિ, ભારતીય ચટણી રેસિપિ - ગુજરાતી માં વાંચો (Chutney recipes in Gujarati)


इस खट्टे और स्वादिष्ट चटनी को आप किसी भी फराली व्यंजन के साथ खा सकते हैं, फिर चाहे वह नाश्ता हो या मुख्य आहार!
भुने हुए कड़ी पत्ता, दालें और मसालों से बना यह पाउडर, इडली या डोसे जैसे सौम्य सुबह के नाश्ते को एक स्वादिष्ट व्यंजन में बदलते हैं! इसे तिल के तेल के साथ परोसें या इडली, डोसा या चाहें तो उपमा के साथ भी परोसें। इमली डालना ना भुलें, क्योंकि इस करीवेपिलई पोड़ी के स्वाद को और भी मज़ेदार बनाने के लिए हल्क ....
दक्षिण भारतीय थाली का पछड़ी एक बेहद महत्वपुर्ण भाग है, चाहे वह तमिलनाडू हो या आन्ध्र-प्रदेश या अन्य श्रेत्र! पछड़ी को चावल के साथ परोसा जा सकता है या किसी तीखे मिले-जुले चावल से बने व्यंजन के साथ जैसे इमली चावल आदि। देखा गया तो, पछड़ी के बिना किसी भी त्यौहार का खाना अधुरा होता है।
गर्मीयों का मौसम आते ही गुजराती कच्ची केरी से विभिन्न प्रकार के अचार बनाना शुरु कर देते हैं। यह भारत के समृद्ध श्रेत्र से एक मशहुर व्यंजन है। देखा गया तो, गर्मी में परोसे जाने वाला कोई भी नाश्ता इस चटनी के बिना अधुरा होता है। इसे आप थोक मे बनाकर 2-3 दिना के लिए फ्रिज में भी रख सकते हैं।
यह आसानी से बनने वाली चटनी किसी भी भरवां मिश्रण के स्वाद को निखार देती है।
बहुत से दक्षिण भारतीय व्यंजन की तरह, यह एक गरमा गरम और तीखी टमाटर और प्याज़ की चटनी है। इस चटनी से अपने खाने को मज़ेदार बनाऐं। इसे पीसकर दरदरा मिश्रण बना लें और इसके अनोखे स्वाद का मज़ा लें।
दही से बनी पछड़ी के लिए ककडी के डर्याप्त सामग्री है क्योंकि यह दही को गाढ़ा बनाने के साथ-साथ, ताज़े दही के साथ अच्छी तरह घुल जाता है। बहुत से दक्षिण भारतीत श्रेत्र में गरम मौसम के लिए, यह कुकुम्बर पछड़ी पर्याप्त व्यंजन है।
यह चाट से कभी ना अलग होने वाला भाग है! अगर आप नाश्ता परोस रहें हैं तो इसके साथ मीठी चटनी परोसना ज़रुरी है- जिससे नाश्ता पुरा होता है। वहीं यह अपने आप में ही बेहद स्वादिष्ट लगता है।
प्याज़, अदरक और लहसुन जैसे तीखे स्वाद वाली सामग्री जैसे की तरह, मूली का स्वाद काफी तेज़ होता है, लेकिन आश्चर्यजनक रुप से अकसर इसका प्रयोग चटनी बनाने के लिए नही किया जाता। यहाँ, मूली को स्वाद से भरे पुदिना और धनिया और खट्टे दही के साथ मिलाकर चटनी बनायी गई है, जो स्वाद, रंग और रुप से संपूर्ण रुप से सं ....
हमने यह बार-बार सुना है कि अलसी ओमेगा-3 फॅटी एसिडस के बेहतरीन स्रोत होते हैं और खासतौर पर शाकाहरी के लिए यह ज़रुरी होते हैं। लेकिन, हममें से बहुत इस सामग्री को रोज़ के खाने में प्रयोग करने के बारे में सोच में पड़ जाते हैं। जहाँ हम इसे मुखवास, रायता आदि जैसे व्यंजन में प्रयोग करते हैं, यहाँ हमने इस र ....
किसी भी प्रकार के स्टार्टर या फरसाण के साथ परोसने के लिए बेहतरीन व्यंजन, यह ग्रीन चटनी ऑक्सीकरण तत्वों से भरपुर है जो मुक्त रेडिकल से लड़ने में मदद करते हैं। छोला दाल पान्की या मूंग दाल ....
दक्षिण भारतीय अकसर भुनी हुई दाल को सब्ज़ीयों के साथ मिलाकर चटनी बनाते हैं, को इडली, डोसे, पुरी और लगभग किसी भी नाश्ते के साथ अच्छी लगती है। इन चटनी का पारंपरिक तरीके से मज़ा लेने के लिए, इन्हें गरमा गरम चावल के साथ परोसकर उपर तिल का तेल या घी डालें और भुने हुए उड़द दाल पापड़ के साथ परोसें। इस तरह तु ....
सुबह का नाश्ता हो, दोपहर का खाना या रात का खाना हो, एक या किसी प्रकार कि चटनी का परोसना ज़रुरी होता है- चाहे इसे इडली, डोसा या टिफिन व्यंजन के साथ हो या चावल से बने व्यंजन के साथ परोसा जाए। चूंकी दक्षिण भारत में नारियल आसानी से मिल जाता है, नारियल से बनी चटनी बहुत आम है।
चटनी पोड़ी का एक सौम्य विकल्प, इसे भी तिल के तेल में मिलाकर इडली, डोसे के साथ परोसा जाता है। इसके अलावा, अगर आप बाहर जाते समय, इडली या डोसा पैक कर ले जा रहे हैं, आप इस मलगा पोड़ी और तेल के मिश्रण को इडली और डोसे के उपर लगा सकते हैं, जिससे इसे खाने में आसानी हो, और साथ ही तेल की परत इडली और डोसे को ल ....

Top Recipes

Goto Page: 1 2 

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन