This category has been viewed 25058 times
 Last Updated : Apr 15,2019


 भारतीय स्वस्थ > डायबिटिक रेसिपी, डायबिटिक भारतीय फूड



Diabetic recipes - Read In English
મધુમેહ માટેના સ્વાદિષ્ટ વ્યંજન - ગુજરાતી માં વાંચો (Diabetic recipes in Gujarati)

डायबिटिक रेसिपी ,  डायबिटिक  भारतीय फूड, Diabetic Recipes in Hindi

डायबिटिक  रेसिपी, डायबिटिक  भारतीय फूड , Indian Diabetic Recipes in Hind



Top Recipes

पुदिना और ज़ीरा पाउडर के स्वाद के साथ चना दाल और पत्तागोभी जैसे मधुमेह के लिए पर्याप्त सामग्री, यह शानदार टिक्की बनाते हैं! चना दाल एण्ड कैबॅज टिक्की का करारापन इसकी विशेषता है, लेकिन इसके रुप का मज़ा लेने के लिए इन्हें तवे से निकालकर गरमा गरम परोसें। कम से कम तेल से पकाए हुए, यह टिक्की खानें में हल्की लेकिन स्वादिष्ट लगते हैं और अगले खाने तक आपका पेट भरा रखेंगे।
आनन्ददायी राजस्थानी पाकशैली से प्रेरित, यह गेहूं की बिकानेरी खिचड़ी साबूत गेहूं से बनी खिचड़ी है को संपूर्ण खाना बनाने के लिए बेहद स्वादिष्ट और शानदार व्यंजन है। चावल को गेहूं से बदलने से इस व्यंजन की रेशांक और लौहतत्व की मात्रा को बढ़ाया गया है, और वहीं घी और तेल की समान मात्रा इसमें वसा कम करने के साथ-साथ पारंरपिक स्वाद प्रदान करते हैं। अगर आपको पुरी तरह से घी कम करना है तो इस व्यंजन में 2 टी-स्पून तेल का प्रयोग करें, खासतौर पर जब आपको उच्च केलस्ट्रॉल हो।
पत्तेदार सब्जियाँ विशेष रूप से मेथी, रक्तशर्करा को नियंत्रित करके मधूमेह के लिए फायदाकरक होती हैं। इतना ही नहीं मेथी किसी भी व्यंजन में एक अपना ही हल्का-सा कडवा स्वाद भी जोड देती है। यहाँ मेथी को गेंहू के आटे, ओटस्, तिल और अजवायन के साथ मिलाकर एक स्वस्थ नाश्ता तैयार किया है। इस रोटी में दही को स्वस्थ मेथी क्रिस्पी की बनावट बेहतर बनाने के लिए और हल्की सी खट्टास के लिए मिलाया गया है, जो मेथी की कड़वाहट को संतुलित करती है। इन्हें बनाकर हवा-बंद डिब्बे में भरकर रखिए और जब चाहें तब इसका आनंद लें।
यह व्यंजन वह है जो आपके घरों में ओट्स् को सबका पसंदिदा बना देगा! यहाँ, रेशांक भरपुर ओट्स् को पारंपरिक और स्वादभरे तड़के के साथ और गाजर और हरे मटर जैसी रंग-बिरंगी सब्ज़ीयों के साथ पकाया गया है जो स्वाद प्रदान करने के साथ-साथ इसके रुप को भी निहारते हैं। ओट्स् की कच्ची खुशबु निकलते तक अच्छी तरह ज़रुर भुन ले, जिससे ओट्स् उपमा चिपचिपा ना बने। यह ओट्स् उपमा काफी संपूर्ण है और सुबह के नाश्ते के लिए पर्याप्त भी क्योंकि यह दिपहर तक आपका पेट भरा रखेगा। रेशांक भरपुर होने के कारण, इस उपमा का सेवन मधुमेह से पीड़ीत भी कर सकते हैं, लेकिन उनके लिए शक्कर का प्रयोग ना करें।
हर रोज़ बनने वाली यह दूधी और चना दाल सब्ज़ी पौष्टिक्ता से भरपुर होती है। अगर आपने दाल पहले से भिगो रखी है, तो इस प्रोटीन और फोलिक एसिड से भरपुर, जिसका श्रेय चना दाल और लौकी को जाता है, इस सब्ज़ी को आसानी से और झटपट बनाया जा सकता है। सबसे अच्छी बात यह है कि यह बिना किसी झंझट के और मेहनत के बनने वाली सब्ज़ी है और इसमें प्रयोग होने वाली सभी सामग्री आपके घर पर आसानी से मिल जाती है।
करेले के बारे में सोचते ही सबसे पहले हमारे मन मे आता है उसका कड़वापन। लेकिन करेला मधुमेह से पीड़ीत के लिए बहुत ही लाभदायक होता है और आगर आपको इसका स्वाद पसंद आ जाए तो आप इसका भरपुर मज़ा ले सकते हैं। इस अनोखे करेले के थेपले में करेले के छिलके का प्रयोग किया गया है जिसे हम अकसर फेक देते हैं। छिलको को धोकर छोटे टुकड़ों में काटकर आटे में मिलाऐं।
एक चटपटा सलाद जिसे ज़ीरा और लाल मिर्च पाउडर से चटाकेदार बनाया है। इस तीखे कचूम्बर से मिलाने वाले दो मुख्य आहार तत्व हैं- विटामीन ए और सी।
यह एक पौष्टिक व्यंजन है, जो राजस्थान के विशेष जायके को प्रदर्शित करता है। यह चार दालों को मिलाकर पारंपरिक मसाले, अदरक और मिर्ची के तीखे स्वाद के साथ खट्टेपन के लिए एक बूंद निम्बू का रस डाल कर बनाई गई है। इस टेंगी ग्रीन मूंग दाल का आनंद ताज़ा गरमा गरम मसाला बाटी के साथ लिया जा सकता है या आप इसे रोटी या चावल के साथ भी परोस सकते हैं।
मीठा पसंद करने वालों के लिए खास व्यंजन, यह ओट्स एण्ड मिक्स्ड नट्स लड्डू ओट्स, गुड़ और मेवे के पौष्टिक मेल से बने हैं। आपको गुड़ का तेज़ स्वाद, ओट्स पाउडर का अनाज जैसा स्वाद और मेवों का करारापन ज़रुर पसंद आएगा। इसके साथ-साथ यह स्वादिष्ट लड्डू पौषणतत्व के मामले में 10/10 का दर्ज मिलता है, क्योंकि रेशांक भरपुर ओट्स कलेस्ट्रॉल कम करने में मदद करते हैं और वहीं गुड़ और तिल लौहतत्व की मात्रा बढ़ाते हैं। इस आसान से बनने वाले नाश्ते का सेवन ताज़ा ही करें वरना यह थोड़े सूखे हो जाते हैं।
यह एक पौष्टिक सूप है जो दिल के लिए वास्तव में चमत्कारी है। इस वन मील सूप में भरपूर मात्रा में मिलाई हुई सब्ज़ियाँ और मूंग दाल बहुत अच्छी मात्रा में फाइबर और प्रोटिन प्रदान करते हैं। यह सूप विटामिन सी का भी अच्छा स्त्रोत है, जो एक शक्तिशाली ऐंटीआक्सिडन्ट के रूप में रक्त वाहिकाओं की क्षति होने से बचाव करता है। यदि आप इस सूप में बताए अनुसार निर्धारित नमक की मात्रा मिलाएँ तो यह सूप उच्च रक्तदाब वाले लोगों के लिए निश्चय ही बढ़िया विकल्प है। जिन्हें उच्च रक्तदाब की बिमारी न हो वे थोडे से ज्य़ादा नमक का प्रयोग कर सकते हैं। आप कॅरट एण्ड बेल पेपर सूप भी आज़मा सकते हैं।

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन