This category has been viewed 54036 times
 Last Updated : Jul 22,2020


 कोर्स रेसिपी, भारतीय कोर्स रेसिपी, वेज मुख्य व्यंजनों > मेन कोर्स वेज > चावल के व्यंजन



Indian Rice - Read In English
ચોખાની વાનગીઓ - ગુજરાતી માં વાંચો (Indian Rice recipes in Gujarati)

चावल के रेसिपी : rice recipes in hindi |

Try Our Other Rice Based Recipes…
११ बिरयानी रेसिपी : Biryanis recipe in Hindi
२० खिचडी़ रेसिपी : Khichdi recipe in Hindi
लो कॅल चावल के रेसिपी : Low Calorie Rice Recipes in Hindi
१३ पुलाव रेसिपी : Pulao Recipes in Hindi
१४ झट-पट चावल के रेसिपी : Quick Rice Recipes in Hindi
२७ पारंपारिक चावल के रेसिपी : Traditional Rice Recipes in Hindi
अंतर्राष्ट्रिय चावल के रेसिपी : International Rice Delicacies recipe in Hindi
जैन चावल रेसिपी : Jain Rice recipe in Hindi
सोया आधारित चावल के रेसिपी : Soya Based Rice Recipes in Hindi
Happy Cooking!

 


Top Recipes

मकई नी खिचड़ी एक बेहद स्वादिष्ट व्यंजन है जिसे नरम मकई से बनाया गया है। बिना किसी शंका के मकई अपने आप में ही बेहद स्वादिष्ट सामग्री है! लेकिन, मसालों का सोचा-समझा चुनाव मकई के साथ मिलकर इस व्यंजन को और भी स्वादिष्ट बनाता है, जिसे आप नाश्ते के रुप में या रात में खाने में सब्ज़ी के साथ परोसा जा सकता है। इस व्यंजन की सबसे खास बात यह है कि इसमें शक्कर, नींबू का रस और नमक जैसे ज़रुरी सामग्री का संतुलित मेल है- इसलिए इस बात पर बहुत ध्यान दें।
गुजरात के काठीयावाड़ी श्रेत्र से एक आसानी से बनने वाली खिचड़ी! दाल, चावल और भरपुर मात्रा में सब्ज़ीयों का एक पर्याप्त मेल और स्वाद और रुप के मज़ेदार मेल इस खिचड़ी को पौष्टिक और संपूर्ण बनाता है। इस तीखे व्यंजन का मज़ा लो-फॅट दही के साथ या कड़ी और पापड़ के साथ लें।
तुवर दाल नी खिचड़ी रेसिपी | अरहर की दाल की खिचड़ी | गुजराती दाल चावल की खिचड़ी | toovar dal khichdi in hindi | with 13 amazing images. तोर दाल और चावल एक घी के साथ मसालेदार तड़का तुवर दाल नी खिचड़ीतुवर दाल नी खिचड़ी रेसिपी के लिए कुछ महत्वपूर्ण सुझाव साझा करना चाहूंगा. 1. हमने नियमित रूप से सुरती चावल का उपयोग किया है, आप चाहें तो बासमती चावल का भी उपयोग कर सकते हैं। 2. टोअर दाल और चावल को कम से कम 30 मिनट के लिए भिगोएँ। भिगोने से अरहर की दाल की खिचड़ी को जल्दी पकाने में मदद मिलेगी। 3. ३ १/२ कप गरम पानी डालें। गरम पानी खाना पकाने की प्रक्रिया को तेज करता है। इस खिचड़ी की स्थिरता पतली नहीं होगी। यदि आप पतली स्थिरता चाहते हैं, तो थोड़ा अधिक पानी जोड़ें। 4. ४ सीटी के लिए प्रेशर कुक करें। ढक्कन खोलने से पहले भाप को नीकल ने दें अन्यथा आप गरम भाप से खुद को जला सकते हैं। एक बार प्रेशर कुकर से भाप नीकल जाए और पूरी तरह से ठंडा हो जाए, उसके बाद ही ढक्कन खोलें क्योंकि तुवर दाल नी खिचड़ी अभी भी पक रही होगी और दाने कच्चे हो सकते हैं यदि आप इसे समय से पहले खोल देते हैं तो चावल कच्चे रह सकते है। तुवर दाल नी खिचड़ी सादी खिचड़ी से बेहद अलग है, क्योंकि इसमें खुशबुदार मसालों का प्रयोग किया गया है। रसवाला बटेटा नू शाक और किसी भी तरह की कड़ी और रोटला के साथ तुवर दाल नी खिचड़ी परोसने पर, यह एक संपूर्ण और शानदार खाने को दर्शाता है। नीचे दिया गया है तुवर दाल नी खिचड़ी रेसिपी | अरहर की दाल की खिचड़ी | गुजराती दाल चावल की खिचड़ी | toovar dal khichdi in hindi | स्टेप बाय स्टेप फोटो और वीडियो के साथ।
चावल और अंकुरित वाल एक दुसरे के साथ बेहद स्वादिष्ट व्यंजन बनाते हैं! आप इस पुलाव को केवल लहसुन और लाल मिर्च के साथ भी बना सकते हैं। आपको जो भी बनाना हो, याद रखें कि इस व्यंजन की खास बात यह है कि इसे, घी में पकाए हुए अन्य चावल से बने व्यंजन के विपरित तेल में पकाया जाता है।
एक आसान से बनने वाला लेकिन स्वादिष्ट व्यंजन जब आपको काम में साथ ले जाने के लिए या रात में थकान होने पर, अपने परिवार के लिए झटपट बनाने के लिए एक ऐसा व्यंजन, जो झटपट सुबह के लिए पर्याप्त है। जहाँ गाजर और मूंग दाल को रंग, रुप और पौषणतत्व प्रदान करने के लिए और स्वाद प्रदान करने के लिए मसालों का प्रयोग किया गया है, यह आसानी से बनने वाला कॅरट एण्ड मूंग दाल पुलाव एक संपूर्ण खाना बनाता है। समय होने पर इसे टमाटर आधारित सब्ज़ी के साथ परोसें या जल्दी में होने पर, इसे दही के बाउल और ढ़ेर सारे प्यार के साथ परोसें।
मूंग दाल की खिचड़ी | गुजराती मूंग दाल की खिचड़ी | पीले मूंग दाल की खिचड़ी | मूंग दाल और चावल की खिचड़ी | moong dal khichdi recipe in hindi language | with 8 amazing images. पीली मूंग दाल और चावल को पिपरकॉर्न के साथ पकाया जाता है और घी के साथ पकाया जाता है | मूंग दाल की खिचड़ी एक हल्की और सेहतमंद भोजन है, जो कि समृद्ध बनावट के बावजूद घी और दाल इसे प्रदान करती है। आराम प्रदान करने वाला, मूंग दाल खिचड़ी एक बेहद मशहुर व्यंजन है। यह आपको ज़रुर आराम प्रदान करेगा और आपका मुड़ अच्छा ना होने पर भी आपको अच्छा महसुस करने में मदद करेगा, खासतौर पर जब आपको बुखार हो या आपको पेट में दर्द हो! कुछ महत्वपूर्ण बाते जो मैं आपके साथ गुजराती मूंग दाल की खिचड़ी पर साझा करना चाहता हूँ। 1. प्रेशर कुकर लें और उसमें दाल डालें। हमने मूंग दाल का इस्तेमाल किया है, लेकिन बहुत से लोग तोर दाल, हरी मूंग दाल या मसूर दाल का एक संयोजन का उपयोग करते हैं | 2. पौष्टिक मूल्य बढ़ाने के लिए, आप खिचड़ी में मटर, गाजर, बीन्स, प्याज जैसी सब्जियों को शामिल कर सकते हैं। 3. प्रेशर कुकिंग के दौरान थोड़ा अतिरिक्त पानी डालकर मूंग दाल और चावल की खिचड़ी को थोड़ा नरम बनाना सबसे अच्छा है। 4. जब पीले मूंग दाल की खिचड़ी पक रही है तो तेज आंच पर न पकाएं क्योंकि खिचड़ी प्रेशर कुकर के तल में अटक जाएगी और एक जले हुए स्वाद को दे देगी। इसलिए मध्यम आंच पर पकाएं। 5. आप पीले मूंग दाल की खिचड़ी स्वस्थ बनाने के लिए चावल को इस रेसिपी में टूटे हुए गेहूं (लापसी या डालिया) से बदल सकते हैं। कालीमिर्च और घी के स्वाद से भरपुर, पका हुआ दाल और चावल एक हल्का और पौष्टिक आहार बनाता है, बजाय इसके की घी और दाल इसे गाढ़ा बनाते हैं। बहुत से गुनजराती घरों में, शुक्रवार को खिचडी़ बनाई जाती है।
गुजराती मसाला भात | मसाला भात रेसिपी | खारी भात | Gujarati Masala Bhaat Recipe in Hindi | with amazing 23 images. गुजराती मसाला भात यह एक सौम्य और मध्यम तीखा चावल आधारित व्यंजन है जो ठंड या बारिश के दिनों के लिए पर्याप्त है! मसाला भात बेहद स्वदेशी व्यंजन है, जो सर्वगत वेजिटेबल पुलाव का गुजराती विकल्प है, जो बेहद स्वादिष्ट होता है और जिसकी बेहद मज़ेदार खुशबु होती है, क्योंकि चावल, सब्ज़ीयाँ और घी को साथ पकाया गया है। अपनी पसंद की किसी भी सब्ज़ी का प्रयोग कर सकते हैं। फिर भी, याद रखें कि बहुत ज्यादा ना मिलाऐं, जिससे चावल के दानें टुट सकते हैं। गुजराती मसाला भात पकाने के समय को कम करने के लिए गरम पानी का प्रयोग करें। नीचे दिया गया है गुजराती मसाला भात | मसाला भात रेसिपी | खारी भात | Gujarati Masala Bhaat Recipe in Hindi | स्टेप बाय स्टेप फोटो के साथ।
मिट्टी के बर्तन में सूरती वाल, बास्मति चावल और ताज़े हरे हर्बस् पके हुए…यह अनुभव बेहद शानदार होगा! लिल्वा या ताज़ा वाल केवल एक ही मौसम मे मिलते हैं, जो 3-4 महीनों के लिए होता है, इसलिए इसका प्रयोग जितना हो सके उतना करें। इस व्यंजन में प्रयोग होने वाला स्वादिष्ट हरा मसाला बेहद शानदार है, इसलिए अगर ताज़ा वाल ना मिलने पर आपको इसकी याद आए, तो चावल को फूलगोभी और हरे मटर के साथ बनाऐं। यह उतना ही स्वादिष्ट लगेगा।
वाष्पित पानी को संक्षिप्त कर दुबारा बर्तन में डालने का हान्डी एक बेहतरीन तरीका है, जिससे खाना कम से कम पानी में पक सकता है और कम से कम आहार तत्व उड़ते हैं। और क्या चाहिए, यह बर्तन पुरी तरह से मसालों की खुशबु और स्वाद को बनाए रखने मे मदद करता है। यह एक पारंपरिक हान्डी खिचड़ी है, जिसे चावल और भरपुर मात्रा में सब्ज़ीयों के साथ बनाया गया है। आपको यह इतना पसंद आएगा कि आप इस पारंपरिक व्यंजन को बार-बार बनाना चाहेंगे।
जल्दी से तैयार होने वाला, यह क्विक तवा राइस अपने आप में एक पूरा भोजन है, जिसमे है बहुत सारी ताज़ा और कुरकुरी सब्जियाँ, खट्टेपन और रुप प्रदान करने के लिए दही एवं टमाटर और हल्के तीखेपन के लिए है थोड़ी सी लाल कश्मीरी मिर्च। कसे हुए चीज़ की एक त्वरित सजावट इसे ओर भी लज़ीज़ बना देती है।

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन