This category has been viewed 1822 times
 Last Updated : Nov 16,2019


 भारतीय स्वस्थ > गर्भावस्था के लिए व्यंजन > गर्भावस्था के लिए तीसरे ट्राइमेस्टर के लिए

30 recipes

ત્રીજા ત્રિમાસિક ગર્ભાવસ્થા - ગુજરાતી માં વાંચો (Pregnancy Third Trimester Foods recipes in Gujarati)

गर्भावस्था के लिए तीसरे ट्राइमेस्टर के लिए रेसिपी, Healthy Pregnancy  Third Trimester Recipes in Hindi


ज्वार के स्वाद और पौषणतत्वों को हमेशा याद रखा जायेगा, लेकिन इस व्यंजन को बनाकर देखेने के बाद, यह आपको हमेशा याद रहेगा! स्वादभरे प्याज़, धनिया, हरी मिर्च के साथ ज्वार और मेथी का पर्याप्त मेल, इस ज्वार मेथी रोटी को आपके हिमोग्लोबिन की मात्रा बढ़ाने का स्वादिष्ट तरीका बनाता है।
मज़ेदार लौह भरपुर आपके लिए पेश है! एक पर्याप्त लो-कॅल मुख्य व्यंजन, यह ग्रीन टमॅटो सालसा विद वैजी रैप करारी सब्ज़ीयों से भरपुर है, जो ना केवल पौष्टिक होती है, साथ ही मज़ेदार और स्वादिष्ट भी। आटे में प्रयोग किये गए लौह भरपुर सोया का आटा और पार्सले इस स्वादिष्ट रैप को और भी लौहतत्व भरपुर बनाते हैं। सा ....
लहसुन के स्वाद से भरी खिचड़ी, जो आपको ज़रुर टेबल की ओर खींच लाएगी! रेशांक भरपुर ओट्स और प्रोटीन भरपुर मूंग दाल से बनी, यह लो-ग्लाईसमिक इन्डेक्स् वाला व्यंजन वजन के प्रति सचक के लिए पर्याप्त है। मज़े की बात यह है कि, इस आसानी से बनने वाली ओट्स खिचड़ी में लहसुन और हरी मिर्च जैसी कम से कम सामग्री का प् ....
पुरी किसे पसंद नहीं आती? जिन्हें पसंद हो और डॉक्टर उन्के आहर की सूची से ऐसे तले हुए नाश्ते को निकालने की सलाह दे, तो उनका दिल टूट जाता है। यहाँ एक मज़ेदार बेक्ड कूट्टू की पुरी जो स्वास्थ्यदायक रूप दिया गया है। हमने इस नुस्खे में कट्टू के आटे का प्रयोग किया है क्योंकि यह रक्तशर्करा और कोलेस्ट्रॅा ....
आराम प्रदान करने वाली खिचड़ी के बिना जीवन अधुरा सा लगता है! एक सबसे ज़्यादा आराम करने वाला आहार खिचड़ी पौषण के साथ-साथ पेट भरा रखने में भी मदद करती है। यहाँ इसे एक अनिखा रुप प्रदान किया गया है, हमने इस खिचड़ी को बनाने के लिए रेशांक भरपुर जौ का प्रयोग किया है। चावल का एक अच्छा विकल्प, जौ मूंग द ....
यह पालक मेथी मुठिया स्वाद, पौष्टिक्ता और बेहतरीन रुप को दर्शाते हैं। इन स्टीम किये हुए डम्पलिंगस् में, पालक और मेथी का स्वाद एक दुसरे के साथ बेहद अच्छी तरह जजते हैं, जिसकी खुशबु सरसों और तिल के तड़के के बाद और निखर जाती है। न्यूट्रिशियस ग्रीन चटनी के साथ परोसने से यह पालक मेथी मुठिया बेहद स्वादिष्ट ....
एक बेहतरीन स्वाद और गाढेपन के साथ बना सूप। यह सूप पालक और हरी प्याज़ के पत्ते के गुणों से भरपुर है, जिसमे साथ ही थोड़ा धनिया और पुदिना भी मिला हुआ है। इसमे मिलाया गया जायफल और काली मिर्च ना सिर्फ इसका स्वाद बेहतर बनाता है, साथ ही इनके उपचारात्मक गुण इस सूप को एक बेहतरीन हर्बल व्यंजन बनाता है।
पंडोली एक गुजराती नाश्ता है, जो बहुत ही अनोखे तरीके से डबल बॉयलर में पकाया जाता है। छोला दाल इस व्यंजन में
यह झटपट बननेवाला डोसे का मिश्रण में उर्जा, प्रोटिन और फाइबर की भरपूर मात्रा है। ओटस् में सोल्यूबल फाइबर 'बीटा ग्लूकन' की मात्रा अधिक होती है, ....
अधिकतर लोग नाचनी को एक पर्याप्त सामग्री मानते हैं, हालाँकि इसका उपयोग घरों में ज़्यादातर नहीं होता है। ना केवल बड़ों के लिए, लेकिन बढ़ते बच्चों के लिए भी बहुत से लोग नाचनी को पर्याप्त खाना मानते हैं। इसमें बहुत ही संतुलित मात्रा में पौषकतत्व होते हैं और उसका अच्छी तरह उपयोग करने पर यह बेहद स्वाद ....
ताज़े पनीर के साथ कटा हुआ हरा धनिया और हरी मिर्च को आटे में रोल करके हल्के से तेल में बनाया गया है। इसमें कोई शक नहीं की पनीर टिक्की एक लोकप्रिय नाश्ता है। सूखे मेवो के भरावन के साथ इसका यह रूप और भी ज्यादा लाजवाब बनाया गया है, जो मुलायम पनीर के साथ बहुत जमता है।
कद्दू एक आरोग्यदायक सब्ज़ी है, परंतु दुर्भाग्यवश इसके स्वास्थ्य लाभ कई लोग जानते नहीं है। कद्दू में फाइबर, फोलिक एसिड और विटामिन 'ए' जैसे बहुमूल्य पोषकतत्व हैं और साथ ही कैलरी की मात्रा भी कम होती है। यह मिलाकर इस सब्ज़ी को बहुत ही दिलचस्प बनाता है। आप जरूर ही इस शानदार कद्दू की सूखी सब्ज़ी के स् ....
मीठा, स्वादिष्ट और पौष्टिक भी- यह एक अनोखा मेल है, है ना? देखा गया तो, यह डेट एण्ड सेसमे पुरणपोली एक पारंपरिक व्यंजन है, जो खजूर और तिल से लौहतत्व से भरपुर है। यह अपने मेवेदार स्वाद और तिल की खुशबु से आपका दिल जीत लेगा, और यह इतना स्वादिष्ट है कि यह अपने आप में ही संपूर्ण खाना है। यह बेहद पौष्टिक मी ....
लोह युक्त मेथी के साथ विटामिन सी युक्त टमाटर लोह अवशोषण में मदद करते हैं। इसमें फाइबर की मात्रा बढ़ाने के लिए पॅालिश्ड सफेद चावल की बजाय अनपोलिश्ड ब्राउन चावल का उ ....
एक ऐसा रसम जो कहसुन के गुणों से भरा हुआ है, यह पाचन के साथ-साथ स्वस्थ के लिए भी लाभदायक होता है। इस रसम को कम से कम 15 दिन में एक बार ज़रुर बनाऐं और इसके पौषण लाभ के साथ इसके स्वाद का मज़ा लें।

Top Recipes

Goto Page: 1 2 

Categories

  • विभिन्न व्यंजन



  • कोर्स

  • बच्चों का आहार



  • संपूर्ण स्वास्थ्य व्यंजन

  • झट - पट व्यंजन