This category has been viewed 9100 times
 Last Updated : May 20,2019


  > भारतीय स्वस्थ



Healthy Recipes - Read In English
સંપૂર્ણ આરોગ્યદાયક વ્યંજન - ગુજરાતી માં વાંચો (Healthy Recipes in Gujarati)


Top Recipes

Goto Page: 1 2 3 4 5 
अकसर रोज़ के खाने में, पालक को पनीर या आलू के साथ मिलाया जाता है। इस आसानी से बनने वाली सब्ज़ी में, इसके पौषणतत्व को और भी बढ़ाने के लिए, पालक को अंकुरित मटकी के साथ मिलाया गया है। अंकुरित करने से मोठ के लौहतत्व और विटामीन ए की मात्रा बढ़ जाती है, वहीं इस अनोखे व्यंजन में, पालक लौहतत्व, फोलिक एसिड और विटामीन सी प्रदान करता है। रोज़ प्रयोग होने वाले मसालों से बना एक खास मसाला पेस्ट इस स्पिनॅच एण्ड मोठ बीन्स् करी को और भी ज़्यादा स्वादिष्ट बनाता है।
मिले-जुले अंकुरित दानों का प्रयोग कर, एक पारंपरिक महाराष्ट्रियन व्यंजन को पौष्टिक बनाया गया है। अंकुरित करने से ना केवल प्रोटीन की मात्रा बढ़ती है लेकिन साथ ही इस व्यंजन को पचाने में आसान और कॅल्शियम से भरपुर बनाता है। जहाँ काफी विधी में कोकम का प्रयोग किया जाता है, खट्टापन प्रदान करने के लिए, हमने यहाँ टमाटर का प्रयोग किया है जिससे इस व्यंजन को कोई भी आसानी से बना सकता है, यहाँ तक कि ऐसे क्षेत्रों में जहाँ कोकम आसानी से नहीं मिलता।
मैं मानती हूँ कि यह एक बहुत ही रंग-बिरंगा सूप है और शुरुआत में आपके शिशु के बीप में बहुत से दाग लगने वाले हैं। गाजर विटामीन ए प्रदान करता है जो आपके बच्चे की तवचा के लिए अच्छा होता है और चकुंदर मीठास, रंग और रेशांक प्रदान करता है। इस बात का ध्यान रखें कि आपने यह सुनिश्चित किया है कि आपके बच्चे को इनमें से किसी भी सब्ज़ी से एलर्जी नहीं है।
ग्रीन पीस् पॅनकेक का शानदार रंग और यह स्वादिष्ट होता है, जो इन्हें मना करने के लिए मुश्किल बनाता है। और क्या चाहिए, यह पौष्टिक नाश्ता फोलिक एसिड और रेशांक से भरपुर है, और घोल में अपनी पसंद सब्ज़ीयों को मिलाने से आप इसकी पौष्टिक्ता को और भी बढ़ा सकते हैं। आपको इस मशहुर दक्षिण भारतीय उत्पप्पा का अनोखा रुप ज़रुर पसंद आएगा!
यह दाल और अनाज का क बेहतरीन मेल है जो आपके बच्चे के लिए तब उपयुक्त होता है जब वह दूध छुड़ाने के 1-2 हफते बाद वह चावल खाना सीख जाता है। यह आपके शिशु के आहार में ज़्यादा विभिन्नता लाने के साथ-साथ स्वास्थ्य के लिए भरपुर मात्रा में प्रोटीन भी प्रदान करता है।
यह स्वादिष्ट भारतीय तरह का मकई का सूप सबको ज़रुर पसंद आयेगा, जो संपूर्ण स्वास्थ के लिए आपको विटामीन बी3 (नायासिन) प्रदान करता है। मकई शोरबा को गेहूं के बनी गार्लिक ब्रेड के साथ परोसकर संपूर्ण पौष्टिक आहार बनाऐं।
पत्तागोभी से बनी हुई यह एक सूखी सब्ज़ी है। इसी तरह बीन्स्, गवार फल्ली, साबर बीन्स्, गाजर आदि जैसी सब्ज़ीयों को भी बनाया जा सकता है। पारंपरिक दक्षिण भारतीय खाने में इस प्रकार की एक सब्ज़ी को हमेशा परोसा जाता है।
विपरीततया, पारंपरिक सब्ज़ीयों को आदुनिक तरीकों से बनाया जा सकता है। लेकिन, कभी-कभी पुराने पसंदिदा तरीके हमेशा सबका पहला चुनाव होते हैं! समय इस गवारफल्ली की सब्ज़ी की ना ही खुशबु और ना ही स्वाद को धुंधला कर सकती है…यह एक आसानी से बनने वाली सब्ज़ी है, जहाँ गवारफल्ली को दही आधारित करी में पकाया गया है। इसे एक बार बनाने के बाद, यह रेशांक और फोलिक एसिड से भरपुर सब्ज़ी आपके खाने का भाग ज़रुर बना जाएगी।
आलस से भरे ठंड के दिनों में आपको तरो ताज़ा करने के लिए पर्याप्त व्यंजन! मसाला चवली स्वाद और बेहतरीन खुशबु से भरपुर व्यंजन है! जहाँ टमाटर का पल्प और कसुरी मेथी पकी हुई चवली को बेहतरीन स्वाद प्रदान करते हैं, खुशबुसार पुदिने का पेस्ट इस व्यंजन को एक शानदार रुप प्रदान करता है, जिसे खाते ही आपके मुँह का स्वाद मज़ेदार हो जाएगा और आप अपनी ऊँगलीयाँ चाटते रह जाऐंगे।
खाने में नमक करना बहुत आसान है। आपको केवल खाने में अन्य स्वादिष्ट और खुशबुदार सामग्री का प्रयोग करना है और आपको नमक ना होने का अहसास नही होगा। ना केवल यह, साय़ ही आपको यह समझ आएगा कि लो-सोडियम आहार का मतलबा केवल नमक करना नही होता, लेकिन साथ ही आपको अन्य उच्च सोडियम वाले सामग्री का सेवन का भी कम करना चाहिए। यह देखते हुए, यह कॅरट एण्ड बेल पेपर सूप एक बेहतरीन चुनाव है, जिसे पुरी तरह से पौष्टिक, लो-सोडियम सामग्री जैसे गाजर, शिमला मिर्च और टमाटर से बनाया गया है। जहाँ टमाटर हल्का खट्टापन प्रदान करते हैं और गाजर सूप को गाढ़ा बनता है, हर्ब और शिमला मिर्च इसमें स्वाद प्रदान करते हैं। इस चटपटे लो-सोडियम सूप का मज़ा लें और रक्तचाप को संतुलित रखें।

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन